ममता की बंगाल सरकार और चंद्र बाबू की आंध्र सरकार ने CBI को जांच से रोका     |       लखनऊ में रेलमंत्री पीयूष गोयल की टिप्पणी से नाराज कर्मचारियों का हंगामा     |       NDTV से बोलीं मायावती, न BJP के साथ जाएंगे, न कांग्रेस के साथ, एक सांपनाथ, एक नागनाथ     |       उपेंद्र कुशवाहा का नया दांव, ट्वीट कर कहा-अमित शाह से मिलने दिल्ली जा रहा हूं     |       दिल्ली / 13 दिन बंद रहेगा आईजीआई एयरपोर्ट का एक रनवे, 86% तक बढ़ा फ्लाइट्स का किराया     |       पंजाब में दिखा 12 लाख का इनामी आतंकी, जम्मू-कश्मीर सहित दोनों राज्यों में हाई अलर्ट     |       सीबाआई में घमासान: सीवीसी ने कहा, कुछ आरोपों पर जांच की जरूरत     |       Sabrimala: मंदिर के पट खुले, महिलाओं के प्रवेश पर गतिरोध और तनाव कायम     |       तमिलनाडु में गाजा तूफान से 13 लोगों की मौत, PM ने ली जानकारी     |       सिंगर टीएम कृष्‍णा को अब आप सरकार देगी कॉन्‍सर्ट के लिए मंच, दिल्ली में स्थगित हुआ था कार्यक्रम     |       आरबीआई के अहम फैसलों में बड़ी भागीदारी चाहती है सरकार     |       सियासत / मोदी का ज्योतिरादित्य पर तंज- कांग्रेस के सर्वेसर्वा से पूछो कि आपकी दादी को जेल में क्यों रखा?     |       यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को मिली जमानत, दुर्गा पूजा के नाम पर फर्जी पैड छपवाकर वसूली का मामला     |       MP Chunav 2018: राहुल बोले- मोदी अब भाषणों में भ्रष्टाचार, चौकीदार की बात नहीं करते     |       मेक इन इंडिया की सौगात, देश की पहली T-18 ट्रेन ट्रायल के लिए पहुंची मुरादबाद     |       MP चुनावः वरिष्ठ BJP नेता ने कहा- चुनाव नहीं होते, तो पार्टी MLA के तोड़ देता दांत     |       फेसबुक ने हटाए 1.5 अरब अकाउंट्स, जानिए क्यों?     |       मालदीव में आज पीएम मोदी की यात्रा से भारत को मिला पैर जमाने का मौका     |       वाराणसी / डॉक्टर ने जहर का इंजेक्शन लगाकर की खुदकुशी, सुसाइड नोट में लिखा- बेटा हत्या करना चाहता है     |       पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के खिलाफ कोर्ट ने दिया कार्रवाई का आदेश     |      

व्यापार


जो कभी विश्व बैंक में थे वो उठा रहे हैं सवाल: मोदी

मोदी ने कहा कि मैं ऐसा पीएम हूं, जिसने वर्ल्ड बैंक की बिल्डिंग भी नहीं देखी है, जबकि पहले वर्ल्ड बैंक को चलाने वाले लोग यहां बैठा करते थे। वे भारत की रैकिंग पर सवाल उठा रहे हैं। करना कुछ नहीं और जो कर रहा है उससे सवाल पूछे जा रहे हैं।


modi-says-ease-of-doing-business-ranking-will-better-the-living-of-common-people

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडिया बिजनेस रिफॉर्म्स प्रोग्राम में बोलते हुए कहा कि ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस रैंकिंग में भारत की ऐतिहासिक 30 अंकों की उछाल के बाद लोगों के जीवन में सुगमता आएगी और उनके लिए बेहतर अवसर पैदा होंगे। उन्होंने कहा, “इस रैंकिंग का मतलब भले ही व्यापार में आसानी हो लेकिन मेरा मानना है कि इस रैंकिंग का मतलब देश के सामान्य नागरिक के जीवन में सुगमता आना है, क्योंकि इस रैंकिंग के लिए जो पैरामीटर चुने जाते हैं वे सामान्य नागरिक और युवाओं से सीधे जुड़े होते हैं।”

इस कार्यक्रम में विश्व बैंक की सीईओ क्रिस्टीना जियोर्जिवा और भारत के वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु भी शामिल हुए। कार्यक्रम में क्रिस्टीना जियोर्जिवा ने प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व की तारीफ की और भारत को सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था बताया।

पीएम मोदी ने अपनी सरकार की तारीफ़ करते हुए कहा कि भारत की रैंकिंग में इतना सुधार इसलिए आया है क्योंकि पिछले तीन वर्षों में सरकार ने देश के आम नागरिक की जिंदगी में होने वाली मुश्किलों को कम करने के लिए रिफॉर्म्स का रास्ता अपनाया है। तीन वर्षों में देश में टैक्स भरने की प्रक्रिया में बहुत सुधार आया है। इनकम टैक्स रिटर्न के लिए अब महीनों इंतजार नहीं करना पड़ा। मोदी के अनुसार पीएफ रजिस्ट्रेशन और पीएफ का पैसा निकालने के लिए पहले आपको दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ते थे। अब सब कुछ ऑनलाइन हो गया है। 

प्रवासी भारतीय केंद्र में हुए इस प्रोग्राम में मोदी ने कहा, “मैं ऐसा पीएम हूं, जिसने वर्ल्ड बैंक की बिल्डिंग भी नहीं देखी है, जबकि पहले वर्ल्ड बैंक को चलाने वाले लोग यहां बैठा करते थे। वे भारत की रैकिंग पर सवाल उठा रहे हैं। करना कुछ नहीं और जो कर रहा है उससे सवाल पूछे जा रहे हैं।” माना जा रहा है मोदी ने ये कटाक्ष कांग्रेस पार्टी के ऊपर किया है। 

उन्होंने आग्रह करते हुए कहा कि मैं तो कहता हूं कि आप वर्ल्ड बैंक की इस रैकिंग पर सवाल उठाने के बजाय हमारा सहयोग करिए ताकि हम देश को और ऊंचे पायदान पर ले जा सकें। न्यू इंडिया बनाने के लिए साथ आगे बढाने का संकल्प करें।

मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोगों को भारत की रैकिंग 142 से 100 होने की बात समझ नहीं आती। उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। इनमें से कुछ लोग तो पहले वर्ल्ड बैंक में भी रह चुके हैं। वो आज भी भारत की रैंकिंग पर सवाल उठा रहे हैं। 

पीएम ने आगे कहा कि यदि इन्सॉल्वेंसी कोड, बैंकरप्सी कोड, कमर्शियल कोर्ट जैसे कानूनी सुधार आपके टाइम में ही हो जाते तो हमारी रैकिंग पहले ही सुधर जाती। यह रैंकिंग आपके सौभाग्य में आती। 

जीएसटी पर चर्चा करते हुए मोदी ने कहा कि इस फोरम के माध्यम से देश भर के व्यापारियों से कहना चाहता हूँ, जिस समय हमने जीएसटी लाने का संकल्प किया तब लोगों को लगता था कि पता नहीं आएगा कि नहीं आएगा, एक जुलाई को लागू होगा कि नहीं होगा। लागू होने की बाद भी लोग आलोचना करते रहे लेकिन हमने तब कहा था कि तीन महीना हमें इसे बारीकी से देखने दीजिये क्योंकि हिंदुस्तान इतना बड़ा है और दिल्ली में ही बुद्धि भरी हुयी है ऐसा नहीं है।

advertisement

  • संबंधित खबरें