जम्मू-कश्मीर पर आजाद और सोज के बयानों पर आमने-सामने आईं भाजपा और कांग्रेस     |       जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों ने इस्लामिक स्टेट के सरगना समेत 4 आतंकियों को किया ढेर…     |       ममता चाहती थीं नेताओं से बैठकें, चीन ने नहीं दी मंजूरी तो रद्द किया दौरा     |       वडोदरा के स्कूल में 9वीं के छात्र की हत्या, पुलिस को सीनियर पर शक     |       आम नागरिकों के मानवाधिकारों की रक्षा के लिए आतंकियों से सख्ती से निपटने की जरूरतः अरुण जेटली     |       VIRAL: ईद पर गले मिली लड़की तो जारी हुआ फतवा, मिल रही है धमकी     |       महिला आयोग का खुलासा : दाती के पाली आश्रम में सबकुछ गड़बड़, लड़कियां डरी हुई हैं     |       जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल ने आज बुलाई सर्वदलीय बैठक, राज्य की स्थिति पर होगी चर्चा     |       कांग्रेस ने नोटबंदी को बताया आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला, पीएम से मांगा जवाब     |       खूंटी गैंगरेप: महिला आयोग ने जांच के लिए गठित की 3 सदस्यीय टीम     |       रिटायर हुए जस्टिस चेलमेश्वर, कहा- CJI पर प्रेस कॉन्फ्रेंस का कोई पछतावा नहीं     |       ED की माल्या को भगोड़ा घोषित करने की पहल, जब्त होगी संपत्ति     |       PNB घोटाले में CBI को मिल सकती है बड़ी कामयाबी, जल्द गिरफ्त में आएगा नीरव मोदी     |       अरुण जेटली का बड़ा हमला: कहा, राहुल गांधी के दिल में बसते हैं विध्‍वंसक तत्‍व     |       घाटी में घबराएंगे आतंकी, सेना ने ऑपरेशन ऑलआउट में मारे थे 200 अब 300 को मारने की तैयारी     |       बड़ा फैसला: नोएडा के सेक्टर-123 से हटाया जाएगा डंपिंग ग्राउंड     |       सोनिया गांधी से मिलने पहुंचीं सपना चौधरी, कहा- कांग्रेस के लिए कर सकती हूं प्रचार     |       बाबा हरदेव निरंकारी की बेटी ने पति व ससुर पर लगाया दो हजार करोड़ की ठगी का आरोप     |       विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में स्क्रीनिंग कमेटी गठित, खड़गे को महाराष्ट्र की जिम्मेदारी     |       झारखंड HC ने लालू यादव की अंतरिम जमानत तीन जुलाई तक बढ़ाई     |      

राज्य


तूतीकोरिन | विरोध प्रदर्शन से फैला तनाव, गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट

मंगलवार को हुई घटना के बाद आज भी शहर में तनाव बना हुआ है, लेकिन किसी अप्रिय घटना की कोई सूचना नहीं है। बता दें कि इस घटना में लगभग 100 लोग घायल हुए, जिसमें से दो की हालत काफी गंभीर बनी हुई है।


home-ministry-reports-sought-to-tamilnadu-government-on-thoothukudi-protest

तूतीकोरिन: स्टरलाइट कॉपर स्मेलटिंग प्लांट के विरोध में तमिलनाडु के तूतीकोरिन में किया गया प्रदर्शन आज भी जारी है। इस दौरान प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस ने फायरिंग  की, जिसमें अब तक 10 लोगों की मौत हो गई है। इसके साथ ही पूरे शहर में धारा 144 लागू कर दी गई है। गृह मंत्रालय  ने भी तमिलनाडु सरकार  से मंगलवार को हुई घटना पर रिपोर्ट तलब की है।

यह प्रदर्शन अब राज्य के दूसरे हिस्सों में भी शुरू हो गया है और चेन्नेई में लोगों ने वेदांता के खिलाफ विरोध मार्च  निकाला। अब इस विवाद में फिल्म स्टार रजनीकांत और अभिनेता से नेता बने कमल हसन  भी कूद पड़े हैं।

अभिनेता रजनीकांत ने भी इस मामले में लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। इसके साथ ही अभिनेता कमल हसन घायलों का हालचाल लेने अस्पताल  पहुंचे। गौरतलब है कि मंगलवार को प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस द्वारा की गई फायरिंग से 11 लोगों की मौत के बाद इलाके में तनाव  बना हुआ है।

मंगलवार को हुई घटना के बाद आज भी शहर में तनाव बना हुआ है, लेकिन किसी अप्रिय घटना  की कोई सूचना नहीं है। बता दें कि इस घटना में लगभग 100 लोग घायल हुए, जिसमें से दो की हालत काफी गंभीर बनी हुई है।

वहीं मारे गए लोगों के परिजनों ने शवों के पोस्टमार्टम  के खिलाफ तूतीकोरिन सरकारी अस्पताल में जमकर प्रदर्शन किया। एक आधिकारिक रिपोर्ट  और चेन्नई में तमिलनाडु पुलिस  को मिली जानकारी के अनुसार पुलिस फायरिंग में घायल एक व्यक्ति की इलाज  के दौरान मंगलवार रात को मौत हो गई।

इसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 10 हो गई। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार घायलों में अधिकतर नागरिक शामिल हैं। लेकिन, प्रदर्शन के दौरान 36 पुलिसकर्मियों को भी चोट लगी है। शहर में बुधवार को जनजीवन पटरी पर  नहीं लौटा।

दुकान और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद हैं। शैक्षणिक संस्थानों को भी बंद रखा गया है। जिला प्रशासन द्वारा पांच या इससे अधिक लोगों के एक साथ इकट्ठे होने पर पाबंदी लगाने के निषेधात्मक आदेश के बाद अधिकतर लोग अपने घरों में ही रहे। यह आदेश यहां 25 मई तक लागू रहेगा।

जिला कलेक्टर एन. वेंकटेश ने कहा कि निषेधात्मक आदेश को तूतीकोरिन जिले के वेंबर, कुलाठुर, अरुमुगामंगलम, वेदांतम, ओट्टापिदारम और इप्पोदुम वेंदरान में लागू किया गया है।

तूतीकोरिन से तमिलनाडु के अन्य भाग के लिए जाने वाले सार्वजनिक परिवहन को भी रद्द कर दिया गया है। बड़ी संख्या में पुलिस और अर्धसैनिक बलों को शहर में हर जगह तैनात किया गया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि स्थिति तनावपूर्ण है लेकिन काबू में है। स्टरलाइन प्लांट को बंद करने की मांग करने वाले प्रदर्शकनकारियों का प्रदर्शन जब हिंसक हो गया, तो उसे भीड़ पर काबूृ पाने के लिए फायरिंग करनी पड़ी। पुलिस फायरिंग  में नौ लोगों की तत्काल मौत हो गई।

वहीं प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने बिना उकसावे के ही शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगों पर बल का प्रयोग किया।

advertisement