देश के सबसे भारी रॉकेट 'बाहुबली' से जीसैट-29 लॉन्‍च, कश्मीर और नॉर्थ ईस्ट में जीवन करेगा आसान     |       राफेल केस की जांच हो या नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित, सरकार ने कीमत को लेकर दी ये दलील     |       Birthday Special: चीन से हार के बाद जवाहरलाल नेहरू ने क्या कहा था?     |       राजस्थान विधानसभा चुनाव: भाजपा ने जारी की 31 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट     |       राहुल की हरी झंडी, राजस्थान में गहलोत और सचिन पायलट दोनों लड़ेंगे चुनाव     |       कश्मीर पर शाहिद अफरीदी का यू टर्न, कहा- अपने देश के लिए हूं निष्ठावान     |       सुप्रीम कोर्ट में सरकार ने कहा- राफेल डील की समीक्षा करना कोर्ट का नहीं, विशेषज्ञों का काम     |       टूट गया चौटाला परिवार, जिस इनेलो को खड़ा किया उसी से निकाले गए अजय चौटाला     |       हमलावर: एनडीए में अलग-थलग पड़े उपेन्द्र को सांसद अरुण का साथ     |       संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसबंर से, क्या राम मंदिर पर कानून लाएगी मोदी सरकार?     |       सिंगापुर / मोदी ने 23 देशों के दो अरब लोगों को जोड़ने वाला बैंकिंग सॉल्यूशन लॉन्च किया     |       शराब नहीं मिली तो विदेशी महिला ने फ्लाइट में किया हंगामा, देखें वीडियो     |       'पहाड़ों की साफ हवा' की होने लगी होम डिलीवरी, जानिए क्या है रेट     |       डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मनाई दिवाली, ट्वीट में हिंदुओं को ही बधाई देना भूले     |       कमलनाथ ने मुसलमानों से कहा, 'चुनावों तक RSS से सतर्क रहें, बाद में हम देख लेंगे'     |       आज से शुरू हो रही है रामायण एक्सप्रेस ट्रेन     |       तृप्ति देसाई का एलान, बोलीं- 17 नवंबर को सबरीमाला मंदिर में करूंगी प्रवेश, सीएम से मांगी सुरक्षा     |       25 नवंबर से पहले सुरक्षा दें नहीं तो छोड़ देंगे अयोध्या: इकबाल अंसारी     |       'तुम घर छोड़ गई, मैं दुनिया छोड़कर जा रहा हूं' 17 पेज का सुसाइड नोट लिखकर लगा ली फांसी     |       छठ पूजा पर कुरुक्षेत्र के सरोवर में उमड़े श्रद्धालु     |      

खेल


फीफा यू-17 विश्व कप: खिताबी मुकाबले में आमने-सामने स्पेन-इंग्लैंड

बता दें कि इंग्लैंड ने कोलकाता के साल्ट लेक स्टेडियम में खेले गए पहले सेमीफाइनल में ब्राजील को अपने बेहतरीन स्ट्राइकर रिहान ब्रिवस्टर की हैट्रिक के दम पर मात देते हुए फाइनल में जगह बनाई।


fifa-u-17-world-cup-spain-england-face-to-face-in-title

नई दिल्लीः भारत की मेजबानी में खेले जा रहे फीफा अंडर-17 विश्व कप का खिताबी मुकाबला शनिवार को स्पेन और इंग्लैंड के बीच खेला जाना है। इंग्लैंड और स्पेन ने बुधवार को सेमीफाइनल में क्रमश: ब्राजील और माली को 3-1 के समान स्कोर से मात देते हुए खिताबी भिड़ंत तय की है। हालांकि ब्राजील और माली शनिवार को ही तीसरे स्थान के लिए मुकाबला करेंगी।

बता दें कि इंग्लैंड ने कोलकाता के साल्ट लेक स्टेडियम में खेले गए पहले सेमीफाइनल में ब्राजील को अपने बेहतरीन स्ट्राइकर रिहान ब्रिवस्टर की हैट्रिक के दम पर मात देते हुए फाइनल में जगह बनाई। इंग्लैंड के लिए ब्रिवस्टर ने 10वें, 39वें और 77वें मिनट में गोल दागे। ब्राजील के लिए एक मात्र गोल वेस्ले ने 21वें मिनट में किया। वहीं मुंबई के डी. वाई. पाटिल स्टेडियम में खेले गए मैच में स्पेन ने अबेल रुइज द्वारा 19वें और 43वें मिनट में और फेरान टोरेस द्वारा 71वें मिनट में किए गए गोल के दम पर माली को मात देकर फाइनल का सफर तय किया। माली के लिए एकमात्र गोल नडियाये ने 74वें मिनट में किया।

