थराली में बादल फटा, 10 दुकान और कई वाहन बहे; भारी बारिश की चेतावनी     |       हत्या या खुदकुशी‌: तीसरी मंजिल से गिरकर एयर होस्टेस की मौत; पिता बोले- टॉर्चर करता था पति     |       मुस्लिमों की पार्टी बताने पर भड़की कांग्रेस, कहा- PM मोदी की 'बीमार मानसिकता' राष्ट्रीय चिंता का विषय     |       बिहार: JDU को पहले इन पार्टियों से करनी होगी बात, तभी बनेगी बीजेपी से बात     |       कासगंज: 350 से ज्यादा पुलिसकर्मी और बग्घी में सवार होकर आया दलित दूल्हा     |       सेंट्रल जेल आते ही सुनील राठी की अधिकारियों से झड़प     |       वकील ने चेंबर में जूनियर को बुलाकर की गंदी बात, गिरफ्तार     |       हजारीबाग में एक परिवार के पांच लोगों ने खुदकुशी की     |       कैंसर की वजह से पत्नी से बना ली थी दूरी, इसलिए की थी हत्या     |       मिशन 2019: ममता के गढ़ में आज मोदी की किसान रैली, 22 सीटों पर नजर     |       आज से विधानसभा का मानसून सत्र कल, पेश होगा पहला अनुपूरक बजट     |       गरीब रथ का सफर होगा महंगा, टिकट में बेडरोल का किराया भी जुड़ेगा     |       स्विस बैंकों में भारतीय खातों में पड़े 300 करोड़ रुपए का तीन साल बाद भी नहीं मिल रहा दावेदार     |       कर्नाटक: रोते हुए बोले सीएम कुमारस्वामी- पी रहा हूं गठबंधन सरकार का विष     |       फीफा वर्ल्ड कप 2018 का खिताब फ्रांस के नाम, जानिए- कहानी हर गोल की     |       अगले महीने भारत अौर पाक की सेना एक साथ युद्धाभ्यास करेंगी     |       बच्चा चोर के शक में गुगल के इंजीनियर की पीट-पीटकर हत्या     |       पाकिस्तान चुनाव में भारत बना चुनावी मुद्दा, इमरान बोले- नवाज के फायदे के लिए सीमा पर बढ़ता है तनाव     |       Exclusive: 28 साल पहले सीमापार कर बनने गया था आतंकी, अब बना सिंगिंग स्टार     |       जम्मू-कश्मीर में चट्टान गिरने से सात की मौत, 33 जख्मी     |      

व्यापार


आर्थिक सुगमता रैंकिंग में भारत की नज़र अब टॉप 50 पर

डीआइपीपी सचिव रमेश अभिषेक ने कहा है कि भारत विश्व बैंक के साथ मिलकर 200 से ज्यादा आर्थिक सुधारों पर काम कर रहा है, जिसकी वजह से उसे आर्थिक सुगमता रैंकिंग में टॉप 50 लिस्ट में शामिल होने में मदद मिलेगी।


ease-of-doing-business-ranking:-now-india's-eye-is-on-top-50-list

विश्व बैंक की ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस रैंकिंग में बड़ी छलांग लगाकर 100 वें नंबर पर पहुंचे भारत ने अब नजरें टॉप 50 रैंक हासिल करने पर लगा रखी हैं। इसके लिए भारत 200 से ज्यादा आर्थिक सुधारों पर विश्व बैंक के साथ मिलकर काम कर रहा है।

वाणिज्य मंत्रालय के अंतर्गत कार्यरत औद्योगिक नीति और संवर्धन विभाग (डीआइपीपी) के सचिव रमेश अभिषेक ने कहा है कि भारत की आर्थिक सुगमता रैंकिंग में 30 अंकों की ऐतिहासिक उछाल के बाद अब हमारा लक्ष्य टॉप 50 श्रेणी में जाना है, जिसके लिए हम विश्व बैंक के साथ मिलकर कई आर्थिक सुधारों पर कार्य कर रहे हैं।

साथ ही अभिषेक ने बताया कि डीआइपीपी ने आर्थिक सुधारों को ध्यान में रखते हुए उद्योग संगठनों और आर्थिक क्षेत्र से जुड़े हुए लोगों से प्रतिक्रिया लेना भी शुरू कर दिया है।

गौरतलब है कि विश्व बैंक की आर्थिक सुगमता रैंकिंग में भारत की स्थिति में बेहतरीन सुधार के बाद से शेयर बाजार में तेजी का दौर है तो वहीँ रेटिंग एजेंसियां भी इसे भारत के लिए बेहतर मौका बता रही हैं। विशेषज्ञों के अनुसार इस रैंकिंग के बाद भारत में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) बढ़ सकता है, साथ ही रोजगार के मौके भी बढ़ने की संभावनाएं हैं।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि सरकार द्वारा लागू की जा रही नीतियों की वजह से भारत जल्द ही पीएम मोदी के भारत को टॉप 50 में पहुँचाने के सपने को पूरा करेगा।

advertisement

  • संबंधित खबरें