केपाटन से मंत्री बाबूलाल वर्मा का टिकट कटा, चंद्रकांता मेघवाल को मौका     |       सुप्रीम कोर्ट में एयरफोर्स ने कहा, ३३ साल से नहीं मिला कोई लड़ाकू विमान     |       डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- मैं प्रधानमंत्री मोदी का बहुत सम्मान करता हूं     |       सेमी हाईस्पीड ट्रेन टी-18 परीक्षण के लिए दिल्ली पहुंची     |       वैश्विक नेताओं से मिले PM मोदी, US उपराष्ट्रपति को दिया भारत आने का न्योता     |       बयान से पलटे शाहिद आफरीदी, कहा- कश्मीर में भारत कर रहा जुल्म     |       इसरो / जीसैट-29 का सफल प्रक्षेपण, 2020 तक गगनयान के तहत पहला मानव रहित मिशन शुरू होगा     |       हरियाणा: चौटाला परिवार में फूट के बीच अजय चौटाला पार्टी से निष्कासित     |       ट्रैवेल / राम से जुड़े तीर्थ स्थलों की यात्रा के लिए आज से चलेगी श्री रामायण स्पेशल ट्रेन, ऐसे करें टिकट की बुकिंग     |       VIDEO: मंडी में याद किए गए चाचा नेहरू, कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने लिया ये संकल्प     |       पश्चिम बंगाल का नाम बदलने के प्रस्ताव को केंद्र ने किया खारिज, 'बांग्ला' नाम पर राजनीति न करे केंद्र सरकार : ममता     |       छठ पर्व हुआ संपन्न, तस्वीरों में देखिए कैसे मना Chhath Puja का जश्न     |       संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसबंर से, क्या राम मंदिर पर कानून लाएगी मोदी सरकार?     |       प्रधानमंत्री राजपक्सा के खिलाफ संसद में अविश्वास प्रस्ताव पास     |       दिल्ली के सिग्नेचर ब्रिज पर सेल्फी के लिए होड़ के बाद निर्वस्त्र होने का वीडियो वायरल     |       दिल्लीः हवा गुणवत्ता में सुधार, लेकिन सुरक्षित अब भी नहीं     |       दीक्षांत समारोह में छात्रों को गोल्ड मेडल देंगे राष्ट्रपति     |       IGNOU B.Ed. Admission 2019: जल्द करें आवेदन, कल अंतिम दिन     |       नौ दिन बाद मलबे में दबे तीनों शव बरामद     |       रालोसपा नेता की गोली मार कर हत्या, उपेंद्र कुशवाहा ने साधा नीतीश सरकार पर निशाना     |      

व्यापार


पेट्रोल, डीजल के मूल उत्पाद शुल्क में 2 रुपए की कटौती , आम लोगों के हितों में उठाया गया कदम

वहीं वित्त मंत्रालय के बयान के मुताबिक सरकार ने यह कदम आम लोगों के हितों का ध्यान रखते हुए अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दामों में वृद्धि के बाद उठाया है।


central-government-cut-excise-duty-petrol-diesel-price-cheaper

नई दिल्लीः सरकार ने परिवहन ईंधन -पेट्रोल और डीजल- पर उत्पाद शुल्क दो रुपए प्रति लीटर घटा दिया है। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि भारत सरकार ने डीजल और पेट्रोल के मूल उत्पाद शुल्क में दो रुपए प्रति लीटर कमी करने का फैसला किया है, जो चार अक्टूबर यानी बुधवार से लागू कर दिया गया है।

वहीं वित्त मंत्रालय के बयान के मुताबिक सरकार ने यह कदम आम लोगों के हितों का ध्यान रखते हुए अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दामों में वृद्धि के बाद उठाया है। इस निर्णय से पूरे वर्ष के लिए उत्पाद शुल्क में 26,000 करोड़ रुपए का घाटा होगा और इस वित्तीय वर्ष के बचे हुए समय में 13,000 करोड़ रुपए का घाटा होने की संभावना है।

बता दें कि इससे पहले अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि होने के बाद भारत में पेट्रोल और डीजल के खुदरा मूल्य क्रमश: 70.83 प्रति लीटर और 59.04 प्रति लीटर पहुंच गए थे, जिसके बाद वीपीआई मुद्रास्फीति में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही थी। इसी वजह से और इस मुद्दे पर विपक्षी पार्टियों के जोरदार विरोध के बाद सरकार को यह कदम उठाना पड़ा है।

advertisement