100 रुपये के नए नोट का क्या है गुजरात कनेक्शन?     |       प्रख्यात कवि और गीतकार महाकवि गोपालदास 'नीरज' का निधन     |       32 किलोमीटर पैदल चलकर पहले दिन ऑफिस समय पर पहुंचा युवक, बॉस ने दिया ये ईनाम (VIDEO)     |       इस ट्रेन में मिलेगा हवाई जहाज जैसा आनंद, बटन दबाने पर खुल जाएंगी खिड़कियां     |       मोदी के मंत्री ने क्यों कहा, सोनिया का गणित कमजोर है?     |       उलमा कौन होते निदा का हुक्का-पानी बंद करने वालेः तनवीर हैदर उसमानी     |       एयरसेल मैक्सिस केस में CBI ने दाखिल की चार्जशीट, चिदंबरम और कार्ति का नाम शामिल     |       ग्रेटर नोएडा: नोटिफाइड एरिया में बनी थी बिल्डिंग, शिकायत के बाद भी नहीं हुई कार्रवाई     |       बड़ी ख़बर: अब यात्री मोबाइल फोन से खरीद सकते हैं जनरल टिकट     |       राज ठाकरे का BJP पर हमला, इस वजह से भाजपा को चुनावों में मिली जीत, दोबारा सत्ता में नहीं होगी वापसी     |       रेड मारते ही उड़े IT अफसरों के होश, 8 करोड़ कैश, 87 किलो सोना बरामद     |       साउथ दिल्ली के करीब 16000 पेड़ो के कटने पर लगे स्टे को NGT ने 27 जुलाई तक बढ़ाया     |       टिहरी में बस के खाई में गिरने से 14 की मौत, 17 लोग घायल     |       Exclusive: अगस्ता के बिचौलिये की वकील का दावा- सोनिया के खिलाफ गवाही देने का दबाव     |       रायबरेली में भाजपा मंडल उपाध्यक्ष की हत्या, दारोगा व सिपाही लाइन हाजिर     |       देवरिया जेल में बाहुबली अतीक के बैरक से मिला मोबाइल फोन , दर्ज होगा मुकदमा     |       वीडियो: हवा में टकराए दो विमान, जमीन पर गिरते ही सबकुछ तहस-नहस     |       सुरक्षा बल के जवान ने प्राइवेट पार्ट पर करंट लगाकर पत्नी को मार डाला     |       तेजस्वी यादव ने सुशील मोदी से पूछा, 'क्या आप डॉक्टर हैं', जानिये क्या है कारण...     |       गुजरात : MBBS में गोल्ड मेडल जीतने वाली डॉक्टर बनी साध्वी, अरबों की संपत्ति ठुकराई     |      

गपशप


भगवा शीर्ष पर सुलग रही है असंतोष की चिंगारी

खासकर अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा के व्यापारी खुलकर अपना विरोध जता रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि एक वक्त ऐसा भी आया जब पीएम के समक्ष ही शाह व जेटली की वाणी आपस में उलझ गई


bjp-pm-modi-amit-shah-arun-jaitley-gst-gujarat

अपनी केरल यात्रा को बीच में छोड़ कर यूं अचानक जब अमित शाह को दिल्ली लौटना पड़ा तो कयासों के बाजार गर्म थे, लेकिन इसके बाद सरकार की आर्थिक नीतियों के प्रभाव को लेकर जब प्रधानमंत्री मोदी, वित्त मंत्री जेटली और अमित शाह के बीच जीएसटी के प्रावधानों को लेकर एक मैराथन बैठक हुई। सूत्र बताते हैं कि शाह ने जेटली को बताया कि गुजरात से जो जमीनी रिपोर्ट आ रही है, वह परेशान करने वाली है। खासकर अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा के व्यापारी खुलकर अपना विरोध जता रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि एक वक्त ऐसा भी आया जब पीएम के समक्ष ही शाह व जेटली की वाणी आपस में उलझ गई। खैर, इस बैठक का लब्बोलुआब यह निकला कि इसमें इस बात पर इन त्रिमूर्त्तियों में सहमति बनी कि 28-29 उत्पादों पर जीएसटी की दरें कम की जाएंगी और पेट्रोल व डीजल पर से भी वैट कम किया जाएगा।

शायद यह गुजरात के आसन्न विधानसभा चुनावों की ही धमक थी जिसकी वजह से खाखड़ा, आम पापड़ जैसे गुजरातियों के नियमित खाद्य पदार्थों से जीएसटी सीधे 18 से घटाकर 5 पर ले आई गई। सूरत के कपड़ा उद्योग के मद्देनजर कपड़ों के जरी पर भी जीएसटी 5 कर दिया गया, धागे पर 18 फीसदी की जीएसटी को 12 पर ले आया गया। सरकार इन त्वरित कदमों की प्रतिक्रियाओं के इंतजार में है, शायद यही वजह हो कि गुजरात चुनावों की तारीखों के ऐलान में देरी हो रही है और जीएसटी को लेकर भाजपा के अपने शत्रुघ्न सिन्हा ने भोजपुरी में इसकी एक नई परिभाषा दी है, शत्रु कहते हैं जीएसटी का मतलब है ’गईल सरकार तोहार’।

advertisement