क्या वायनाड और रायबरेली में हिंदुस्तान हार गया था: पीएम मोदी - आज तक     |       विधायक आकाश विजयवर्गीय गिरफ्तार, सरकारी अधिकारी को पीटा था | INDORE NEWS - bhopal Samachar     |       राज्यसभा/ मोदी ने कहा- झारखंड में मॉब लिंचिंग का दुख; चमकी बुखार सरकारों की सबसे बड़ी विफलताओं में से एक - Dainik Bhaskar     |       मिमी चक्रवर्ती के शपथ पर प्रशंसकों ने ऐसे मनाया जश्न, देखें वीडियो - आज तक     |       राम रहीम का खेती के नाम पर पैरोल की फसल काटने का दांव फेल! - आज तक     |       बालाकोट एयरस्ट्राइक की प्लानिंग करने वाले बने नए रॉ चीफ, कश्मीर एक्सपर्ट बने IB चीफ - Hindustan     |       इंग्लैंड का बिगड़ा गणित, वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में भिड़ सकते हैं भारत और पाकिस्तान - cricket world cup 2019 AajTak - आज तक     |       सरफराज का छलका दर्द, आलोचना करो लेकिन दुर्व्यवहार मत करो - Navbharat Times     |       ICC World Cup 2019 Point Table: इंग्लैंड पर लटकी बाहर होने की तलवार, ऐसे बदले समीकरण - Hindustan     |       वेस्टइंडीज के खिलाफ चला रोहित का बल्ला तो तोड़ देंगे यह विराट रिकॉर्ड - cricket world cup 2019 AajTak - आज तक     |       NRC List in Assam: असम में एनआरसी पर नई लिस्‍ट, एक लाख से ज्‍यादा लोग बाहर - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       एसयूवी ने फुटपाथ पर सो रहे चार बच्चों को रौंदा - दैनिक भास्कर     |       बजट से पहले पीएम मोदी ने बताया किन क्षेत्रों पर हो सरकार का फोकस - NDTV India     |       संसद/ जब लोग जनादेश का अपमान करते हैं, तो दुख होता है; क्या वायनाड में हिंदुस्तान हार गया: मोदी - दैनिक भास्कर     |       अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पिओ के साथ बैठक में एस-400 पर बोले एस जयशंकर- 'वही करेंगे जो देशहित में होगा' - NDTV India     |       ब्रिटेन/ महिलाओं ने कहा- बच्चे पैदा नहीं करेंगे, क्योंकि जलवायु परिवर्तन के कारण दुनिया रहने लायक नहीं रहेगी - Dainik Bhaskar     |       UN सुरक्षा परिषद में भारत को मिलेगी अस्थाई सदस्यता? चीन-पाकिस्तान भी समर्थन में - आज तक     |       पाकिस्तान की संसद में बैन हुए 'सिलेक्टेड प्राइम मिनिस्टर इमरान' - आज तक     |       शेयर बाजार/ सेंसेक्स 312 अंक की बढ़त के साथ 39435 पर, निफ्टी 97 प्वाइंट ऊपर 11796 पर बंद - Dainik Bhaskar     |       Gold Rate Today: सोने की कीमतों में आई भारी गिरावट, चांदी भी हुई काफी सस्‍ती - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       MG Hector SUV कल होगी लॉन्च, जानें डीटेल - Navbharat Times     |       TVS Ntorq 125 नए रंग और डिजाइन के साथ हुई लांच, कीमत है महज इतनी - Jansatta     |       Kabir Singh: Doctor files police complaint to stop the screening of this Shahid Kapoor Kiara Advani film - The Lallantop     |       अर्जुन-मलाइका ही नहीं ये 10 सेलिब्रिटीज भी कर रहे डेट, एक तो शादी की अफवाहों पर ही भड़क गया - अमर उजाला     |       अपनी ग्लैमरस तस्वीरों को लेकर सुर्खियों में रहने वालीं नीना गुप्ता ने कहा- मेरी हॉट फोटो पर आते हैं कमेंट्स - Hindustan     |       Sapna Choudhary Video: सपना चौधरी ने शेयर किया अपना वीडियो, लोगों ने तारीफ करने के बजाय कही ये बात - NDTV India     |       इस वर्ल्ड कप में पाकिस्तान हू-ब-हू दोहरा रहा है 1992 वर्ल्ड कप की चाल - Navbharat Times     |       भारत - वेस्टइंडीज मैच से पहले इस दिग्गज ने किया संन्यास का ऐलान, बताया कब लेंगे रिटायरमेंट ! - Cricketnmore हिंदी     |       World Cup: वेस्टइंडीज से मैच कल, 23 साल से नहीं हारा है भारत - News18 हिंदी     |       शमी की जगह भुवनेश्वर को टीम में देखना चाहते हैं सचिन तेंदुलकर - Wah Cricket     |      

विदेश


अमेरिका ने 20 आतंकी संगठनों की लिस्ट पाकिस्तान से की साझा

हालांकि व्हाइट हाउस की सूची में तीन तरह के आतंकवादी संगठन हैं। पहला वे जो अफगानिस्तान में हमला करते हैं, दूसरे वे जो पाकिस्तान को निशाना बना रहे हैं और तीसरे वे जो कश्मीर को निशाना बनाकर हमले कर रहे हैं।


america-share-twenty-terror-groups-list-with-pakistan

वाशिंगटनः पाकिस्तान और अफगानिस्तान में सक्रिय 20 आतंकवादी संगठनों की सूची व्हाइट हाउस ने तैयार की है। ऐसा माना जा रहा है कि व्हाइट हाउस द्वारा इस सूची को पाकिस्तान के साथ साझा किया गया है। गुरुवार को प्रकाशित एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। वहीं राजनयिक सूत्रों ने कहा है कि लेकिन यह सूची अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने पाकिस्तानी प्रशासन को नहीं सौंपी थी। बता दें कि टिलरसन ने पिछले सप्ताह ही इस्लामाबाद की यात्रा की थी।

सूची में तीन प्रमुख संगठनों के नाम शामिल
हालांकि व्हाइट हाउस की सूची में तीन तरह के आतंकवादी संगठन हैं। पहला वे जो अफगानिस्तान में हमला करते हैं, दूसरे वे जो पाकिस्तान को निशाना बना रहे हैं और तीसरे वे जो कश्मीर को निशाना बनाकर हमले कर रहे हैं। वहीं अमेरिका का दावा है कि इस सूची में हक्कानी नेटवर्क शीर्ष पर है, जो पाकिस्तान के संघीय प्रशासित जनजातीय क्षेत्रों में ठिकाना बनाए हुए है और इन ठिकानों से अफगानिस्तान पर हमले किए जाते हैं।

पाकिस्तान ने आतंकी ठिकाने होने से किया इनकार
पाकिस्तान इस तरह के आरोप से इनकार करता रहा है। उसका कहना है कि देश के भीतर आतंकवादियों के इस तरह के कोई सुरक्षित ठिकाने नहीं हैं। अमेरिका दक्षिण एशिया में लश्कर-ए-तैयबा को सबसे बड़ा और सर्वाधिक सक्रिय आतंकवादी संगठन मानता है। इस सूची में शामिल अन्य आतंकवादी संगठन हरकतुल मुजाहिदीन, जैश-ए-मोहम्मद, जुनदुल्लाह, लश्कर-ए-झांगवी और तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान हैं।

advertisement