total lunar eclipse: 67 मिनट ढक जाएगा पूरा चांद, जानें ग्रहण का टाइम - Hindustan     |       मायावती पर विवादित बयान, बीजेपी विधायक साधना सिंह ने जताया खेद - Navbharat Times     |       ब्रिटेन को पछाड़कर 2019 में दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है भारत: पीडब्ल्यूसी - Dainik Bhaskar     |       ओडिशा कांग्रेस में संग्राम जारी, पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीकांत जेना को पार्टी ने बाहर निकाला- Amarujala - अमर उजाला     |       कुल्हड़ वाली चाय पी लो... 15 साल बाद फिर रेलवे स्टेशनों में गूंजेगी ये आवाज - आज तक     |       यूनाइटेड इंडिया रैली के लिए कोलकाता में जुटा विपक्ष, मोदी-शाह पर साधा निशाना - BBC हिंदी     |       कर्नाटक: कांग्रेसी विधायकों में रिजॉर्ट में 'मारपीट', एक अस्‍पताल में भर्ती, पार्टी बोली- छाती में दर्द था - News18 Hindi     |       शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने PM मोदी को बताया तानाशाह, झारखंड के भड़के मंत्री ने कहा गद्दार - दैनिक जागरण     |       मेक्सिको: तेल पाइपलाइन में हुए धमाके से अब तक 73 लोगों की मौत, 74 घायल - आज तक     |       Mauritian Prime Minister Pravind Jugnauth to arrive in India on 8-day visit - Times Now     |       नशे में महिला सैनिक ने पुरुष साथी का किया यौन शोषण, नहीं मिली सजा - trending clicks - आज तक     |       Two Russian fighter jets collide over Sea of Japan - Times Now     |       पेट्रोल-डीजल के दाम में रविवार को हुई भारी बढ़ोतरी, फटाफट जानें नए रेट्स - News18 Hindi     |       अनिल अंबानी के बेटे अंशुल बने कंपनी में ट्रेनी, न्यूयॉर्क से की पढ़ाई - आज तक     |       फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन की सेल, इन आइटमों पर मिल रहा है भारी छूट - Jansatta     |       मिनी अर्टिगा जैसी दिखती है न्‍यू WagonR, आएगी अलॉय व्‍हील के साथ - Zee Business हिंदी     |       व्हाय चीट इंडिया का बॉक्स ऑफिस पर पहला दिन, इमरान हाशमी को झटका - Webdunia Hindi     |       युवराज सिंह की पत्नी एक्ट्रेस हेजल कीच ने सोशल मीडिया पर सुनाई अपनी दुखभरी कहानी - Hindustan     |       विवादित प्रॉपर्टी को लेकर बेटी सारा के साथ थाने पहुंचीं अमृता सिंह - नवभारत टाइम्स     |       जाह्नवी कपूर अपनी बहन खुशी संग कुछ यूं दिए पोज, Video में दिखा फैशनेबल अंदाज- देखें - NDTV India     |       क्रिकेट/ अमला ने तोड़ा कोहली का रिकॉर्ड, सबसे कम पारियों में लगाए 27 शतक - Dainik Bhaskar     |       ऑस्ट्रेलियन ओपन/ फेडरर उलटफेर का शिकार, 15वीं रैंकिंग वाले सितसिपास से हारे; नडाल की जीत - Dainik Bhaskar     |       ऑस्ट्रेलिया से वनडे सीरीज़ जीतने के बाद, ये मैच देखने पहुंचे विराट कोहली, फोटो हुई वायरल - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       फेडरर के साथ फोटो पर बुरी फंसीं अनुष्का, इस वजह से हो गईं ट्रोल - Sports - आज तक     |      

खेल


फीफा यू-17 विश्व कप: खिताबी मुकाबले में आमने-सामने स्पेन-इंग्लैंड

बता दें कि इंग्लैंड ने कोलकाता के साल्ट लेक स्टेडियम में खेले गए पहले सेमीफाइनल में ब्राजील को अपने बेहतरीन स्ट्राइकर रिहान ब्रिवस्टर की हैट्रिक के दम पर मात देते हुए फाइनल में जगह बनाई।


fifa-u-17-world-cup-spain-england-face-to-face-in-title

नई दिल्लीः भारत की मेजबानी में खेले जा रहे फीफा अंडर-17 विश्व कप का खिताबी मुकाबला शनिवार को स्पेन और इंग्लैंड के बीच खेला जाना है। इंग्लैंड और स्पेन ने बुधवार को सेमीफाइनल में क्रमश: ब्राजील और माली को 3-1 के समान स्कोर से मात देते हुए खिताबी भिड़ंत तय की है। हालांकि ब्राजील और माली शनिवार को ही तीसरे स्थान के लिए मुकाबला करेंगी।

बता दें कि इंग्लैंड ने कोलकाता के साल्ट लेक स्टेडियम में खेले गए पहले सेमीफाइनल में ब्राजील को अपने बेहतरीन स्ट्राइकर रिहान ब्रिवस्टर की हैट्रिक के दम पर मात देते हुए फाइनल में जगह बनाई। इंग्लैंड के लिए ब्रिवस्टर ने 10वें, 39वें और 77वें मिनट में गोल दागे। ब्राजील के लिए एक मात्र गोल वेस्ले ने 21वें मिनट में किया। वहीं मुंबई के डी. वाई. पाटिल स्टेडियम में खेले गए मैच में स्पेन ने अबेल रुइज द्वारा 19वें और 43वें मिनट में और फेरान टोरेस द्वारा 71वें मिनट में किए गए गोल के दम पर माली को मात देकर फाइनल का सफर तय किया। माली के लिए एकमात्र गोल नडियाये ने 74वें मिनट में किया।

