UK Board Result 2018: नतीजे घोषित, मोबाइल पर यूं चेक करें नतीजे     |       मोदी सरकार के 4 साल पूरे होने पर कांग्रेस मना रही 'विश्‍वासघात दिवस'     |       जम्मू-कश्मीर में 5 आतंकी ढेर, आज आएगा 12वीं का रिजल्‍ट, अब तक की 5 बड़ी खबरें     |       मेरठ सिटी स्टेशन पर बज रहा गंदगी का 'हॉर्न', सफाई हुई 'डिरेल'     |       कर्नाटक में कुमारस्वामी ने जीता फ्लोर टेस्ट, येद्दयुरप्पा ने ऐसे बढ़ाई टेंशन     |       सावधानः निपाह की आशंका से दिल्ली-एनसीआर में भी अलर्ट, केरल से आने वाले केले धोकर खाएं     |       फिर बयान से पलटे ट्रंप, बोले- हो सकती है किम के साथ मीटिंग     |       मेजर गोगोई दोषी पाए गए तो ऐसी सजा मिलेगी जो मिसाल बनेगी: सेना प्रमुख     |       गोवा: बीच पर कपल के कपड़े उतरवाए, तस्वीरें खीचीं और बॉयफ्रेंड के सामने ही लड़की से किया गैंगरेप     |       भाषा की मर्यादा भूले उद्धव ठाकरे, कहा- योगी आदित्यनाथ को चप्पलों से पीटना चाहिए     |       दुलत के साथ किताब लिखने पर पूर्व ISI चीफ़ तलब     |       इन सात राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने पर होगा विचार     |       बसपा का राष्ट्रीय अधिवेशन आज, मायावती को प्रधानमंत्री बनाने का पास हो सकता है प्रस्ताव     |       देश में पानी और तेल को लेकर आग     |       IPL-11: अफगानी राष्ट्रपति ने पीएम मोदी को किया टैग, लिखा- हीरो हैं राशिद, किसी और को नहीं देंगे     |       यहां सिर्फ 10 रुपये में खूबसूरत मॉडल्स को बना सकते हैं अपनी गर्लफ्रेंड, जानें     |       पिछले 5 साल में PF पर मिलेगा सबसे कम ब्याज, 8.55% को मंजूरी     |       कांसटेबल ललिता की ललित बनने के लिए पहले चरण की सर्जरी सफल     |       मुंबई में तैरता रेस्तरां समुद्र में डूबा, 15 लोग बचाए गए     |       मोदी सरकार के चार साल LIVE: CM योगी ने दी PM मोदी को बधाई, मायावती बोलीं- हर मोर्चे पर फेल रही सरकार     |      

राजनीति


निर्वाचन आयोग ने हिमाचल-गुजरात चुनावों में वीवीपैट के इस्तेमाल का दिया निर्देश

हालांकि पिछले हफ्ते मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को भेजे गए अपने विस्तृत निर्देशों में चुनाव आयोग ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में दर्ज किए गए मतों की गिनती के आखिरी दौर के बाद पेपर स्लिप का सत्यापन किया जाएगा।


election-commission-directs-use-of-vvpat-in-himachal-gujarat-poll

नई दिल्लीः केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारियों को वीवीपैट मशीनों के अनिवार्य इस्तेमाल के लिए विस्तृत निर्देश दिए हैं। आयोग ने कहा है कि सभी मतदान केंद्रों पर वीवीपैट मशीनों  का इस्तेमाल किया जाए और इसके साथ ही इन राज्यों में होनेवाले विधानसभा चुनावों में पेपर स्लिप की गिनती के निर्देश भी दिए हैं। चुनाव आयोग ने सीईओ को निर्देश दिया है कि सभी मतदान केंद्रों पर मतदाता सत्यापन कागज ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) मशीनों के उपयोग के अलावा प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में रैंडम आधार पर चुने गए मतदान केंद्रों पर पेपर स्लिप का सत्यापन करना अनिवार्य होगा।

हालांकि पिछले हफ्ते मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को भेजे गए अपने विस्तृत निर्देशों में चुनाव आयोग ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में दर्ज किए गए मतों की गिनती के आखिरी दौर के बाद पेपर स्लिप का सत्यापन किया जाएगा। सीईओ को भेजे पत्र में कहा गया है कि संबंधित रिटर्निग अधिकारी द्वारा उम्मीदवारों या उनके प्रतिनिधियों और चुनाव आयोग द्वारा उस निर्वाचन क्षेत्र के लिए नियुक्त सामान्य पर्यवेक्षक की मौजूदगी में रैंडम आधार पर ड्रॉ द्वारा किसी एक मतदान केंद्र का चयन किया जाएगा। 

इसमें कहा गया है कि ईवीएम से मतदान के आखिरी दौर की समाप्ति के तुरंत बाद यह ड्रॉ किया जाएगा। साथ ही उम्मीदवारों या उनके एजेंटों को रिटर्निग ऑफिसर द्वारा ड्रा के संबंध में 'अग्रिम रूप से अच्छी तरह से' सूचित करना होगा। चुनाव आयोग के निर्देशों में कहा गया है कि वीवीपीएटी पेपर की ऑडिट 'वीवीपैट गिनती बूथ' में की जाएगी, जिसे मतगणना हॉल के अंदर विशेष रूप से तैयार किया जाएगा, जहां वीवीपैट स्लिप तक अनाधिकृत व्यक्ति की पहुंच नहीं होगी। 

 

advertisement