LIVE: अविश्वास प्रस्ताव पर अग्निपरीक्षा से पहले PM मोदी ने बुलाई कोर ग्रुप की बैठक     |       डॉलर की तुलना में रुपये ने छुआ 69.12 का ऐतिहासिक निचला स्तर     |       पीएम मोदी के पिछले 4 साल के विदेश दौरे में खर्च हुए 1484 करोड़ रुपये     |       अगस्त से पटनावासियों के हाथ में होगा बैंगनी रंग का नया सौ रुपये का नोट     |       ट्रांसपोर्टर हड़ताल: महंगे हो सकते हैं फल-सब्जी और किराना सामान     |       ये है BJP सांसद की DSP बेटी, जो 'कैश फॉर जॉब' घोटाले में हुई अरेस्ट     |       AAP नेता संजय सिंह का मुख्य सचिव पर गंभीर आरोप, कहा- वे भ्रष्टाचारियों से मिले हुए हैं     |       गोपाल दास नीरज के निधन से एक युग का अंत, आम जन से लेकर राष्ट्रपति तक ने कहा- 'नमन'     |       Exclusive: अगस्ता के बिचौलिये की वकील का दावा- सोनिया के खिलाफ गवाही देने का दबाव     |       सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण 27 जुलाई को, जानें जरूरी और काम की बातें     |       फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह का सरगना पूर्व कांग्रेस नेता समेत पांच गिरफ्तार     |       पूर्व सांसद के भाई की मीट फैक्ट्री में तड़प-तड़प कर तीन मजदूरों की मौत     |       भारत और अमेरिका की नई दिल्ली में 6 सितंबर को होगी 2+2 वार्ता     |       14 मिनट में बैंक के अंदर से 20 लाख पार     |       शिखर वार्ता के बाद व्लादीमिर पुतिन के प्रस्ताव को डोनल्ड ट्रंप ने किया ख़ारिज     |       चमोली के मलारी में बादल फटा, भूस्खलन से डेरों में पांच मजदूर दबे     |       Dhadak Movie Review: फिर से पहले प्यार की मासूमियत को करना चाहते हैं महसूस, तो देखें जाह्नवी और ईशान की धड़क     |       ट्रेन का जनरल टिकट अब घर में बैठें अपने स्मार्टफोन से करें बुक, लॉन्च हुआ नया एप     |       जन्म के समय था वजन मात्र 375 ग्राम, डॉक्टरों के प्रयास से जीवित बच गई बच्ची     |       Jio का मानसून हंगामा ऑफर आज से, जानें कैसे 500 रुपए में मिलेगा नया जियो फोन     |      

राजनीति


गुजरात दंगाः जाकिया की याचिका खारिज, पीएम मोदी की क्लीन चीट रहेगी बरकार

जाकिया जाफरी ने 2002 में हुए गुजरात दंगो के संबंध में तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी के क्लीन चीट को बरकरार रखने के लिए निचली आदालत के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी।


gujarat-high-court-rejected-zakia-petition-against-pm-modi

अहमदाबाद: गोधरा कांड के बाद गुजरात में हुए दंगों को लेकर तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी की क्लीन चिट बरकरार रहेगी। गुजरात हाईकोर्ट ने साफ कहा है कि गोधरा कांड दंगों की दोबारा जांच नहीं कराई जाएगी। वहीं हाईकोर्ट ने जाकिया जाफरी की बड़ी साजिश वाली बात से भी इनकार किया है।

बता दें कि जाकिया जाफरी ने 2002 में हुए गुजरात दंगो के संबंध में तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी के क्लीन चीट को बरकरार रखने के लिए निचली आदालत के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। इस याचिका पर सुनवाई न्यायमूर्ति सोनिया गोकानी के सामने 3 जुलाई 2017 को पूरी हुई थी।

वहीं 2002 में हुए दंगों के दौरान गुजरात पुलिस पर इस मामले में ढिलाई करने के आरोप लगे थे। वहीं गुजरात में तीन दिन तक चली इस हिंसा में 790 मुस्लिम और 254 हिंदू मारे गए तो 223 लोग लापता हो गए थे। हालांकि तत्कालीन गुजरात के सीएम नरेंद्र मोदी पर आरोप लगे थे कि उन्होंने दंगाइयों को रोकने के लिए जरूरी कार्रवाई नहीं की। उन्होंने पुलिस दंगाइयों के खिलाफ कार्रवाई न करने के आदेश दिए थे। यह बात अलग है कि तमाम आरोपों के बाद भी तत्कालीन केंद्र की यूपीए सरकार ने दंगों की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया था, जिसने अपनी रिपोर्ट में नरेंद्र मोदी को क्लीनचिट दे दी थी

हालांकि जाकिया जाफरी दिवंगत पूर्व सांसद अहसान जाफरी की पत्नी हैं। उन्होंने सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ के एनजीओ ‘सिटीजन फार जस्टिस एंड पीस’ के साथ मिलकर दंगों के पीछे बड़ी आपराधिक साजिश होने के संबंध में पीएम मोदी और अन्य को एसआईटी द्वारा दी गई क्लीन चिट को बरकरार रखने के लिए मजिस्ट्रेट के आदेश के खिलाफ आपराधिक पुनर्विचार याचिका दायर की थी।
 

advertisement