कैराना उपचुनाव: विपक्ष ने चला एकता का दांव, बीजेपी की फौज पर विपक्ष की गुगली     |       खतराः केरल को क्रॉस कर कर्नाटक पहुंचा 'निपाह' वायरस, मेंगलुरु में मिले 2 संदिग्ध, कोझिकोड न जाने की सलाह     |       धुर-विरोधी केरल के मुख्यमंत्री को ममता ने दी बधाई, परेश रावल ने ली चुटकी     |       आतंकी हाफिज सईद को दूसरे देश भेजने की सलाह देने की खबर गलत: चीन     |       न्यूज टाइम इंडिया : बुधवार को कुमारास्वामी लेंगे सीएम पद की शपथ     |       राहुल का PM मोदी को 'विराट' चैलेंज- पेट्रोल-डीजल के दाम घटाकर दिखाइए वर्ना...     |       यूपी ATS के हत्थे चढ़ा ISI एजेंट, रसोईया बन भारतीय राजनयिक के घर में करता था काम     |       पानी की समस्या दूर करने के लिए 70 साल की उम्र में बुजुर्ग ने उठाया फावड़ा, अकेले खोद रहा है कुआं     |       पुलिस फायरिंग में 13 मौतों पर प्रदर्शन जारी, तूतीकोरिन जा सकते हैं राहुल गांधी     |       नेक इंजरी के कारण कोहली नहीं खेलेंगे काउंटी मैच, 15 जून को फिर मेडिकल टेस्ट     |       पत्थरबाज को जीप पर बांधकर घुमाने वाले मेजर गोगोई एक होटल से हिरासत में लिए गए     |       8 राज्यों में भीषण गर्मी: 4 दिन के लिए रेड अलर्ट, विशेषज्ञों ने कहा- तपिश बढ़ने की वजह सोलर रेडिएशन     |       प्रियंका चोपड़ा के रोहिंग्‍या से मिलने पर भड़के बीजेपी सांसद, बोले- ऐसे लोगों को देश से निकालो     |       माता वैष्णो देवी के आसपास त्रिकुटा के जंगलों में लगी आग बुझाने के लिए वायुसेना के 2 हेलिकॉप्टर रवाना     |       EC ने 'एक राष्ट्र-एक चुनाव' का दिया विकल्‍प, कहा- एक साल में हो एक चुनाव     |       अब BJP के इस विधायक को मिली जान से मारने की धमकी, बढ़ाई गई सुरक्षा     |       ZEE जानकारीः प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई करने वालों को गोली मार दी गई?     |       बांग्लादेशी पीएम शेख हसीना के आगम पर केएनयू में युद्ध स्तर पर तैयारी     |       दिल्ली सरकार का आदेश, ब्याज के साथ बढ़ाई हुई फीस लौटाएं स्कूल     |       गंगा दशहरा: जानिए महत्‍व, पूजा विधि, शुभ मुहूर्त, मंत्र और व्रत कथा     |      

राज्य


पुष्पक विमान से आयोध्या पधारेंगे भगवान राम, सीएम करेंगे अगवानी

हालांकि अयोध्या की आत्मा में भगवान राम बसते हैं और इसलिए पूरे अयोध्या वासी भगवान राम की वापसी के इतिहास को दोहराने के लिए आतुर रहते हैं। उनकी इस उत्सुकता को सीएम योगी ने और भी खास बना दिया है।


god-ram-reached-ayodhya-pushpak-viman-cm-yogi-adityanath-received

अयोध्या: यह दिवाली अध्योया वासियों के लिए बहुत ही खास मानी जा रही है, क्योंकि इस दिन राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ स्वंय मुनि वशिष्ठ बनकर भगवान राम की अगवानी करेंगे। वहीं इससे अध्योयावासियों में एक बार फिर से राम मंदिर को लेकर उम्मीद जगी है।

हालांकि अयोध्या की आत्मा में भगवान राम बसते हैं और इसलिए पूरे अयोध्या वासी भगवान राम की वापसी के इतिहास को दोहराने के लिए आतुर रहते हैं। उनकी इस उत्सुकता को सीएम योगी ने और भी खास बना दिया है। इस बार सीएम योगी के नेतृत्व में पहली बार सरयू तट पर दिव्य दिपावली मनाई जा रही है।

