सावधानः निपाह की आशंका से दिल्ली-एनसीआर में भी अलर्ट, केरल से आने वाले केले धोकर खाएं     |       न्यूज टाइम इंडिया : बुधवार को कुमारास्वामी लेंगे सीएम पद की शपथ     |       शिवसेना अफजल खान का काम कर रही है: योगी     |       वैष्णो देवी पर्वत पर लगी भीषण आग, यात्रा में जाने के सभी मार्ग बंद     |       प्रेस रिव्यू: मानव ढाल बनाने वाले मेजर गोगोई से महिला को लेकर पूछताछ     |       अमेरिकी बाजार की स्थिरता का असर भारतीय शेयर बाजार पर, हरे निशान के साथ खुले बाजार     |       तूतीकोरिन में धारा 144 लागू, प्लांट बंद होने से 32500 नौकरियों पर चली कुल्हाड़ी     |       पीएम मोदी ने कबूल किया विराट का फिटनेस चैलेंज, कहा- जल्द जारी करूंगा वीडियो     |       गीता से शादी के लिए देशभर से आए 26 प्रस्ताव, 15 युवकों में से चुनेगी हमसफर, सबसे करेगी मुलाकात     |       यूपी: पेंशन लेने के लिए मां की लाश को चार महीने तक घर में छिपाए रखा     |       बीजेपी के 13 और व‍िधायकों को धमकी, दाउद के गुर्गों का नाम सामने आया     |       पैरंट्स का 750 करोड़ है प्राइवेट स्कूलों की जेब में     |       गंगा दशहरा आज: हिंदू ही नहीं मुसलमानों व सिखों की भी है गंगा में आस्था, गोता लगाते ही मिलेगी पापों से मुक्ति     |       मार्च तक सात महीने में 39 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन : ईपीएफओ आंकड़े     |       IPL 2018, KKR VS RR: जीत कर भी ये शर्मनाक रिकॉर्ड अपने नाम कर गई केकेआर     |       पीएम मोदी और नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रूट के बीच द्विपक्षीय बैठक आज, इन मामलों पर होगी बड़ी डील     |       एसएससी पेपर लीक मामले में सीबीआई ने की कार्रवाई, पटना, जहानाबाद, पूर्णिया समेत देश के 12 शहरों में हुई छापेमारी     |       मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में भर्ती हुए लालू, इलाज में जुटी सात डॉक्टरों की टीम     |       चुनौती के साथ समस्या बना मालदीव, चीन की तरफ ज्यादा झुकाव : नौसेना प्रमुख     |       बिहार : मांझी ने तेजस्वी यादव को माना अगला CM, बताया खुद से बड़ा नेता     |      

राजनीति


अरुण जेटली ने कहा- एफडीआई पर लोगों की बदली राय

जेटली ने कहा कि इससे पहले रक्षा जैसे क्षेत्रों को एफडीआई के योग्य नहीं माना जाता था, लेकिन अब हम इन क्षेत्रों में यह कहकर लोगों की राय बदलने में सक्षम हुए हैं कि भारत में विनिर्माण क्षेत्र को स्थापित करने के लिए विदेशी निपुणता को आमंत्रित करना बेहतर है।


finance-minister-arun-jaitley-says-public-opinion-changed-on-fdi-in-defense

न्यूयॉर्क: हम अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) लाने में सक्षम हैं। उत्पाद के क्षेत्र में विदेशी निवेश आमंत्रित करने के लिए सरकार ने जनता की राय बदलने में  सक्षम हुई है। पहले इन क्षेत्रों को विचारधारा एवं सुरक्षा कारणों से विदेशी निवेश योग्य नहीं माना जाता था। यह बातें भारतीय वित्तमंत्री जेटली ने सोमवार को न्यूयार्क में भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) और अमेरिका-भारत व्यापार परिषद द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित एक निवेशक गोलमेज बैठक में कहीं।

जेटली ने कहा कि इससे पहले रक्षा जैसे क्षेत्रों को एफडीआई के योग्य नहीं माना जाता था, लेकिन अब हम इन क्षेत्रों में यह कहकर लोगों की राय बदलने में सक्षम हुए हैं कि भारत में विनिर्माण क्षेत्र को स्थापित करने के लिए विदेशी निपुणता को आमंत्रित करना बेहतर है। इससे हमने देखा कि रक्षा में निवेश करने के लिए कई संयुक्त उपक्रम सामने आ रहे हैं। बता दें कि जेटली एक सप्ताह के आधिकारिक दौरे पर अमेरिका में हैं और वह इस दौरान वाशिंगटन में होने वाले विश्व बैंक एवं अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की वार्षिक बैठक में हिस्सा लेंगे।

वहीं वित्तमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने भारत में एफडीआई को लेकर प्रक्रिया सरल बनाई है। उन्होंने कहा कि 95 प्रतिशत एफडीआई स्वचालित मार्ग से आता है। मेरे अंतिम बजट में, मैंने विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड को समाप्त करने की भी बात कही थी। उन्होंने कहा कि जो निकाय एफडीआई प्रस्तावों पर रोक लगाता हो, एफडीआई नियमों को उदार किए जाने के बाद उसका उद्देश्य समाप्त हो गया।

advertisement