राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति का बड़ा खुलासा, भारत सरकार ने ही दिया था रिलायंस का नाम, 10 बातें     |       कश्मीर में आतंकियों ने तीन पुलिसकर्मियों को अगवा कर की हत्या     |       पीएम नरेंद्र मोदी आज ओडिशा और छत्तीसगढ़ में कई परियोजनाएं शुरू करेंगे     |       Asia Cup: दुबई में चमके रोहित-जडेजा, भारत ने बांग्लादेश को 7 विकेट से हराया     |       कांग्रेस ने अलीगढ़ में पुलिस मुठभेड़ पर उठाये सवाल, कहा- सबकुछ स्क्रिप्टेड था     |       कांग्रेस का बड़ा आरोप, अस्पताल से धमका रहे CM मनोहर पर्रिकर     |       न्यूयॉर्क में मिलेंगे भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्री     |       SC-ST एक्ट के खिलाफ पटना में सड़कों पर उतरे सवर्ण, पुलिस ने भांजी लाठियां, कई घायल     |       'नन' के साथ रेप करने के आरोपी 'बिशप' को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |       बिहार कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बने तो छलका कादरी का दर्द, बोले- झाड़ू भी लगा लूंगा     |       इटली / ईशा अंबानी-आनंद पीरामल की सगाई पार्टी, 23 सितंबर तक चलेंगे कार्यक्रम     |       सर्जिकल स्ट्राइक दिवस पर बोली कांग्रेस सांसद- 'कृपया ऐसा मजाक न करें'     |       मक्का मस्जिद विस्फोट के जज BJP में शामिल होने के इच्छुक, बताया- एकमात्र देशभक्त पार्टी     |       रूस से रक्षा सौदा / अमेरिका ने चीन पर प्रतिबंध लगाया, कहा- मिसाइल सौदा हुआ तो भारत पर भी कार्रवाई संभव     |       बिहार : ताजिया जुलूस की तैयारी के बीच दो युवकों की हत्या, वैशाली में तनाव     |       राजपाट: अबूझ पहेली     |       राजस्थान : जसवंत सिंह के बेटे की रैली शनिवार को, बगावती तेवर से बीजेपी में बेचैनी     |       वारदात / बदमाशों ने बैंक के 2 गार्डों की सरिया और रॉड से पीट-पीटकर की हत्या, नहीं कर पाए लूट     |       'हम नरभक्षी' नहीं, राज्यों को हमसे डरने की जरूरत नहीं- सुप्रीम कोर्ट     |       चक्रवाती तूफान DAYE ने पार किया ओडिशा का तट, कई इलाकों में भारी बारिश     |      

विदेश


एटमी हथियारों को खत्म करने वाले कैंपेन को नोबेल शांति पुरस्कार

आईकैन को यह पुरस्कार दुनिया को परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की भयावहता से परिचित कराने के लिए दिया गया


icon-wins-nobel-peace-prize-for-campaign-to-end-nuclear-weapons

परमाणु हथियारों को खत्म करने वाले अंतरराष्ट्रीय अभियान (आईकैन) को इस साल शांति का नोबेल पुरस्कार दिया गया है। नॉर्वे की नोबेल कमिटी के मुताबिक आईकैन को यह पुरस्कार दुनिया को परमाणु हथियारों के इस्तेमाल के बाद भयावह परिस्थितियों से अवगत कराने के लिए उसके प्रयासों की वजह से दिया गया है।

इस बार नोबेल शांति पुरस्कार की दौड़ में पोप फ्रैंसिस, सऊदी के ब्लॉगर रैफ बदावी, ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ भी शामिल थे। स्वीडिश अकादमी ने पुरस्कार की घोषणा के समय कहा कि हम इसके जरिए सभी परमाणु हथियार संपन्न देशों को यही संदेश देना चाहते हैं कि अगर वे इसका इस्तेमाल करते हैं तो यह कितना विनाशकारी साबित हो सकता है।

अकादमी ने कुल 300 नामांकनों में से आईकैन को इस साल के शांति पुरस्कार के लिए चुना है। पुरस्कार की घोषणा ओसलो में की गई। हालांकि घोषणा के समय यह नहीं बताया कि इस पुरस्कार के लिए किनके नामों पर विचार किया गया, लेकिन यह बताया गया कि पुरस्कार के लिए 215 लोगों और 103 संस्थाओं को नामांकित किया गया था।

advertisement