गौरतलब है कि पहले हाफ में दो गोल करते हुए इंग्लैंड ने 2-1 की बढ़त ले ली थी। दूसरे हाफ में ब्राजील ने बराबरी की कोशिशें की लेकिन सफल नहीं रही। यह मैच पहले गुवाहाटी में खेला जाना था, लेकिन बारिश के कारण मैदान की स्थिति अच्छी न होने के कारण इसे कोलकाता स्थानांतरित किया गया जहां ब्राजील के ज्यादा प्रशंसक देखे गए। हालांकि ब्राजील की टीम ने आक्रामक फुटबाल खेली और लगातार हमले करती रही, लेकिन इंग्लैंड के संतुलित मिडफील्ड ने उसे मौकों को भुनाने नहीं दिया। इसमें इंग्लैंड के फिलिप फोडेन का अहम रोल रहा। शुरुआती मिनटों में ही गोल करते हुए इंग्लैंड ने अपनी स्थिति मजबूत कर ली थी। मोर्गन गिब्स ने वेस्ले से गेंद को अपने कब्जे में लिया और ब्रिवस्टर को पास दिया। ब्रिवस्टर ने गेंद को गोलपोस्ट की तरफ मारा लेकिन ब्राजीलियाई गोलकीपर ब्राजाओ ने उनकी किक रोक दी, लेकिन ब्रिवस्टर रिबाउंड पर गोल करने में सफल रहे।

कुछ देर बाद वेस्ले ने ब्राजील को बराबरी पर ला दिया। पाउलिंहो और वेस्ले की जोड़ी ने ब्राजील के लिए गोल किया। पाउलिंहो ने वेस्ले को क्रॉस पास दिया जिन्होंने रिबाउंड पर गोल करते हुए स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। बराबरी का स्कोर 18 मिनट तक ही रह सका। बॉक्स के दाहिने छोर से फोडेन ने सीसेग्नोन को गेंद पास की जिन्होंने ब्राजीलियाई खिलाड़ी को छकाते हुए ब्रिवस्टर तक गेंद पहुंचा दी। उन्होंने मौका नहीं गंवाया और इस विश्व कप में अपना छठा दोल दागा। एक मिनट बाद ब्राजील के स्ट्राइकर लिंकन ने गोल करने का मौका गंवा दिया। दूसरे हाफ में ब्राजील ने कुछ मौके गंवाए। युरी अल्बटरे गोल करने के करीब थे लेकिन गोलकीपर को छका नहीं पाए। वेवेरसन ने इसके बाद लिंकन को पास दिया, लेकिन उनका हेडर गोलपोस्ट के ऊपर से निकल गया। 

इसी बीच ब्रिवस्टर ने एक और गोल मारकर अपनी टीम की जीत पक्की कर दी। फोडेन ने गेंद इमिले स्मिथ रोवे को दी। रोवे ने ब्रिवस्टर को क्रॉस पास दिया और उन्होंने अपनी हैट्रिक पूरी की। वहीं स्पेन चौथी बार विश्व कप से फाइनल में पहुंची है, हालांकि इससे पहले तीनो मौकों पर वह जीत हासिल नहीं कर सकी थी। यह चौथी बार है जब स्पेन ने इस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई है। हालांकि वह इससे पहले एक भी बार खिताब अपने नाम नहीं कर सकी। इससे पहले वह 1991 में घाना से और 2003 में ब्राजील से 0-1 के अंतर से हार गई थी। 2007 में नाइजीरिया ने उसे हराया था। 1997 और 2009 में वह तीसरे स्थान पर रही थी। 

अपने पहले खिताब के सपने को लेकर मैदान पर उतरी स्पेन ने दूसरे मिनट में ही गोल करने का मौका बनाया। रुइज ने दाईं छोर से गेंद को गोलपोस्ट में डालना चाहा, लेकिन वह असफल रहे। माली ने भी नौवें मिनट में गोल करने की कोशिश की। वह भी असफल रही। माली के डिफेंस की गलती के कारण ब्राजील को पेनाल्टी मिली जिसे रुइज ने गोल में तब्दील करते हुए अपनी टीम का खाता खोला। हाफ टाइम के बाद स्पेन ने अपनी बढ़त को दोगुना कर लिया। गोमेज ने रुइज को पास दिया जिसे उन्होंने पहले प्रयास में नेट में डाल स्कोर 2-0 कर दिया।  माली ने हालांकि 62वें मिनट में बराबरी कर ली थी। चेट ओयुमार डोउकोरे ने गेंद को नेट में डाल दिया था, लेकिन रेफरी ने इसे गोल करार नहीं दिया।  टोरेस ने गोमेज के पास को गोलपोस्ट में डालते हुए स्कोर 3-1 कर दिया और स्पेन आसानी से चौथी बार फाइनल में जगह बना पाने में सफल रहा। 

advertisement

  • संबंधित खबरें