सावधानः निपाह की आशंका से दिल्ली-एनसीआर में भी अलर्ट, केरल से आने वाले केले धोकर खाएं     |       न्यूज टाइम इंडिया : बुधवार को कुमारास्वामी लेंगे सीएम पद की शपथ     |       शिवसेना अफजल खान का काम कर रही है: योगी     |       वैष्णो देवी पर्वत पर लगी भीषण आग, यात्रा में जाने के सभी मार्ग बंद     |       प्रेस रिव्यू: मानव ढाल बनाने वाले मेजर गोगोई से महिला को लेकर पूछताछ     |       अमेरिकी बाजार की स्थिरता का असर भारतीय शेयर बाजार पर, हरे निशान के साथ खुले बाजार     |       तूतीकोरिन में धारा 144 लागू, प्लांट बंद होने से 32500 नौकरियों पर चली कुल्हाड़ी     |       पीएम मोदी ने कबूल किया विराट का फिटनेस चैलेंज, कहा- जल्द जारी करूंगा वीडियो     |       गीता से शादी के लिए देशभर से आए 26 प्रस्ताव, 15 युवकों में से चुनेगी हमसफर, सबसे करेगी मुलाकात     |       अश्लील सीडी मामले में छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल से पूछताछ     |       यूपी: पेंशन लेने के लिए मां की लाश को चार महीने तक घर में छिपाए रखा     |       बीजेपी के 13 और व‍िधायकों को धमकी, दाउद के गुर्गों का नाम सामने आया     |       अभिनेता जीतेंद्र मामले में स्टेटस रिपोर्ट पेश नहीं कर पाई पुलिस     |       मार्च तक सात महीने में 39 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन : ईपीएफओ आंकड़े     |       महज दो लीची के लिए छात्र की पीट-पीटकर हत्‍या, पुलिस ने आरोपियाें को किया गिरफ्तार     |       गंगा दशहरा 2018: जान तो लीजिए क्यों मनाते हैं यह पर्व     |       पैरंट्स का 750 करोड़ है प्राइवेट स्कूलों की जेब में     |       पीएम मोदी और नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रूट के बीच द्विपक्षीय बैठक आज, इन मामलों पर होगी बड़ी डील     |       IPL: KKR की जीत पर शाहरुख ने बाथरूम से किया ये ट्वीट     |       एसएससी पेपर लीक मामले में सीबीआई ने की कार्रवाई, पटना, जहानाबाद, पूर्णिया समेत देश के 12 शहरों में हुई छापेमारी     |      

राजनीति


शाह ने तोड़ी चुप्पी, बोले- जय पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद

अमित शाह ने कहा कि जय की कंपनी धन शोधन में संलिप्त नहीं है। यह कंपनी पूरी तरह से कमोडिटी व्यापार के क्षेत्र में है, जहां कारोबार ज्यादा होता है, जबकि लाभ कम होता है। हमलोग बाजरा, मक्का और चावल निर्यात करते हैं।


amit-shah-says-no-question-of-corruption-in-jay-company

अहमदाबादः बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अपने बेटे जय शाह की कंपनी के कारोबार में अचानक वृद्धि होने के मुद्दे पर चुप्पी तोड़ते हुए शुक्रवार को बेटे के विरुद्ध धन शोधन के आरोपों को खारिज कर दिया और कहा कि कंपनी ने सरकार के साथ कोई व्यापार नहीं किया और न ही कोई रिश्वत ली। उन्होंने कहा कि मेरे बेटे ने कांग्रेस की तरह नहीं बल्कि साहस दिखाते हुए अपने ऊपर आरोप लगाने वाले के खिलाफ सिविल और आपराधिक मानहानि का मुकदमा दर्ज किया और इस कदम से उसने अपने खिलाफ जांच करने का आमंत्रण दिया है।

अमित शाह ने कहा कि जय की कंपनी धन शोधन में संलिप्त नहीं है। यह कंपनी पूरी तरह से कमोडिटी व्यापार के क्षेत्र में है, जहां कारोबार ज्यादा होता है, जबकि लाभ कम होता है। हमलोग बाजरा, मक्का और चावल निर्यात करते हैं। 80 करोड़ रुपए के कारोबार के बाद उन्होंने यह नहीं बताया कि हमें कितना फायदा हुआ। उन्होंने कहा कि 80 करोड़ रुपए के कारोबार के बावजूद जय को 1.5 करोड़ रुपए का घाटा हुआ। इसमें धन शोधन कहां है। सभी वित्तीय लेन-देन चेक और बैंक के जरिए हुए हैं।

जय शाह द्वारा वेबसाइट के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज कराने पर पूछे गए प्रश्न पर शाह ने कहा किआपके प्रश्न का जवाब देने से पहले मैं आपसे एक बात पूछना चाहता हूं। आजादी के बाद, कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के कितने आरोप लगे?  बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि कृपया इसे समझें, यह भ्रष्टाचार नहीं है। कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे हैं। क्या उसने कभी भी सिविल या मानहानि का मुकदमा किया है? आज जय ने मानहानि का मुकदमा दर्ज किया है और अपने खिलाफ आरोपों की जांच की मांग कर रहा है। शाह ने कहा कि जिसके पास भी सबूत है, वे इसे अदालत में पेश करें और तब अदालत इसका फैसला करेगी।

उन्होंने कहा कि हमलोगों ने खुद ही जांच की मांग की है और कंपनी के मुद्दे पर मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि इसने सरकार के साथ कोई व्यापार नहीं किया है और न ही सरकार से एक रुपए, सरकारी जमीन या टेंडर लिए हैं। न ही कंपनी ने बोफोर्स जैसी कोई रिश्वत ली है। जब शाह से जय की कंपनी के असुरक्षित ऋण के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यह असुरक्षित ऋण नहीं था, बल्कि यह 'लाईन ऑफ क्रेडिट' था।

advertisement