छत्तीसगढ़ / मोदी ने कहा- कांग्रेस सोचती है कि उनकी राजगद्दी एक चायवाला कैसे चुरा ले गया?     |       अशोक गहलोत सरदारपुरा से लड़ेंगे चुनाव, जानें क्या है उनके लिए इस सीट के मायने     |       CVC को आलोक वर्मा के खिलाफ मिलीं 'कुछ गंभीर बातें', सुप्रीम कोर्ट ने वर्मा से जवाब देने को कहा     |       पंजाब में घुसे जैश के सात अातंकी, पुलिस ने जारी किए फोटो, दिल्ली में भी घुसने की फिराक में     |       चक्रवात 'गाजा' की दस्तक से तमिलनाडु में भारी तबाही, अब तक 23 लोगों की मौत     |       सीएम ममता बनर्जी का निशाना: कहा- बीजेपी हिस्ट्री चेंजर है और देश डेंजर में है     |       चंद्रबाबू नायडू की आंध्र सरकार ने CBI को जांच से रोका, केंद्र से बढ़ सकती है और तल्खी     |       'नीच' वाली टिप्पणी: केंद्रीय मंत्री ने मोदी की मिसाल देकर नीतीश कुमार पर बोला हमला     |       बिहार: सपना चौधरी के डांस प्रोग्राम मेंं पुलिस का लाठीचार्ज, मची भगदड़ में एक की मौत     |       जानें- सबरीमाला मंदिर में क्‍या है फसाद की जड़, सुप्रीम फैसला पर आस्‍था की आंच     |       राजा भैया बनाएंगे अपनी पार्टी, आज कर सकते हैं बड़ा ऐलान     |       42 साल की उम्र की इस महिला ने इंटरनेट पर मचाई धूम, जानें इनकी खूबसूरती का राज     |       कॉपीराइट / शादी के वीडियो में अपने गानों के इस्तेमाल पर टी-सीरीज को आपत्ति, 100 फोटोग्राफर्स पर केस     |       शर्मनाक: लिफ्ट में बच्ची से बर्बरता, मारपीट और लूट के आरोप में महिला अरेस्ट     |       PM मोदी के आलोचक टीएम कृष्णा को मिला AAP का साथ, दिल्ली आने का दिया न्योता     |       नोटबंदी नहीं की गई होती, तो भारत की अर्थव्यवस्था ढह जाती : RBI निदेशक एस गुरुमूर्ति     |       वायरल हुआ कमलनाथ का 'बाहुबली' अवतार, शिवराज बने भल्लालदेव     |       Indian Railways: साल भर में 14 करोड़ रुपये के कंबल-तौलिए-चादर चुरा ले गए रेल यात्री!     |       छग / कांग्रेस नेता ने गंगाजल हाथ में लेकर कसम खाई, बोले- सरकार बनते ही करेंगे किसानों का कर्ज माफ     |       12वीं में पढ़ने वाली होमगार्ड की लड़की बन गई 1.5 करोड़ की मालकिन, देखिए एेसे खुली किस्मत     |      

राजनीति


निर्वाचन आयोग ने हिमाचल-गुजरात चुनावों में वीवीपैट के इस्तेमाल का दिया निर्देश

हालांकि पिछले हफ्ते मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को भेजे गए अपने विस्तृत निर्देशों में चुनाव आयोग ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में दर्ज किए गए मतों की गिनती के आखिरी दौर के बाद पेपर स्लिप का सत्यापन किया जाएगा।


election-commission-directs-use-of-vvpat-in-himachal-gujarat-poll

नई दिल्लीः केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारियों को वीवीपैट मशीनों के अनिवार्य इस्तेमाल के लिए विस्तृत निर्देश दिए हैं। आयोग ने कहा है कि सभी मतदान केंद्रों पर वीवीपैट मशीनों  का इस्तेमाल किया जाए और इसके साथ ही इन राज्यों में होनेवाले विधानसभा चुनावों में पेपर स्लिप की गिनती के निर्देश भी दिए हैं। चुनाव आयोग ने सीईओ को निर्देश दिया है कि सभी मतदान केंद्रों पर मतदाता सत्यापन कागज ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) मशीनों के उपयोग के अलावा प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में रैंडम आधार पर चुने गए मतदान केंद्रों पर पेपर स्लिप का सत्यापन करना अनिवार्य होगा।

हालांकि पिछले हफ्ते मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को भेजे गए अपने विस्तृत निर्देशों में चुनाव आयोग ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में दर्ज किए गए मतों की गिनती के आखिरी दौर के बाद पेपर स्लिप का सत्यापन किया जाएगा। सीईओ को भेजे पत्र में कहा गया है कि संबंधित रिटर्निग अधिकारी द्वारा उम्मीदवारों या उनके प्रतिनिधियों और चुनाव आयोग द्वारा उस निर्वाचन क्षेत्र के लिए नियुक्त सामान्य पर्यवेक्षक की मौजूदगी में रैंडम आधार पर ड्रॉ द्वारा किसी एक मतदान केंद्र का चयन किया जाएगा। 

इसमें कहा गया है कि ईवीएम से मतदान के आखिरी दौर की समाप्ति के तुरंत बाद यह ड्रॉ किया जाएगा। साथ ही उम्मीदवारों या उनके एजेंटों को रिटर्निग ऑफिसर द्वारा ड्रा के संबंध में 'अग्रिम रूप से अच्छी तरह से' सूचित करना होगा। चुनाव आयोग के निर्देशों में कहा गया है कि वीवीपीएटी पेपर की ऑडिट 'वीवीपैट गिनती बूथ' में की जाएगी, जिसे मतगणना हॉल के अंदर विशेष रूप से तैयार किया जाएगा, जहां वीवीपैट स्लिप तक अनाधिकृत व्यक्ति की पहुंच नहीं होगी। 

 

advertisement

  • संबंधित खबरें