ममता की बंगाल सरकार और चंद्र बाबू की आंध्र सरकार ने CBI को जांच से रोका     |       लखनऊ में रेलमंत्री पीयूष गोयल की टिप्पणी से नाराज कर्मचारियों का हंगामा     |       NDTV से बोलीं मायावती, न BJP के साथ जाएंगे, न कांग्रेस के साथ, एक सांपनाथ, एक नागनाथ     |       पटना में उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी RLSP की बैठक आज, बड़ी घोषणा की अटकलें...     |       दिल्ली / 13 दिन बंद रहेगा आईजीआई एयरपोर्ट का एक रनवे, 86% तक बढ़ा फ्लाइट्स का किराया     |       पंजाब में दिखा 12 लाख का इनामी आतंकी, जम्मू-कश्मीर सहित दोनों राज्यों में हाई अलर्ट     |       सीबाआई में घमासान: सीवीसी ने कहा, कुछ आरोपों पर जांच की जरूरत     |       Sabrimala: मंदिर के पट खुले, महिलाओं के प्रवेश पर गतिरोध और तनाव कायम     |       तमिलनाडु में गाजा तूफान से 13 लोगों की मौत, PM ने ली जानकारी     |       सिंगर टीएम कृष्‍णा को अब आप सरकार देगी कॉन्‍सर्ट के लिए मंच, दिल्ली में स्थगित हुआ था कार्यक्रम     |       आरबीआई के अहम फैसलों में बड़ी भागीदारी चाहती है सरकार     |       सियासत / मोदी का ज्योतिरादित्य पर तंज- कांग्रेस के सर्वेसर्वा से पूछो कि आपकी दादी को जेल में क्यों रखा?     |       यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को मिली जमानत, दुर्गा पूजा के नाम पर फर्जी पैड छपवाकर वसूली का मामला     |       MP Chunav 2018: राहुल बोले- मोदी अब भाषणों में भ्रष्टाचार, चौकीदार की बात नहीं करते     |       मेक इन इंडिया की सौगात, देश की पहली T-18 ट्रेन ट्रायल के लिए पहुंची मुरादबाद     |       MP चुनावः वरिष्ठ BJP नेता ने कहा- चुनाव नहीं होते, तो पार्टी MLA के तोड़ देता दांत     |       फेसबुक ने हटाए 1.5 अरब अकाउंट्स, जानिए क्यों?     |       मालदीव में आज पीएम मोदी की यात्रा से भारत को मिला पैर जमाने का मौका     |       वाराणसी / डॉक्टर ने जहर का इंजेक्शन लगाकर की खुदकुशी, सुसाइड नोट में लिखा- बेटा हत्या करना चाहता है     |       पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के खिलाफ कोर्ट ने दिया कार्रवाई का आदेश     |      

साहित्य/संस्कृति


यह न्यू इण्डिया है...

न्यू इण्डिया के नारे के बीच वर्तमान भारत में पानी, खेती और शहरों की तस्वीर तथा बाजार व सरकार के रवैये को सामने रखती ये चार कविताएं....


arun-tiwari-poetry-on-new-india-watar-governance-field-market-life

1. पानी

बूंदा है, बरखा है,

पर तालाब रीते हैं।

माटी के होंठ तक 

कई जगह सूखे हैं।

भूजल की सीढ़ी के 

नित नये डण्डे टूटे हैं।

 

गहरे-गहरे बोर ने

कई कोष लूटे हैं।

शौचालय का शोर भी 

कई कोष लूटेगा।

 

स्वच्छ नदियों का गौरव 

बचा नहीं शेष अब,

हिमनद के आब तक

पहुंच गई आग आज,

मौसम की चुनौती

घर खेत खा रही,

स्वस्थ भारत का सपना 

जल्द-शीघ्र टूटेगा।

यह न्यू इण्डिया है.......

 

2. पानी और शासन

भाषणों में अपने वे

पानी को प्राण और 

नदियों को प्राणरेखा बताते हैं,

पर सत्ता हाथ आते ही

सबसे पहले बांध की ऊंचाई बढ़ाते हैं।

नदी मरे या जीये,

उसकी हर बूंद खींचने को

असल विकास ठहराते हैं।

हर प्यासे को नदी जोड़ की 

मृगमरीचिका दिखाते हैं।

शुद्ध पानी के नाम पर

पानी का बाज़ार सजाते हैं।

सूखा हो या बाढ़,

उन्हे सिर्फ राहत के बजट सुहाते हैं।

सिद्धि कुछ और करते है,

संकल्प कुछ और दिखलाते हैं।

 

बीमारी बनी रहे और खर्च बढ़ता रहे,

इस हुनर के वे डाॅक्टर निराले हैं। 

कारण उनकी इन्द्रियों पर लगे हुए 

कारपोरेट ताले हैं।

जनता ने भी जैसे अपने 

मुंह सी डाले हैं।

इसी कारण जो मरता था मार्च में,

अब अक्तूबर में मरता है।

यह बांदा का किसान है,

2017 का निसान है।

यह न्यू इण्डिया है...

 

3. खेती और बाज़ार

खेती है, व्यंजन हैं,

पर हुए जहरीले है।

मवेशी हैं, माटी है,

पर नसेड़ी रंगीले है।

फर्टिलाइजर खाते हैं,

कीटनाशक पीते हैं,

’जी एम’ के संग 

रंगरेली मनाते है।

मिलावट के बाज़ार 

शेष शुद्धि खा जाते हैं। 

 

लाला अब सिर्फ लाभ देखते हैं,

शुभ भूल जाते हैं।

ग्राहक को पार्टी और

दलाल को भगवान बताते हैं।

स्वदेशी को घटिया और 

परदेशी को बढ़िया बताते हैं।

हर्बल और आॅेर्गेनिक के नाम पर 

जाने-जाने क्या-क्या बेच जाते हैं।

 

क्या खायें ? क्या पीयें ?

इसीलिए उठा यह सवाल है।

जिसे शुद्ध समझा वही

निकला जी का बवाल है।

यह न्यू इण्डिया है...

 

4. शहर और ज़िन्दगी 

पहाड़ों पर पानी है,

पर लोगों से दूर है।

गांवों में जवानी है,

पर शहर जाने को बेताब है।

 

शहरों में  ख्वाब हैं, पैसे हैं, 

पर हवा खराब है।

दाना-पानी सब बने

बीमारी के असबाब हैं।

शहरों में घुटन है, गंदगी हैै,

चिकने चेहरों के पीछे भी संभव दरिंगदी है। 

गर अधूरी रह गई हसरत तो

दड़बेनुमा मकानों में पूरी ज़िन्दगी है। 

 

फास्ट लाइफ-फास्ट फूड,

भाई को ब्रो और पिता को डूड,

मशीनों से रिश्ता और रिश्तों से दूरियां,  

वे इसे भारतीय संस्कृति के खिलाफ बताते हैं। 

फिर भी वे हर गांव को शहर और

शहरों को स्मार्ट बनाने का सपना दिखाते हैं।

यह न्यू इण्डिया है...

advertisement

  • संबंधित खबरें