राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति का बड़ा खुलासा, भारत सरकार ने ही दिया था रिलायंस का नाम, 10 बातें     |       आतंकी धमकी से बेखौफ हैं घाटी के युवा, दस हजार ने दिया पुलिस में भर्ती के लिए आवेदन     |       पीएम नरेंद्र मोदी आज ओडिशा और छत्तीसगढ़ में कई परियोजनाएं शुरू करेंगे     |       Asia Cup: दुबई में चमके रोहित-जडेजा, भारत ने बांग्लादेश को 7 विकेट से हराया     |       अलीगढ़ का एनकाउंटर पूर्व नियोजित राजनीतिक कार्यक्रम : कांग्रेस     |       न्यूयॉर्क में मिलेंगे भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्री     |       SC-ST एक्ट के खिलाफ पटना में सड़कों पर उतरे सवर्ण, पुलिस ने भांजी लाठियां, कई घायल     |       'नन' के साथ रेप करने के आरोपी 'बिशप' को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |       इटली / ईशा अंबानी-आनंद पीरामल की सगाई पार्टी, 23 सितंबर तक चलेंगे कार्यक्रम     |       बिहार कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बने तो छलका कादरी का दर्द, बोले- झाड़ू भी लगा लूंगा     |       मनोहर पर्रिकर गोवा के मुख्यमंत्री बने रहेंगे     |       UGC का फरमान, 29 सितंबर को सभी यूनिवर्सिटी मनाएं 'सर्जिकल स्ट्राइक दिवस'     |       मक्का मस्जिद विस्फोट के जज BJP में शामिल होने के इच्छुक, बताया- एकमात्र देशभक्त पार्टी     |       रूस से रक्षा सौदा / अमेरिका ने चीन पर प्रतिबंध लगाया, कहा- मिसाइल सौदा हुआ तो भारत पर भी कार्रवाई संभव     |       बिहार : ताजिया जुलूस की तैयारी के बीच दो युवकों की हत्या, वैशाली में तनाव     |       राजस्थान : जसवंत सिंह के बेटे की रैली शनिवार को, बगावती तेवर से बीजेपी में बेचैनी     |       गोरखपुर में मोहर्रम जुलूस के दौरान विवाद, भीड़ ने फूंकी पुलिस जीप, दरोगा का सिर फटा     |       पढ़िए आखिर क्यों लंबित मामलों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा हम नरभक्षी टाइगर नहीं...     |       वारदात / बदमाशों ने बैंक के 2 गार्डों की सरिया और रॉड से पीट-पीटकर की हत्या, नहीं कर पाए लूट     |       चक्रवाती तूफान DAYE ने पार किया ओडिशा का तट, कई इलाकों में भारी बारिश     |      

गुड न्यूज


भारत आया था शुतुरमुर्ग

सीसीएमबी के वरिष्ठ प्रमुख वैज्ञानिक कुमारसामी थंगाराज ने कहा, हमने अपने प्राचीन डीएनए सुविधा केंद्र में शुतुरमुर्ग के अंडों के छिलकों का सफलतापूर्वक विश्लेषण किया


african-ostrich-come-to-india

मूल रूप से अफ्रीका में रहने वाला और उड़ान भरने में अयोग्य पक्षी शुतुरमुर्ग करीब 25 हजार साल पहले भारत आया था। कई भूविज्ञानियों और पुरातत्वविदों को भारत में, विशेषकर राजस्थान और मध्य प्रदेश में शुतुरमुर्ग के अंडों के छिलके मिले। यहां सेल्युलर और आणविक जीवविज्ञान केंद्र सीसीएमबी में हाल ही में अंडों के छिलकों के जीवाश्म का डीएनए अध्ययन किया गया। सीसीएमबी के वरिष्ठ प्रमुख वैज्ञानिक कुमारसामी थंगाराज ने कहा, हमने अपने प्राचीन डीएनए सुविधा केंद्र में शुतुरमुर्ग के अंडों के छिलकों का सफलतापूर्वक विश्लेषण किया और यह पता चला कि भारत में पाए गए अंडों के छिलके आनुवंशिक रूप से अफ्रीकी शुतुरमुर्ग की तरह हैं। थंगाराज ने कहा, शुतुरमुर्ग के अंडों के छिलकों का काल पता करने के लिए अपनाई गई कार्बन डेटिंग विधि से यह पता चला कि ये कम से कम 25,000 साल पुराने हैं। सीसीएमबी, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की और अन्य वैज्ञानिकों ने संयुक्त रूप से यह शोध किया है। यह शोध विज्ञान पत्रिका प्लोस वन  के 9 मार्च 2017 के अंक में प्रकाशित हुआ है।

advertisement

  • संबंधित खबरें