वहीं सरयू नदी के सहस्त्रधारा घाट पर आरती की व्यवस्था देख रहे दशरथ मंदिर के महंत बृजमोहन दास इस तैयारी को लेकर काफी उत्साहित हैं। वह भगवान राम की वापसी को लेकर इतने उत्साहित हैं कि पूछने पर रामचरित मानस में लिखी पंक्तियां गुनगुनाने लगते हैं।

चलत विमान कोलाहल होई
जय श्री राम कहत सब कोई।

गौरतलब है कि कल्याण सिंह के शासनकाल 1991 के बाद पहली बार अयोध्या में भगवान राम को लेकर इतनी हलचल हुई है, लेकिन इस बार आक्रोश, भय या उत्तेजना का माहौल नहीं है बल्कि लोगों में उस क्षण को जीने की उत्कंठा है। फैजाबाद से अयोध्या की ओर बढ़ते ही स्वागत द्वारों की शृंखला शुरू हो जाती है। पोस्टरों में सिर्फ भगवान राम ही नहीं, सीएम योगी भी हैं और कही-कहीं रामायण की चौपाइयां भी दिख रहीं हैं। योगी में लोगों को मंदिर के साथ ही विकास की उम्मीदें भी नजर आती हैं। वहीं बिड़ला धर्मशाला के निकट लोगों आपस में इस बात की चर्चा करते नजर आ रहे हैं कि योगी फैजाबाद को अरबों रुपए देगें।

बता दें कि सीएम योगी के गुरु अवेद्यनाथ और दिगंबर अखाड़े के ब्रह्मलीन मंहत राम चंद्र परमहंस के घनिष्ठ संबंधों होने की वजह से अयोध्या से उनका भावनात्मक रिश्ता है। यही वजह रही है कि सीएम बनने के बाद से अब तक योगी तीसरी बार अयोध्या आ रहे हैं। हालांकि राम मंदिर को लेकर लोगों की उम्मीदों इसलिए भी बढ़ गई हैं क्योंकि मुख्य आयोजन स्थल से महज दो किमी दूर ही पत्थर तराशने का काम चल रहा है। इस पर महंत परमहंस रामचंद्र दास सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष नारायण मिश्र कहते हैं कि यह एक अलग पक्ष है। वहीं अयोध्या राज परिवार से जुड़े कवि कलाविद यतींद्र मिश्र इस बार दिपावली पर हो रहे भव्य आयोजन को लेकर कहते हैं कि यह अहम सांस्कृतिक पहल है। इससे अय़ोध्या की दीपावली का गौरव फिर से वापस आ जाएगा।

हालांकि अयोध्यावासियों की इस बार की दिपावली खास बनाने के लिए प्रशासन भी पूरी तैयारियों में जुट गया है। सरयू के किनारे लगभग 4 किमी के दायरे में भगवान राम की अगवानी को लेकर जमकर तैयारियां चल रहीं हैं। वहीं राजधानी से आए पुलिस अधिकारी नईमुल हसन बड़े उत्साह से हेलीपैड दिखाते हैं, जहां भगवान राम उतरेंगे और सीएम योगी व राज्यपाल राम नाईक उनकी अगवानी करेंगे। प्रमुख सचिव पर्यटन अवनीश अवस्थी के लिए यह समारोह प्रतिष्ठा का प्रश्न बना है। पूरे समारोह की संरचना उन्होंने ही की है और एक हफ्ते से हर दूसरे दिन वह यहां आ रहे हैं। हालांकि अवस्थी कहते हैं इस पूरे कार्यक्रम को सांस्कृतिक चेतना के रूप में भी देखा जाना चाहिए। अयोध्या के हर वर्ग की इसमें प्रत्यक्ष भूमिका है। अवधपुर और जनकपुर वासियों के रूप में छात्र-छात्राएं नजर आएंगी।

 

 

advertisement