NewsWrap: दिल्ली में डबल मर्डर, फैशन डिजाइनर की हत्या, पढ़ें, सुबह की 5 बड़ी खबरें     |       JNU में कंडोम गिनने वाले ज्ञानदेव का 'ज्ञान' नहीं आया काम, BJP ने काटा टिकट     |       1984 सिख दंगे : दो लोगों की हत्या के दो दोषियों की सजा का ऐलान आज     |       चेतावनी / सैन्य संकट से जूझ रहा अमेरिका, जंग में चीन-रूस से हार सकता है: संसदीय पैनल     |       सुप्रीम कोर्ट में सरकार ने माना फ्रांस ने राफेल सौदे का समर्थन करने की कोई 'स्वायत्त गारंटी' नहीं दी     |       बीहड़ों में गरजने वाली बंदूकें हुईं खामोश, 30 साल में पहली बार चुनावी राजनीति से हो रहे दूर...     |       अयोध्या के मुसलमान बोले, हम खौफ में जी रहे हैं, सुरक्षा नहीं मिली तो करेंगे पलायन     |       दिल्ली से चलकर अयोध्या और फिर श्रीलंका तक दर्शन कराएगा IRCTC, दौड़ी 'श्री रामायण एक्सप्रेस', 5 बड़ी बातें     |       ट्रंप के मना करने के बाद शीर्ष अफ्रीकी नेता हो सकते हैं गणतंत्र दिवस कार्यक्रम के मुख्‍य अतिथि     |       100 km/h की रफ्तार से तूफान गाजा तमिलनाडु में आज देगा दस्तक     |       दिल्ली के सिग्नेचर ब्रिज पर सेल्फी के लिए होड़ के बाद निर्वस्त्र होने का वीडियो वायरल     |       महाराष्ट्र : पिछड़ा वर्ग आयोग आज सौंपेगा मराठा आरक्षण पर अपनी रिपोर्ट     |       सिंगापुर : PM मोदी के दौरे का दूसरा दिन, आसियान सम्मेलन में होंगे शामिल     |       अजय चौटाला ने कहा- मुझे पार्टी से क्यों निकाला, इनेलो में कौरव व पांडवों वाली स्थिति     |       देश में बनी पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन ट्रायल के लिए तैयार, ये हैं खूबियां     |       ISRO के बाहुबली ने अंतरिक्ष में पहुंचाया सबसे भारी उपग्रह, कश्मीर में बेहतर होगा इंटरनेट     |       केंद्र ने लौटाया पश्चिम बंगाल का नाम बदलने का प्रस्ताव, ममता नाराज     |       सबरीमाला मंदिर: आज रात एंट्री करेंगी तृप्ती देसाई, राहुल ईश्वर बोले- देख लेंगे     |       सोशल मीडिया पर ट्रोल हुआ यह मशहूर सिंगर, दिल्‍ली में रद्द करना पड़ा कंसर्ट     |       संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसंबर से, क्या राम मंदिर पर कानून लाएगी मोदी सरकार?     |      

राजनीति


लालू यादव ने कहा- सीएम आवास में आते-जाते हैं शराब माफिया

लालू ने बिहार में शराबबंदी को पूरी तरह असफल बताते हुए नीतीश कुमार पर तंज कसा। लालू ने कहा कि नीतीश कुमार शराब नहीं पीते हैं, तब उनको क्या मालूम है कि शराब की 'होम डिलिवरी' कैसे हो रही है।


lalu-prasad-yadav-nitish-kumar-house-liquor-barron-bihar

पटनाः राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने सीएम नीतीश कुमार को आरक्षण विरोधी बताते हुए कहा कि वे दलितों और वंचितों की बात नहीं सुनते हैं। लालू ने कहा कि 'बिहार के सीएम आवास में मंत्रियों और विधायकों को प्रवेश नहीं मिलता है, लेकिन शराब माफियाओं का वहां आना-जाना लगा रहता है। इसके साथ ही लालू ने जद (यू) के प्रवक्ता पर भी गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि यदि आप जद (यू) प्रवक्ता के घर छापेमारी करेंगे तो आप देखेंगे कि वहां लोग कैसे शाम के वक्त आजादी से शराब पीते हैं।

लालू ने बिहार में शराबबंदी को पूरी तरह असफल बताते हुए नीतीश कुमार पर तंज कसा। लालू ने कहा कि नीतीश कुमार शराब नहीं पीते हैं, तब उनको क्या मालूम है कि शराब की 'होम डिलिवरी' कैसे हो रही है। जब शराबबंदी के बाद भी राज्य में हर जगह शराब मिल रही है, तब इसी से अंदाजा लग रहा है कि शराबबंदी कितनी 'फ्लॉप' है। इसके अलावा राजद अध्यक्ष ने यह भी आरोप लगाया कि जद (यू) नेता आर.सी.पी. सिन्हा शराब के गोरखधंधे में लिप्त लोगों से 'फंड' वसूलते हैं।

गौरतलब है कि भोजपुर में जहरीली शराब कांड के एक आरोपी और जद (यू) के प्रखंड अध्यक्ष के साथ सीएम की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी, इसके बाद विपक्ष लगातार नीतीश कुमार पर निशाना साध रही है। हालांकि आरोपी को जद (यू) से निष्कासित कर दिया गया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू प्रसाद ने जद (यू) के नेता और पूर्व मंत्री श्याम रजक और बिहार के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चैधरी के बयानों को सही ठहराते हुए कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार हो या बिहार में नीतीश की सरकार, दोनों आरक्षण समाप्त करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार दलितों, पिछड़ों की आवाज नहीं सुनती है। वहीं बीजेपी आरक्षण की समीक्षा करने की बात करती है और नीतीश कुमार 'घुड़की' मारकर बैठे हुए हैं। नीतीश आरक्षण विरोधी आदमी हैं। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष चौधरी और पूर्व मंत्री श्याम रजक ने दो दिन पहले कहा था कि वंचित समाज को मुख्यधारा में लाने का डॉ. भीमराव अंबेडकर और महात्मा गांधी का जो सपना था, वह देश की आजादी के सात दशक बाद भी पूरा नहीं सका है।

दोनों नेताओं ने कहा था कि वंचित समाज आज भी कूड़े के ढेर से अनाज चुनकर पेट की भूख मिटा रहा है। उन्होंने कहा कि आज भी इन लोगों को आरक्षण का सही लाभ नहीं मिल सका है। इसके बाद जद (यू) के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कड़े तेवर दिखाते हुए कहा है कि किसी भी नेता को अगर कोई परेशानी हो तो उसे पार्टी फोरम में अपनी बात रखनी चाहिए।

advertisement

  • संबंधित खबरें