100 रुपये के नए नोट का क्या है गुजरात कनेक्शन?     |       नंबर गेम में कमजोर विपक्ष शब्दों के तीर से करेगा सरकार को 'घायल'     |       इस ट्रेन में मिलेगा हवाई जहाज जैसा आनंद, बटन दबाने पर खुल जाएंगी खिड़कियां     |       32 किलोमीटर पैदल चलकर पहले दिन ऑफिस समय पर पहुंचा युवक, बॉस ने दिया ये ईनाम (VIDEO)     |       हलाला प्रकरणः निदा खान के खिलाफ फतवे पर उठे तूफान के बाद उलमा खामोश     |       एयरसेल-मैक्सिस मामलाः CBI ने पी चिदंबरम, उनके बेटे के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की     |       ग्रेटर नोएडा: नोटिफाइड एरिया में बनी थी बिल्डिंग, शिकायत के बाद भी नहीं हुई कार्रवाई     |       गोपाल दास नीरज : कारवां गुजर गया..     |       Exclusive: अगस्ता के बिचौलिये की वकील का दावा- सोनिया के खिलाफ गवाही देने का दबाव     |       खुशखबरी! अब टिकट काउंटर पर नहीं लगेगी भीड़, मोबाइल ऐप से बुक कराएं जनरल टिकट     |       लखनऊ में सूदखोर कारोबारी से मिला 100 किलो सोना व नकद 9.21 करोड़ रुपये     |       राज ठाकरे का BJP पर हमला, इस वजह से भाजपा को चुनावों में मिली जीत, दोबारा सत्ता में नहीं होगी वापसी     |       साउथ दिल्ली के करीब 16000 पेड़ो के कटने पर लगे स्टे को NGT ने 27 जुलाई तक बढ़ाया     |       टिहरी में बस के खाई में गिरने से 14 की मौत, 17 लोग घायल     |       रायबरेली में भाजपा मंडल उपाध्यक्ष की हत्या, दारोगा व सिपाही लाइन हाजिर     |       सुरक्षा बल के जवान ने प्राइवेट पार्ट पर करंट लगाकर पत्नी को मार डाला     |       पटना पहुंचते ही विरोधियों पर जमकर बरसे तेजस्वी     |       अमेरिकी अधिकारी आसमान में विमानों की टक्कर के कारणों की जांच में जुटे     |       देवरिया जेल में बाहुबली अतीक के बैरक से मिला मोबाइल फोन , दर्ज होगा मुकदमा     |       अरबपति पिता की डॉक्टर बेटी बनी जैन साध्वी     |      

व्यापार


जीएसटी राहतः अब रेस्तरां में खाना हो सकता है सस्ता

हालांकि जीएसटी परिषद की अगली बैठक में करों में इन राहतों पर मुहर लग सकती है। एसी रेस्तरां पर अभी 18 फीसदी की दर से कर लग रहा है। एकमुश्त कर योजना के तहत विनिर्माता पर दो फीसदी और रेस्तरां मालिकों को पांच फीसदी कर देना होता है


gst-eat-food-in-ac-restaurant-may-get-cheaper

नई दिल्लीः जल्द ही एसी रेस्तरां और होटल में खाना खाना सस्ता हो सकता है। इसके लिए जीएसटी परिषद से जुड़े मंत्रिसमूह (जीओएम) ने एसी रेस्तरां पर जीएसटी को 12 फीसदी करने की सिफारिश की है। उन्होंने विनिर्मातोओं-रेस्तरां पर एकमुश्त कर योजना के तहत करों में कमी करने की भी सिफारिश की है। इससे रेस्तरां में खाना खाना सस्ता हो सकता है।

हालांकि जीएसटी परिषद की अगली बैठक में करों में इन राहतों पर मुहर लग सकती है। एसी रेस्तरां पर अभी 18 फीसदी की दर से कर लग रहा है। एकमुश्त कर योजना के तहत विनिर्माता पर दो फीसदी और रेस्तरां मालिकों को पांच फीसदी कर देना होता है, जिसे घटाकर दोनों के लिए एक फीसदी करने की योजना बनाई गई है।

वहीं असम के वित्त मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा की अध्यक्षता वाला जीओएम ने एकमुश्त योजना के दायरे में नहीं आने वाले एयर कंडीशन और बिना एयर कंडीशन (एसी) रेस्तरां के बीच अंतर को समाप्त करने का भी सुझाव दिया है। समिति ने इस योजना के दायरे में न आने वाले रेस्तरां पर जीएसटी की दर 12 प्रतिशत रखने का सुझाव दिया है। हालांकि जिन होटलों में कमरों का किराया 7,500 रुपए से अधिक है, उस पर 18 प्रतिशत की दर से कर लगाए जाने की हिमायत की है।

बता दें कि अक्टूबर में हुई बैठक के दौरान जीओएम का गठन किया गया था। उसे विभिन्न श्रेणी के रेस्तरां पर कर ढांचे के लिए पुनर्विचार करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। हालांकि इसका मकसद दरों को युक्तिसंगत बनाना था। जीओएम के अन्य सदस्यों में बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी, जम्मू कश्मीर के वित्त मंत्री हसीब द्राबू, पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल और छत्तीसगढ़ के वाणिज्यिक कर मंत्री अमर अग्रवाल शामिल हैं। जीएसटी की अगली बैठक 9 नवंबर को होनी है।

दरअसल जीओएम ने व्यापारियों के लिए दोहरी नीति का सुझाव दिया है। सुझाव है यह है कि जो व्यापारी कर मुक्त वस्तुओं की बिक्री से प्राप्त राशि को अपने कारोबार से अलग करना चाहते हैं, वे एक प्रतिशत की दर से जीएसटी दें और जो व्यापारी अपने कुल कारोबार के आधार पर कर दें उनके लिए जीएटी दर 0.5 प्रतिशत रखी जाएगी।

advertisement