LIVE: अविश्वास प्रस्ताव पर अग्निपरीक्षा से पहले PM मोदी ने बुलाई कोर ग्रुप की बैठक     |       डॉलर की तुलना में रुपये ने छुआ 69.12 का ऐतिहासिक निचला स्तर     |       यात्री और माल वाहनों के पहिये जाम, लोगों की फजीहत     |       पीएम मोदी के पिछले 4 साल के विदेश दौरे में खर्च हुए 1484 करोड़ रुपये     |       अगस्त से पटनावासियों के हाथ में होगा बैंगनी रंग का नया सौ रुपये का नोट     |       ये है BJP सांसद की DSP बेटी, जो 'कैश फॉर जॉब' घोटाले में हुई अरेस्ट     |       AAP नेता संजय सिंह का मुख्य सचिव पर गंभीर आरोप, कहा- वे भ्रष्टाचारियों से मिले हुए हैं     |       चीफ जस्टिस पर SC कॉलेजियम के सुझाव को सरकार ने अस्वीकार किया     |       गोपाल दास नीरज के निधन से एक युग का अंत, आम जन से लेकर राष्ट्रपति तक ने कहा- 'नमन'     |       सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण 27 जुलाई को, जानें जरूरी और काम की बातें     |       मेरठ में पूर्व सांसद के भाई की मीट फैक्ट्री में गैस से तीन की मौत     |       भारत और अमेरिका की नई दिल्ली में 6 सितंबर को होगी 2+2 वार्ता     |       14 मिनट में बैंक के अंदर से 20 लाख पार     |       शिखर वार्ता के बाद व्लादीमिर पुतिन के प्रस्ताव को डोनल्ड ट्रंप ने किया ख़ारिज     |       Jio का मानसून हंगामा ऑफर आज से, जानें कैसे 500 रुपए में मिलेगा नया जियो फोन     |       Dhadak Movie Review: फिर से पहले प्यार की मासूमियत को करना चाहते हैं महसूस, तो देखें जाह्नवी और ईशान की धड़क     |       ट्रेन का जनरल टिकट अब घर में बैठें अपने स्मार्टफोन से करें बुक, लॉन्च हुआ नया एप     |       जन्म के समय था वजन मात्र 375 ग्राम, डॉक्टरों के प्रयास से जीवित बच गई बच्ची     |       चमोली के मलारी में बादल फटा, भूस्खलन से डेरों में पांच मजदूर दबे     |       लोन डिफॉल्टरों की देश-विदेश की सारी नामी-बेनामी प्रॉपर्टी होगी जब्त     |      

राज्य


पुष्पक विमान से आयोध्या पधारेंगे भगवान राम, सीएम करेंगे अगवानी

हालांकि अयोध्या की आत्मा में भगवान राम बसते हैं और इसलिए पूरे अयोध्या वासी भगवान राम की वापसी के इतिहास को दोहराने के लिए आतुर रहते हैं। उनकी इस उत्सुकता को सीएम योगी ने और भी खास बना दिया है।


god-ram-reached-ayodhya-pushpak-viman-cm-yogi-adityanath-received

अयोध्या: यह दिवाली अध्योया वासियों के लिए बहुत ही खास मानी जा रही है, क्योंकि इस दिन राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ स्वंय मुनि वशिष्ठ बनकर भगवान राम की अगवानी करेंगे। वहीं इससे अध्योयावासियों में एक बार फिर से राम मंदिर को लेकर उम्मीद जगी है।

हालांकि अयोध्या की आत्मा में भगवान राम बसते हैं और इसलिए पूरे अयोध्या वासी भगवान राम की वापसी के इतिहास को दोहराने के लिए आतुर रहते हैं। उनकी इस उत्सुकता को सीएम योगी ने और भी खास बना दिया है। इस बार सीएम योगी के नेतृत्व में पहली बार सरयू तट पर दिव्य दिपावली मनाई जा रही है।

