NewsWrap: दिल्ली में डबल मर्डर, फैशन डिजाइनर की हत्या, पढ़ें, सुबह की 5 बड़ी खबरें     |       राजस्थान / भाजपा ने 31 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की, 3 मंत्रियों समेत 16 विधायकों के टिकट कटे     |       1984 सिख दंगे : दो लोगों की हत्या के दो दोषियों की सजा का ऐलान आज     |       सुप्रीम कोर्ट में सरकार ने माना फ्रांस ने राफेल सौदे का समर्थन करने की कोई 'स्वायत्त गारंटी' नहीं दी     |       इकबाल अंसारी बोले, 'डरे हैं मुसलमान, 25 से पहले नहीं बढ़ी सुरक्षा तो छोड़ देंगे अयोध्या'     |       लाल साड़ी में दीपिका, छाते से ब्राइडल लुक छिपाती दिखीं, PHOTOS     |       चेतावनी / सैन्य संकट से जूझ रहा अमेरिका, जंग में चीन-रूस से हार सकता है: संसदीय पैनल     |       बीहड़ों में गरजने वाली बंदूकें हुईं खामोश, 30 साल में पहली बार चुनावी राजनीति से हो रहे दूर...     |       दिल्ली से चलकर अयोध्या और फिर श्रीलंका तक दर्शन कराएगा IRCTC, दौड़ी 'श्री रामायण एक्सप्रेस', 5 बड़ी बातें     |       Viral: सिग्नेचर ब्रिज पर किन्नरों ने कपड़े उतारकर की अश्लील हरकतें, FIR     |       100 km/h की रफ्तार से तूफान गाजा तमिलनाडु में आज देगा दस्तक     |       महाराष्ट्र : पिछड़ा वर्ग आयोग आज सौंपेगा मराठा आरक्षण पर अपनी रिपोर्ट     |       सिंगापुर: ASEAN-India ब्रेकफास्ट समिट में शामिल हुए PM, हैकाथन विजेताओं को दिए अवॉर्ड     |       अजय चौटाला ने कहा- मुझे पार्टी से क्यों निकाला, इनेलो में कौरव व पांडवों वाली स्थिति     |       ट्रंप के मना करने के बाद शीर्ष अफ्रीकी नेता हो सकते हैं गणतंत्र दिवस कार्यक्रम के मुख्‍य अतिथि     |       सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश की समीक्षा के लिए आज बुलाई गई सर्वदलीय बैठक     |       ISRO के बाहुबली ने अंतरिक्ष में पहुंचाया सबसे भारी उपग्रह, कश्मीर में बेहतर होगा इंटरनेट     |       केंद्र ने लौटाया पश्चिम बंगाल का नाम बदलने का प्रस्ताव, ममता नाराज     |       सोशल मीडिया पर ट्रोल हुआ यह मशहूर सिंगर, दिल्‍ली में रद्द करना पड़ा कंसर्ट     |       संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसंबर से, क्या राम मंदिर पर कानून लाएगी मोदी सरकार?     |      

राष्ट्रीय


भारत-इटली ने 6 समझौतो पर किए हस्ताक्षर, बढ़ेगा आर्थिक सहयोग

गौरतलब है कि नौसैनिक मामले को लेकर पिछले पांच सालों से भारत और इटली के रिश्तों में तल्खी आई है तो वहीं जेंटिलोनी पिछले 10 सालों में भारत की यात्रा करने वाले पहले इतालवी पीएम हैं।


india-and-italy-sign-six-agreements-to-boost-economy-in-all-sectors

नई दिल्लीः पीएम मोदी और इटली के उनके समकक्ष पाओलो जेंटिलोनी के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बैठक हुई। इस बैठक में दोनों देशों ने 6 समझोतों पर हस्ताक्षर किए, जिसमें रेल सुरक्षा और ऊर्जा क्षेत्र भी शामिल है। भारत यात्रा पर आए इतालवी पीएम जेंटिलोनी के साथ बैठक के बाद कहा कि भारत और इटली दुनिया की दो बड़ी अर्थव्यवस्थाएं हैं और हमारे वाणिज्यिक सहयोग को बढ़ावा देने की काफी संभावनाएं हैं।

गौरतलब है कि नौसैनिक मामले को लेकर पिछले पांच सालों से भारत और इटली के रिश्तों में तल्खी आई है तो वहीं जेंटिलोनी पिछले 10 सालों में भारत की यात्रा करने वाले पहले इतालवी पीएम हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारा द्विपक्षीय व्यापार जो वर्तमान में 8.8 अरब डॉलर है, इसमें बढ़ोतरी की काफी संभावना है। उन्होंने कहा कि जेंटिलोनी के साथ इटली के व्यापारियों के उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ चर्चा उन्हें काफी सकारात्मक नजर आई।

उन्होंने भारतीय कंपनियों के साथ भागीदारी में भारत के प्रमुख कार्यक्रमों में इटली की कंपनियों की भागीदारी का आह्वान किया। पीएम मोदी ने कहा कि स्मार्ट सिटी, खाद्य प्रसंस्करण, फार्मास्यूटिकल्स और अवसंरचना जैसे क्षेत्रों में हमारी जरूरत को इटली की विशेषज्ञता और क्षमताओं से पूरा किया जा सकता है। भारत और इटली के बीच कूटनीतिक संबंध साल 2012 के फरवरी में बिगड़ गए थे, जब इटली के व्यापारिक पोत एनरिका लेक्सी से दो नौसैनिकों मैसिमिलियानो लातोरे तथा साल्वातोरे गिरोने द्वारा की गई गोलीबारी ने केरल के दो भारतीय मछुआरों की जान ले ली थी।

हालांकि इस मामले की सुनवाई अब हेग स्थित अंतर्राष्ट्रीय अदालत कर रही है और भारत ने दोनों नौसैनिकों को इटली लौटने की अनुमति दे दी है। भारत और इटली के बीच तनातनी से यूरोपीय संघ और भारत के बीच मुक्त व्यापार वार्ता को लेकर हो रही बातचीत भी प्रभावित हुई है। दोनों देशों द्वारा बैठक के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया कि 'मोदी और जेंटिलोनी ने भारत-इटली के मजबूत आर्थिक संबंधों की सराहना की और व्यापक आर्थिक सहयोग बढ़ाने को लेकर प्रतिबद्धता जताई। दोनों पक्षों ने रेलवे की सुरक्षा के लिए सहयोग के एक संयुक्त घोषणा-पत्र पर हस्ताक्षर किए।

भारत और इटली के बीच ऊर्जा क्षेत्र में सहयोग के लिए समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। वहीं इटली की ट्रेड एजेंसी और इन्वेस्ट इंडिया के बीच आपसी सहयोग को लेकर एक अन्य एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। भारत-इटली कूटनीतिक रिश्तों के 70 साल पूरा होने के उपलक्ष्य में भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद और इटली के विदेशी मामलों और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग मंत्रालय के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। इटली के विदेशी मामलों और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग मंत्रालय की प्रशिक्षण इकाई तथा भारत के विदेश मंत्रालय के विदेश सेवा संस्थान के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। 

भारत और इटली के बीच सांस्कृतिक सहयोग पर एक कार्यकारी प्रोटोकॉल पर भी हस्ताक्षर किए गए। जेंटिलोनी यहां रविवार को पहुंचे। 2007 में तत्कालीन प्रधानमंत्री रोमानो प्रोडी की यात्रा के बाद इटली के किसी प्रधानमंत्री की यह पहली भारत यात्रा है। 

advertisement

  • संबंधित खबरें