सोज के बयान पर बवाल: कांग्रेस बोली- किताब बेचने के सस्ते हथकंडे से सच नहीं बदलेगा     |       जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों ने इस्लामिक स्टेट के सरगना समेत 4 आतंकियों को किया ढेर…     |       ममता चाहती थीं नेताओं से बैठकें, चीन ने नहीं दी मंजूरी तो रद्द किया दौरा     |       ईद पर 100 युवकाें से गले मिलने वाली लड़की काे लेकर एक आैर बड़ा खुलासा     |       वडोदरा के स्कूल में 9वीं के छात्र की हत्या, पुलिस को सीनियर पर शक     |       जेटली का राहुल गांधी पर वार- मानवाधिकार संगठनों के प्रति बढ़ रही है उनकी सहानुभूति     |       दाती महाराज की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं, रात्रि में चरण सेवा के नाम पर लड़कियों को बुलाता था     |       अमरनाथ यात्रा की तैयारियां पूरी, यात्रा शांतिपूर्वक होगी: राज्यपाल     |       कांग्रेस ने नोटबंदी को बताया आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला, पीएम से मांगा जवाब     |       ED की माल्या को भगोड़ा घोषित करने की पहल, जब्त होगी संपत्ति     |       नीरव मोदी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर सकता है इंटरपोल     |       कश्‍मीर में ऑपरेशन ऑल आउट: सबसे खूंखार 22 आतंकियों की लिस्‍ट जारी, एक को किया ढेर     |       बड़ा फैसला: नोएडा के सेक्टर-123 से हटाया जाएगा डंपिंग ग्राउंड     |       अरुण जेटली ने ब्लॉग में राहुल पर किया तीखा हमला, पूछा- कौन है मानवाधिकारों का दुश्मन?     |       शिवपाल यादव की अखिलेश को नसीहत, बड़ों की बात मानते तो दोबारा सीएम बनते     |       सोनिया गांधी से मिलने पहुंचीं सपना चौधरी, कहा- कांग्रेस के लिए कर सकती हूं प्रचार     |       2019 चुनाव से पहले कांग्रेस के अंदर बड़ा फेरबदल, खड़गे को महाराष्ट्र की जिम्मेदारी     |       झारखंड HC ने लालू यादव की अंतरिम जमानत तीन जुलाई तक बढ़ाई     |       हापुड़ लिंचिंग: घायल को अमानवीय तरीके से ले जाने पर यूपी पुलिस ने मांगी माफ़ी     |       Kundli Tv- निर्जला एकादशी: यह है शुभ मुहूर्त और कथा     |      

राज्य


फिर खुली बिहार शिक्षा विभाग की पोल, कश्मीर को बताया अलग देश

गौरतलब है कि बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की ओर से हर साल अर्धवार्षिक परीक्षा के प्रश्नपत्र संचालित किए जाते हैं। वहीं इस साल अर्धवार्षिक परीक्षा में अंग्रेजी के प्रश्नपत्र में छात्रों से चीन, नेपाल, इंग्लैंड और भारत की तरह 'कश्मीर' को एक अलग देश के रूप बताते हुए इससे संबंधित एक प्रश्न पूछा गया है।


bihar-education-board-english-question-paper-mention-kashmir-country

पटना: एक तरफ जहां बिहार सरकार राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में सुधार की बात करती है तो वहीं शिक्षा विभाग के कारनामें इन दावों का पोल खेल रही हैं। सरकार के लाख कोशिशों के बावजूद राज्य में शिक्षा व्यवस्था जस की तस बनी हुई है। इस बार बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा करने के लिए एक नया मामला सामने आया है। इसमें राज्य सरकार की ओर से संचालित सातवीं कक्षा के छात्रों के लिए अंग्रेजी के प्रश्न पत्र में कश्मीर को अलग 'देश' बताया गया है।

गौरतलब है कि बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की ओर से हर साल अर्धवार्षिक परीक्षा के प्रश्नपत्र संचालित किए जाते हैं। वहीं इस साल अर्धवार्षिक परीक्षा में अंग्रेजी के प्रश्नपत्र में छात्रों से चीन, नेपाल, इंग्लैंड और भारत की तरह 'कश्मीर' को एक अलग देश के रूप बताते हुए इससे संबंधित एक प्रश्न पूछा गया है। प्रश्न में अन्य देशों की तरह कश्मीर को भी अलग देश बताते हुए छात्रों से इस देश के निवासियों के नाम बताने के विषय में प्रश्न किया गया है।

अंग्रेजी के इस प्रश्न पत्र में चीन के नागरिकों को 'चाईनीज' कहे जाने का उदाहरण देते हुए छात्रों को नेपाल, इंग्लैंड और भारत की तरह ही 'कश्मीर' के निवासियों को लेकर रिक्त स्थान भरने को दिया गया है। इस प्रश्न पत्र के बारे में वैशाली जिले के एक स्कूल में छात्रों ने शिकायत की, तब यह मामला सामने आया।

हालांकि मामले को तुल पकड़ता देख शिक्षा विभाग इसे अब मुद्रण त्रुटि बता रहा है। बिहार के सभी सरकारी स्कूलों में यह परीक्षा बिहार शिक्षा परिषद  ही आयोजित करता है। शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने इसके लिए सवाल छापने वाले प्रिंटर को दोषी ठहराया है। वहीं उनका कहना है कि यह एक बड़ी गलती है, जो नहीं होनी चाहिए थी।

advertisement