वहीं सरयू नदी के सहस्त्रधारा घाट पर आरती की व्यवस्था देख रहे दशरथ मंदिर के महंत बृजमोहन दास इस तैयारी को लेकर काफी उत्साहित हैं। वह भगवान राम की वापसी को लेकर इतने उत्साहित हैं कि पूछने पर रामचरित मानस में लिखी पंक्तियां गुनगुनाने लगते हैं।

चलत विमान कोलाहल होई
जय श्री राम कहत सब कोई।

गौरतलब है कि कल्याण सिंह के शासनकाल 1991 के बाद पहली बार अयोध्या में भगवान राम को लेकर इतनी हलचल हुई है, लेकिन इस बार आक्रोश, भय या उत्तेजना का माहौल नहीं है बल्कि लोगों में उस क्षण को जीने की उत्कंठा है। फैजाबाद से अयोध्या की ओर बढ़ते ही स्वागत द्वारों की शृंखला शुरू हो जाती है। पोस्टरों में सिर्फ भगवान राम ही नहीं, सीएम योगी भी हैं और कही-कहीं रामायण की चौपाइयां भी दिख रहीं हैं। योगी में लोगों को मंदिर के साथ ही विकास की उम्मीदें भी नजर आती हैं। वहीं बिड़ला धर्मशाला के निकट लोगों आपस में इस बात की चर्चा करते नजर आ रहे हैं कि योगी फैजाबाद को अरबों रुपए देगें।

बता दें कि सीएम योगी के गुरु अवेद्यनाथ और दिगंबर अखाड़े के ब्रह्मलीन मंहत राम चंद्र परमहंस के घनिष्ठ संबंधों होने की वजह से अयोध्या से उनका भावनात्मक रिश्ता है। यही वजह रही है कि सीएम बनने के बाद से अब तक योगी तीसरी बार अयोध्या आ रहे हैं। हालांकि राम मंदिर को लेकर लोगों की उम्मीदों इसलिए भी बढ़ गई हैं क्योंकि मुख्य आयोजन स्थल से महज दो किमी दूर ही पत्थर तराशने का काम चल रहा है। इस पर महंत परमहंस रामचंद्र दास सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष नारायण मिश्र कहते हैं कि यह एक अलग पक्ष है। वहीं अयोध्या राज परिवार से जुड़े कवि कलाविद यतींद्र मिश्र इस बार दिपावली पर हो रहे भव्य आयोजन को लेकर कहते हैं कि यह अहम सांस्कृतिक पहल है। इससे अय़ोध्या की दीपावली का गौरव फिर से वापस आ जाएगा।

हालांकि अयोध्यावासियों की इस बार की दिपावली खास बनाने के लिए प्रशासन भी पूरी तैयारियों में जुट गया है। सरयू के किनारे लगभग 4 किमी के दायरे में भगवान राम की अगवानी को लेकर जमकर तैयारियां चल रहीं हैं। वहीं राजधानी से आए पुलिस अधिकारी नईमुल हसन बड़े उत्साह से हेलीपैड दिखाते हैं, जहां भगवान राम उतरेंगे और सीएम योगी व राज्यपाल राम नाईक उनकी अगवानी करेंगे। प्रमुख सचिव पर्यटन अवनीश अवस्थी के लिए यह समारोह प्रतिष्ठा का प्रश्न बना है। पूरे समारोह की संरचना उन्होंने ही की है और एक हफ्ते से हर दूसरे दिन वह यहां आ रहे हैं। हालांकि अवस्थी कहते हैं इस पूरे कार्यक्रम को सांस्कृतिक चेतना के रूप में भी देखा जाना चाहिए। अयोध्या के हर वर्ग की इसमें प्रत्यक्ष भूमिका है। अवधपुर और जनकपुर वासियों के रूप में छात्र-छात्राएं नजर आएंगी।

 

 

advertisement