लोकसभा चुनाव: बिहार की 39 सीटों पर NDA कैंडिडेट्स का ऐलान, शत्रुघ्न का कटा टिकट, बेगूसराय से गिरिराज - नवभारत टाइम्स     |       लोकसभा चुनाव 2019: बीजेपी आज जारी कर सकती है उम्मीदवारों की चौथी लिस्ट - आज तक     |       Lok Sabha Election 2019: टिकट कटने पर छलका कड़‍िया मुुंडा का दर्द, बोले दिल्‍ली से वापस खेत में पहुंचा - दैनिक जागरण     |       बिहार/ पटना साहिब से शत्रुघ्न का टिकट कटा, उनकी जगह केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद लड़ेंगे - Dainik Bhaskar     |       राम मनोहर लोहिया का जिक्र कर मोदी ने कांग्रेस और समाजवादी दलों पर साधा निशाना - नवभारत टाइम्स     |       जेट एयरवेज के संकट से हवाई यात्रियों के लिए एक महीने में घट गईं 13 लाख सीटें - Navbharat Times     |       कांग्रेस ने मानी राज बब्बर की मांग, अब फतेहपुर सीकरी से मिला टिकट - आज तक     |       Video: होली पर क्रिकेट खेल रहे मुस्लिमों को पीटा, कहा- PAK जाओ - trending clicks - आज तक     |       नॉर्थ कोरिया की मदद के लिए अब चीन को भुगतना होगा नुकसान, अमेरिका ने आंखें तरेरी - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       पाक को मोदी के मैसेज पर विपक्ष का वार- बहिष्कार और बधाई साथ-साथ कैसे? - आज तक     |       दंगल: सैम पित्रोदा पर कार्रवाई करेंगे राहुल? Dangal: Rahul Gandhi will take any action on Sam Pitroda? - Dangal - आज तक     |       लंदन में नीरव मोदी के गिरफ्तार होने पर गुलाम नबी आजाद ने कहा- चुनावी फायदे के लिए हुई कार्रवाई - ABP News     |       JIO, AIRTEL, VODAFONE, IDEA: पढ़िए 1699 में कौन कितना दे रहा है - bhopal Samachar     |       TATA की इस सेडान कार पर जबरदस्त छूट, मारुति बलेनो से भी हुई सस्ती - Zee Business हिंदी     |       Airtel 4G Hotspot प्लान्स में 100GB तक डाटा समेत फ्री मिलेगी डिवाइस, पढ़ें डिटेल्स - दैनिक जागरण     |       Jio Offer: शियोमी के इस फोन पर मिल रहा है, 2000 से ज्यादा का कैशबैक, साथ में 100 GB इंटरनेट फ्री - Hindustan     |       Kesari Box Office Collection Day 2: अक्षय कुमार की फिल्म 'केसरी' की ताबड़तोड़ कमाई, दो दिन में कमा लिए इतने करोड़ - NDTV India     |       माधुरी दीक्षित के घर आया नया मेहमान, तस्वीर शेयर कर दी जानकारी - Himachal Abhi Abhi     |       बर्थडे: जब फिल्‍म की तलाश में एडल्‍ट इंडस्‍ट्री पहुंच गई थीं कंगना रनौत, जानें ये खास बातें - प्रभात खबर     |       तो ये होने वाली हैं विक्की कौशल की अगली हिरोइन - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       विराट कोहली के बचाव में आए CSK के कोच, गौतम गंभीर को दिया ये जवाब - Hindustan     |       एबी डिविलियर्स की कलम से/ जबरदस्त एक्शन के लिए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु तैयार - Dainik Bhaskar     |       IPL-12: लसिथ मलिंगा को अपनी कमाई खोने का डर नहीं, ये है वजह - आज तक     |       राजनीति की पिच पर गौतम के लिए होंगी ये 'गंभीर' चुनौतियां - Navbharat Times     |      

राजनीति


मीडिया की भी उतनी जवाबदेही जितनी हमारी: मोदी

पीएम के अनुसार आज सभी नागरिक विभिन्न श्रोतों से मिली खबरों का विश्लेषण और पुष्टि करने की कोशिश करते हैं। इसलिए, मीडिया को अवश्य ही अपनी विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए अतिरिक्त प्रयास करने चाहिए।


modi-says-media-should-maintain-credibility

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत के लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ मीडिया के ऊपर भी सरकार और न्यायपालिका जितनी जिम्मेदारी और जवाबदेही है। मीडिया अपनी ताक़त का गलत इस्तेमाल न करे। मोदी तमिल दैनिक अखबार 'दिना थांती' के 75 वर्ष पूरे होने के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

मोदी ने कहा, "संपादकीय स्वतंत्रता का उपयोग सार्वजनिक हित के लिए करना चाहिए और लिखने की स्वतंत्रता का मतलब 'तथ्यात्मक रूप से गलत लिखने की स्वतंत्रता' नहीं है।" उन्होंने आगे कहा कि मीडिया के पास समाज को बदलने की ताकत है और साथ ही मीडिया के ऊपर, निर्वाचित सरकार या न्यायपालिका जितनी समाजिक जवाबदेही भी है।

महात्मा गांधी को उद्धरित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रेस 'वास्तव में एक ताकत है, लेकिन इसका दुरुपयोग करना अपराध है।' मोदी ने कहा, "आज, अखबार केवल समाचार नहीं देते हैं। वे हमारी सोच को आकार दे सकते हैं और विश्व के लिए खिड़की खोल सकते हैं। व्यापक संदर्भ में अगर कहें तो मीडिया समाज को बदलने का एक साधन है। इसलिए मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहा जाता है।"

उन्होंने कहा, "भले ही मीडिया प्रतिष्ठान निजी लोगों के स्वामित्व वाले हो सकते हैं, लेकिन वे जनहित के लिए काम कर रहे हैं। जैसा कि विद्वानों ने कहा है, यह(मीडिया) ताकत के बदले शांति से बदलाव स्थापित करने का एक जरिया है। इसी कारण इसपर चुनी हुई सरकार और न्यायपालिका जितनी जवाबदेही है।"

मोदी ने याद दिलाया कि किस तरह राजा राममोहन राय के 'संवाद कौमुदी', बाल गंगाधर तिलक के 'केसरी' और महात्मा गांधी के 'नवजीवन' ने औपनिवेशिक काल में जनमत खड़ा करने और स्वतंत्रता संघर्ष के लिए प्रोत्साहित करने का काम किया था।

प्रधानमंत्री ने कहा, "आज, सभी नागरिक विभिन्न श्रोतों से मिली खबरों का विश्लेषण और पुष्टि करने की कोशिश करते हैं। इसलिए, मीडिया को अवश्य ही अपनी विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए अतिरिक्त प्रयास करने चाहिए। विश्ववसनीय मीडिया संस्थानों में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा हमारे स्वस्थ लोकतंत्र के लिए भी अच्छा है।"

उन्होंने कहा कि इन दिनों अधिकतर मीडिया संवाद राजनीति के आस-पास घूमता नजर आता है, लेकिन भारत सिर्फ राजनीतिज्ञों से नहीं बना है। मोदी ने कहा, "यह 125 करोड़ भारतीयों का भारत देश है। मुझे यह देखकर काफी खुशी होगी अगर मीडिया उनपर और उनकी उपलब्धियों पर अधिक रपटें प्रकाशित करे।"

advertisement