गौरतलब है कि पहले हाफ में दो गोल करते हुए इंग्लैंड ने 2-1 की बढ़त ले ली थी। दूसरे हाफ में ब्राजील ने बराबरी की कोशिशें की लेकिन सफल नहीं रही। यह मैच पहले गुवाहाटी में खेला जाना था, लेकिन बारिश के कारण मैदान की स्थिति अच्छी न होने के कारण इसे कोलकाता स्थानांतरित किया गया जहां ब्राजील के ज्यादा प्रशंसक देखे गए। हालांकि ब्राजील की टीम ने आक्रामक फुटबाल खेली और लगातार हमले करती रही, लेकिन इंग्लैंड के संतुलित मिडफील्ड ने उसे मौकों को भुनाने नहीं दिया। इसमें इंग्लैंड के फिलिप फोडेन का अहम रोल रहा। शुरुआती मिनटों में ही गोल करते हुए इंग्लैंड ने अपनी स्थिति मजबूत कर ली थी। मोर्गन गिब्स ने वेस्ले से गेंद को अपने कब्जे में लिया और ब्रिवस्टर को पास दिया। ब्रिवस्टर ने गेंद को गोलपोस्ट की तरफ मारा लेकिन ब्राजीलियाई गोलकीपर ब्राजाओ ने उनकी किक रोक दी, लेकिन ब्रिवस्टर रिबाउंड पर गोल करने में सफल रहे।

कुछ देर बाद वेस्ले ने ब्राजील को बराबरी पर ला दिया। पाउलिंहो और वेस्ले की जोड़ी ने ब्राजील के लिए गोल किया। पाउलिंहो ने वेस्ले को क्रॉस पास दिया जिन्होंने रिबाउंड पर गोल करते हुए स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। बराबरी का स्कोर 18 मिनट तक ही रह सका। बॉक्स के दाहिने छोर से फोडेन ने सीसेग्नोन को गेंद पास की जिन्होंने ब्राजीलियाई खिलाड़ी को छकाते हुए ब्रिवस्टर तक गेंद पहुंचा दी। उन्होंने मौका नहीं गंवाया और इस विश्व कप में अपना छठा दोल दागा। एक मिनट बाद ब्राजील के स्ट्राइकर लिंकन ने गोल करने का मौका गंवा दिया। दूसरे हाफ में ब्राजील ने कुछ मौके गंवाए। युरी अल्बटरे गोल करने के करीब थे लेकिन गोलकीपर को छका नहीं पाए। वेवेरसन ने इसके बाद लिंकन को पास दिया, लेकिन उनका हेडर गोलपोस्ट के ऊपर से निकल गया। 

इसी बीच ब्रिवस्टर ने एक और गोल मारकर अपनी टीम की जीत पक्की कर दी। फोडेन ने गेंद इमिले स्मिथ रोवे को दी। रोवे ने ब्रिवस्टर को क्रॉस पास दिया और उन्होंने अपनी हैट्रिक पूरी की। वहीं स्पेन चौथी बार विश्व कप से फाइनल में पहुंची है, हालांकि इससे पहले तीनो मौकों पर वह जीत हासिल नहीं कर सकी थी। यह चौथी बार है जब स्पेन ने इस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई है। हालांकि वह इससे पहले एक भी बार खिताब अपने नाम नहीं कर सकी। इससे पहले वह 1991 में घाना से और 2003 में ब्राजील से 0-1 के अंतर से हार गई थी। 2007 में नाइजीरिया ने उसे हराया था। 1997 और 2009 में वह तीसरे स्थान पर रही थी। 

अपने पहले खिताब के सपने को लेकर मैदान पर उतरी स्पेन ने दूसरे मिनट में ही गोल करने का मौका बनाया। रुइज ने दाईं छोर से गेंद को गोलपोस्ट में डालना चाहा, लेकिन वह असफल रहे। माली ने भी नौवें मिनट में गोल करने की कोशिश की। वह भी असफल रही। माली के डिफेंस की गलती के कारण ब्राजील को पेनाल्टी मिली जिसे रुइज ने गोल में तब्दील करते हुए अपनी टीम का खाता खोला। हाफ टाइम के बाद स्पेन ने अपनी बढ़त को दोगुना कर लिया। गोमेज ने रुइज को पास दिया जिसे उन्होंने पहले प्रयास में नेट में डाल स्कोर 2-0 कर दिया।  माली ने हालांकि 62वें मिनट में बराबरी कर ली थी। चेट ओयुमार डोउकोरे ने गेंद को नेट में डाल दिया था, लेकिन रेफरी ने इसे गोल करार नहीं दिया।  टोरेस ने गोमेज के पास को गोलपोस्ट में डालते हुए स्कोर 3-1 कर दिया और स्पेन आसानी से चौथी बार फाइनल में जगह बना पाने में सफल रहा। 

advertisement

  • संबंधित खबरें