UK Board Result 2018: कुछ ही देर में जारी होगा 10वीं और 12वीं का रिजल्ट     |       मोदी सरकार के 4 साल पूरे होने पर कांग्रेस मना रही 'विश्‍वासघात दिवस'     |       जम्मू-कश्मीर में 5 आतंकी ढेर, आज आएगा 12वीं का रिजल्‍ट, अब तक की 5 बड़ी खबरें     |       कर्नाटक में कुमारस्वामी ने जीता फ्लोर टेस्ट, येद्दयुरप्पा ने ऐसे बढ़ाई टेंशन     |       सर्वे रिपोर्ट का खुलासा: गंदगी में दूसरे पायदान पर है पटना जंक्शन     |       सावधानः निपाह की आशंका से दिल्ली-एनसीआर में भी अलर्ट, केरल से आने वाले केले धोकर खाएं     |       मेजर गोगोई दोषी पाए गए तो ऐसी सजा मिलेगी जो मिसाल बनेगी: सेना प्रमुख     |       शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्रंप-किम के जरिए PM मोदी पर साधा निशाना     |       गोवा: बीच पर कपल के कपड़े उतरवाए, तस्वीरें खीचीं और बॉयफ्रेंड के सामने ही लड़की से किया गैंगरेप     |       इन सात राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने पर होगा विचार     |       योगी आदित्यनाथ के लिए उद्धव ठाकरे के बिगड़े बोल, भाजपा पर कहा- 'बालासाहेब की तरह नहीं सहूंगा उसके पाप'     |       ...जब पीएम मोदी ने बंगाल के बच्चों से कहा मुझे माफ कर दो     |       देश में पानी और तेल को लेकर आग     |       मोदी सरकार के 4 साल में क्रूड 31 डॉलर सस्ता, लेकिन पेट्रोल 6 रु महंगा, GST लगा तो 25 रु तक घटेंगे दाम     |       यहां सिर्फ 10 रुपये में खूबसूरत मॉडल्स को बना सकते हैं अपनी गर्लफ्रेंड, जानें     |       मुंबई में तैरता रेस्तरां समुद्र में डूबा, 15 लोग बचाए गए     |       SRHvKKR: क्वालीफायर-2 में कोलकाता को 13 रनों से हराकर फाइनल में पहुंची हैदराबाद     |       गुजरात की लेडी डॉन का एक और वीडियो वायरल, सरेआम यूं फैलाई दहशत     |       पिछले 5 साल में PF पर मिलेगा सबसे कम ब्याज, 8.55% को मंजूरी     |       पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी के पूर्व चीफ का दावा, भारत के पीएम के रूप में नरेंद्र मोदी को ही चाहता है ISI     |      

विज्ञान/तकनीक


सरकार ने पेश किए आधार को मोबाइल से जोड़ने के 3 नए तरीके

हालांकि अब ग्राहक दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के स्टोरों पर गए बिना अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर को आधार से जोड़ सकते हैं। डीओटी ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांग और गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों की आसानी के लिए दूरसंचार विभाग ने उपभोक्ताओं के दरवाजे पर पुन: सत्यापन के लिए भी सिफारिश की है।


government-three-new-plans-for-connect-mobile-phones-with-aadhaar-number

नई दिल्ली:  केंद्रीय संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि सरकार ने 12 अंकों की आधार संख्या को मोबाइल के व्यक्तिगत नंबर से जोड़ने के लिए वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) समेत तीन नए तरीके पेश किए हैं। इसके माध्यम से आधार को अपने व्यक्तिगत नंबर से जोड़ने की प्रक्रिया आसान हो जाएगी। दूरसंचार विभाग ने तीन नए नियमों को शुरू किया है। वन टाइम पासवर्ड, एप आधारित और इंटरेक्टिव वॉयस रेस्पांस (आईवीआरएस)। इन तीनों सुविधा के जरिए अपने आधार नंबर को मोबाइल नंबर के साथ जोड़ा सकता है।

हालांकि अब ग्राहक दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के स्टोरों पर गए बिना अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर को आधार से जोड़ सकते हैं। डीओटी ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांग और गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों की आसानी के लिए दूरसंचार विभाग ने उपभोक्ताओं के दरवाजे पर पुन: सत्यापन के लिए भी सिफारिश की है। वहीं केंद्र ने बुधवार को सर्वोच्च न्यायालय से कहा कि आधार योजना को विभिन्न सरकारी योजनाओं से जोड़ने के लिए 31 मार्च, 2018 तक का समय दिया जाए।

नए दिशानिर्देशों के अनुसार दूरसंचार ऑपरेटरों को ऐसी सेवा का अनुरोध करने वाले लोगों के लिए एक ऑनलाइन तंत्र उपलब्ध कराया जाना चाहिए और इसकी उपलब्धता समय-सीमा पर आधारित हो, जिसे समय के मुताबिक पूरा किया जाए। उन्होंने कहा कि आधार संख्या प्रणाली देश के सभी निवासियों को महत्वपूर्ण सरकारी सेवाओं तक पहुंच और समय-समय पर उनकी महत्वपूर्ण जानकारी की अनुमति देने के लिए बनाई गई थी। मंत्री ने कहा कि देश में मोबाइल की पहुंच तेजी से बढ़ रही है और इसके जरिए ग्राहकों को मोबाइल नंबर के साथ आधार संख्या को जोड़ने में आसानी होगी।

सिन्हा ने कहा कि यह सुविधा में सुधार करने और उपभोक्ताओं द्वारा सरकारी सूचनाओं और सेवाओं तक पहुंच बनाने के लिए समय और ऊर्जा को बचाने के लिए सरकार का एक प्रयास है। सेलुलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के एक प्रतिनिधि ने कहा कि दूरसंचार विभाग के नवीनतम स्पष्टीकरण के मद्देनजर हम उद्योगों से गठबंधन कर रहे हैं और ग्राहकों को इस समय इसकी जरूरत है। जबकि, निर्देशों को लागू करने में थोड़ा समय लगेगा। हम सरकार के साथ काम कर रहे हैं, ताकि ग्राहकों को अपने मोबाइल नंबर से आधार को जोड़ने की सुविधा को बेहतर और आसान किया जा सके।

वहीं प्रतिनिधि ने कहा कि हम सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को कार्यान्वित कर रहे हैं, ताकि ओटीपी, एप आधारित और आईवीआरएस सुविधा सहित निर्धारित अतिरिक्त विधियों का उपयोग किया जा सके। हम उम्मीद करते हैं कि व्यक्तिगत मोबाइल उपभोक्ताओं के लिए ई-केवाईसी मानदंडों का पालन करने के लिए इसे प्रयोग करना तेज और आसान हो जाएगा। दूरसंचार विभाग ने अगस्त महीने में एक परिपत्र में आधार के लिए आईरिस या फिंगरप्रिंट आधारित प्रमाणीकरण प्रदान करने के लिए दूरसंचार सेवा प्रदाताओं को निर्देश दिए थे। नए नियमों में यह बताया गया था कि दूरसंचार सेवा प्रदाताओं को इस उद्देश्य के लिए आईरिस जानकारों को एक उचित भौगोलिक क्षेत्र में तैनात करना होगा।

advertisement