सावधानः निपाह की आशंका से दिल्ली-एनसीआर में भी अलर्ट, केरल से आने वाले केले धोकर खाएं     |       न्यूज टाइम इंडिया : बुधवार को कुमारास्वामी लेंगे सीएम पद की शपथ     |       शिवसेना अफजल खान का काम कर रही है: योगी     |       प्रेस रिव्यू: मानव ढाल बनाने वाले मेजर गोगोई से महिला को लेकर पूछताछ     |       वैष्णो देवी पर्वत पर लगी भीषण आग, यात्रा में जाने के सभी मार्ग बंद     |       महाराष्ट्र की 6 विधान परिषद की सीटों के नतीजे आज, उस्मानाबाद-बीड-लातूर सीट पर सबकी नज़र     |       तूतीकोरिन में धारा 144 लागू, प्लांट बंद होने से 32500 नौकरियों पर चली कुल्हाड़ी     |       पीएम मोदी ने कबूल किया विराट का फिटनेस चैलेंज, कहा- जल्द जारी करूंगा वीडियो     |       गीता से शादी के लिए देशभर से आए 26 प्रस्ताव, 15 युवकों में से चुनेगी हमसफर, सबसे करेगी मुलाकात     |       यूपी: पेंशन लेने के लिए मां की लाश को चार महीने तक घर में छिपाए रखा     |       उप्र लोकसेवा आयोग की पीसीएस 2017 मुख्य परीक्षा 18 जून से     |       पिथौरागढ़ जिले से आईएसआई का एक एजेंट गिरफ्तार     |       गंगा दशहरा आज: हिंदू ही नहीं मुसलमानों व सिखों की भी है गंगा में आस्था, गोता लगाते ही मिलेगी पापों से मुक्ति     |       बीजेपी के 13 और व‍िधायकों को धमकी, दाउद के गुर्गों का नाम सामने आया     |       पैरंट्स का 750 करोड़ है प्राइवेट स्कूलों की जेब में     |       मार्च तक सात महीने में 39 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन : ईपीएफओ आंकड़े     |       IPL 2018, KKR VS RR: जीत कर भी ये शर्मनाक रिकॉर्ड अपने नाम कर गई केकेआर     |       पीएम मोदी और नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रूट के बीच द्विपक्षीय बैठक आज, इन मामलों पर होगी बड़ी डील     |       मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में भर्ती हुए लालू, इलाज में जुटी सात डॉक्टरों की टीम     |       एसएससी पेपर लीक मामले में सीबीआई ने की कार्रवाई, पटना, जहानाबाद, पूर्णिया समेत देश के 12 शहरों में हुई छापेमारी     |      

राज्य


इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा- ठगने वाले बाबाओं पर अंकुश लगाए सरकार

इलाहाबादः उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद हाईकोर्ट ने केंद्र व राज्य सरकार दोनों से कहा है कि वह भोली-भाली जनता को ठगने वाले बनावटी बाबाओं पर अंकुश लगाए। इसके साथ ही अदालत ने ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य पद पर स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती व स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के चयन को वैध नहीं माना है और तीन महीनें के अंदर नए शंकराचार्य की नियुक्ति का आदेश दिया है।


allahabad-high-court-says-government-to-act-against-fake-babas

वहीं अदालत ने कहा है कि तीन महीने के अंदर बाकी तीन पीठों के शंकराचार्य मिलकर ज्योतिष पीठ के लिए योग्य शंकराचार्य का चयन करेंगे। यह आदेश न्यायमूर्ति सुधीर अग्रवाल और न्यायमूर्ति के.जे. ठाकुर की खंडपीठ ने स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती की अपील को आंशिक रूप से स्वीकार करते हुए दिया है। अदालत ने कहा कि ज्योतिष पीठ को लेकर दीवानी अदालत की स्थायी निषेधाज्ञा नई नियुक्ति तक बरकरार रहेगी। अदालत ने अखिल भारत धर्म महामंडल और काशी विद्वत परिषद के योग्य संन्यासी ब्राह्मणों को तीनों पीठों के शंकराचार्यों की मदद से नया शंकराचार्य घोषित करने का आदेश दिया है।
 

इलाहाबाद उच्च अदालत ने कहा कि जब तक नए शंकराचार्य की नियुक्ति नहीं हो जाती तब तक यथास्थिति कायम रखी जाए। इसके साथ ही कहा है कि शंकराचार्यों की नियुक्ति में 1941 की प्रक्रिया अपनाई जाए और अदालत ने कहा है कि आदि शंकराचार्य द्वारा घोषित चार पीठों को ही वैध पीठ माना जाएगा। इसके साथ ही अदालत ने स्वघोषित शंकराचार्यों को अवैध करार दिया है। अदालत ने केंद्र और राज्य सरकार से कहा है कि फर्जी शंकराचार्यों और मठाधीशों पर अंकुश लगे और इसके साथ ही मठों की संपत्ति का ऑडिट भी कराया जाए।

वहीं अदालत ने स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती को छत्र, चंवर, सिंहासन धारण करने पर निचली अदालत से लगी रोक को बरकरार रखा है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शंकराचार्य पद के मामले में फैसला सुनाते हुए कहा कि जब तक तीन महीने में चयन प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती है, तब तक स्वामी वासुदेवानंद शंकराचार्य के पद पर बने रहेंगे। धार्मिक संगठन मिलकर तीन महीने में ज्योतिष पीठ बद्रिकाश्रम के शंकराचार्य के पद पर नए नाम का चयन करें।

advertisement