ममता की बंगाल सरकार और चंद्र बाबू की आंध्र सरकार ने CBI को जांच से रोका     |       लखनऊ से उलटे पांव लौटे पीयूष गोयल, भाषण से नाराज लोगों ने की नारेबाजी     |       NDTV से बोलीं मायावती, न BJP के साथ जाएंगे, न कांग्रेस के साथ, एक सांपनाथ, एक नागनाथ     |       रालोसपा की बैठक शनिवार को पटना में, बड़ी घोषणा की अटकलें     |       दिल्ली / 13 दिन बंद रहेगा आईजीआई एयरपोर्ट का एक रनवे, 86% तक बढ़ा फ्लाइट्स का किराया     |       पंजाब में दिखा 12 लाख का इनामी आतंकी, जम्मू-कश्मीर सहित दोनों राज्यों में हाई अलर्ट     |       सीबाआई में घमासान: सीवीसी ने कहा, कुछ आरोपों पर जांच की जरूरत     |       Sabrimala: मंदिर के पट खुले, महिलाओं के प्रवेश पर गतिरोध और तनाव कायम     |       बिहार बोर्ड परीक्षा 2019: छह फरवरी से इंटर, 21 फरवरी से होगी मैट्रिक की परीक्षा     |       तमिलनाडु में गाजा तूफान से 13 लोगों की मौत, PM ने ली जानकारी     |       सिंगर टीएम कृष्‍णा को अब आप सरकार देगी कॉन्‍सर्ट के लिए मंच, दिल्ली में स्थगित हुआ था कार्यक्रम     |       आरबीआई के अहम फैसलों में बड़ी भागीदारी चाहती है सरकार     |       सियासत / मोदी का ज्योतिरादित्य पर तंज- कांग्रेस के सर्वेसर्वा से पूछो कि आपकी दादी को जेल में क्यों रखा?     |       यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को मिली जमानत, दुर्गा पूजा के नाम पर फर्जी पैड छपवाकर वसूली का मामला     |       मेक इन इंडिया की सौगात, देश की पहली T-18 ट्रेन ट्रायल के लिए पहुंची मुरादबाद     |       MP चुनावः वरिष्ठ BJP नेता ने कहा- चुनाव नहीं होते, तो पार्टी MLA के तोड़ देता दांत     |       फेसबुक ने हटाए 1.5 अरब अकाउंट्स, जानिए क्यों?     |       मालदीव में आज पीएम मोदी की यात्रा से भारत को मिला पैर जमाने का मौका     |       सीसीटीवी फुटेज में इंजेक्शन लगाते नजर आईं डॉ. शिल्पी     |       पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के खिलाफ कोर्ट ने दिया कार्रवाई का आदेश     |      

गपशप


धूमल ने ऐसे चटाई धूल

धूमल, नड्ढा और शांता कुमार के खेमों में। शांता कुमार पार्टी नेतृत्व की उपेक्षाओं से खासे आहत हैं, उनके करीबियों के थोकभाव में टिकट कट गए हैं।


bjp-prem-kumar-dhumal-jp-nadda-shanta-kumar-himachal-assembly-election

हिमाचल प्रदेश में भगवा आकांक्षाएं कुलांचे भर रही है, पार्टी इस चुनाव में अपनी जीत के प्रति आश्वस्त जान पड़ती हैं, पर यहां कुछ तो है जो पार्टी सिरमौर अमित शाह को लगातार परेशान कर रही है। वह है भाजपा के अंदर भीतरघात और गुटबाजी की बढ़ती प्रवृत्ति। अब से पहले तक भाजपा यहां तीन खेमों में स्पष्ट तौर पर बंटी नज़र आ रही थी। धूमल, नड्ढा और शांता कुमार के खेमों में। शांता कुमार पार्टी नेतृत्व की उपेक्षाओं से खासे आहत हैं, उनके करीबियों के थोकभाव में टिकट कट गए हैं। जेपी नड्ढा को पूरी उम्मीद थी कि हिमाचल के अगले सीएम वही होंगे, पर ऐन वक्त भाजपा के सीएम कैंडिडेट के तौर पर प्रेम कुमार धूमल का नाम अनाऊंस होने से वे सकते में हैं। पर सूत्र बताते हैं कि उन्हें मना लिया गया है। धूमल पुत्र अनुराग ठाकुर किंचित इस बात को लेकर बेहद नाराज़ थे कि तमाम उम्मीदों के बाद भी उन्हें केंद्र में मंत्री नहीं बनाया गया। सो, लगे हाथ धूमल गुट इन कयासों को हवा दे रहा था कि भाजपा की ओर से एक राजपूत सीएम (धूमल) प्रोजेक्ट नहीं किए जाने से प्रदेश के 37 फीसदी राजपूत मतदाता कमल पार्टी से नाराज़ हैं और वे वीरभद्र सिंह यानी कांग्रेस की ओर जा सकते हैं। चुनांचे जो भाजपा हाईकमान हिमाचल में अपना कोई सीएम उम्मीदवार घोषित करने के पक्ष में नहीं था, उसे अपनी रणनीति बदलने पर मजबूर होना पड़ा।

advertisement

  • संबंधित खबरें