सबरीमाला / मंदिर के पट खुले, महिलाओं के प्रवेश का हिंसक विरोध; लाठीचार्ज के बाद धारा 144 लागू     |       #MeToo: विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने यौन शोषण के आरोपों के बाद दिया इस्तीफा     |       मारवाड़ में कांग्रेस और मानवेंद्र बिगाड़ सकते हैं भाजपा का खेल     |       छठ-दिवाली के दौरान Indian Railway का यात्रियों को तोहफा, चलेंगी ये 9 स्पेशल ट्रेनें     |       मेरठ / जासूसी के आरोप में आर्मी इंटेलीजेंस ने सेना के जवान को किया गिरफ्तार     |       माया के बंगले में घुसते ही शिवपाल बोले- अखिलेश की हैसियत पता चलेगी     |       रिपोर्ट / ब्रह्मोस से ज्यादा ताकतवर चीनी मिसाइल खरीदने की तैयारी में पाकिस्तान     |       नॉनस्टॉप 100: आशीष पांडे के घर पहुंची यूपी पुलिस     |       FIR March: सपा नेता आजम के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने पहुंचे अमर सिंह     |       चंडीगढ़ डीएसपी पदों के डीएएनआईपीएस में विलय के फैसले पर रोक     |       गुजरात: नहीं रुक रहे बिहारियों पर हमले, लुंगी पहनने पर सात लोगों की पिटाई     |       हिमाचल प्रदेश में बनेगा देश का पहला टनल के अंदर रेलवे स्टेशन     |       इन दो वजहों से पूरी दुनिया में घंटे भर ठप रहा YouTube     |       कभी अकबर ने बदला था नाम, इलाहाबाद को 450 वर्षों बाद मिला अपना पुराना नाम     |       राफेल डील : मानहानि मामले में आप सांसद संजय सिंह को अदालत का नोटिस     |       मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018: कांग्रेस ने 80 प्रत्याशियों के नाम पर लगाई मुहर     |       कश्मीर / श्रीनगर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर, पुलिस का जवान शहीद     |       छत्तीसगढ़: बख्तरबंद गाड़ी ने कार को घसीटा, मुश्किल में पड़ी परिवार की जान     |       RRB Group D 2018 Exam: कल जारी होंगी 29 अक्टूबर से होने वाली भर्ती परीक्षा की डिटेल्स, ऐसे चेक करें     |       हिसार / अपने काम गिनाकर रामपाल ने की रहम की गुहार, सजा हुई तो बोला- अब हाईकोर्ट का सहारा     |      

राज्य


फिर खुली बिहार शिक्षा विभाग की पोल, कश्मीर को बताया अलग देश

गौरतलब है कि बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की ओर से हर साल अर्धवार्षिक परीक्षा के प्रश्नपत्र संचालित किए जाते हैं। वहीं इस साल अर्धवार्षिक परीक्षा में अंग्रेजी के प्रश्नपत्र में छात्रों से चीन, नेपाल, इंग्लैंड और भारत की तरह 'कश्मीर' को एक अलग देश के रूप बताते हुए इससे संबंधित एक प्रश्न पूछा गया है।


bihar-education-board-english-question-paper-mention-kashmir-country

पटना: एक तरफ जहां बिहार सरकार राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में सुधार की बात करती है तो वहीं शिक्षा विभाग के कारनामें इन दावों का पोल खेल रही हैं। सरकार के लाख कोशिशों के बावजूद राज्य में शिक्षा व्यवस्था जस की तस बनी हुई है। इस बार बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा करने के लिए एक नया मामला सामने आया है। इसमें राज्य सरकार की ओर से संचालित सातवीं कक्षा के छात्रों के लिए अंग्रेजी के प्रश्न पत्र में कश्मीर को अलग 'देश' बताया गया है।

गौरतलब है कि बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की ओर से हर साल अर्धवार्षिक परीक्षा के प्रश्नपत्र संचालित किए जाते हैं। वहीं इस साल अर्धवार्षिक परीक्षा में अंग्रेजी के प्रश्नपत्र में छात्रों से चीन, नेपाल, इंग्लैंड और भारत की तरह 'कश्मीर' को एक अलग देश के रूप बताते हुए इससे संबंधित एक प्रश्न पूछा गया है। प्रश्न में अन्य देशों की तरह कश्मीर को भी अलग देश बताते हुए छात्रों से इस देश के निवासियों के नाम बताने के विषय में प्रश्न किया गया है।

अंग्रेजी के इस प्रश्न पत्र में चीन के नागरिकों को 'चाईनीज' कहे जाने का उदाहरण देते हुए छात्रों को नेपाल, इंग्लैंड और भारत की तरह ही 'कश्मीर' के निवासियों को लेकर रिक्त स्थान भरने को दिया गया है। इस प्रश्न पत्र के बारे में वैशाली जिले के एक स्कूल में छात्रों ने शिकायत की, तब यह मामला सामने आया।

हालांकि मामले को तुल पकड़ता देख शिक्षा विभाग इसे अब मुद्रण त्रुटि बता रहा है। बिहार के सभी सरकारी स्कूलों में यह परीक्षा बिहार शिक्षा परिषद  ही आयोजित करता है। शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने इसके लिए सवाल छापने वाले प्रिंटर को दोषी ठहराया है। वहीं उनका कहना है कि यह एक बड़ी गलती है, जो नहीं होनी चाहिए थी।

advertisement

  • संबंधित खबरें