झारखंड : पीट-पीटकर युवक की हत्‍या मामले में 5 लोग गिरफ्तार - NDTV Khabar     |       लोकसभा/ मोदी के बारे में कांग्रेस नेता अधीर रंजन ने कहा- कहां गंगा, कहां गंदी नाली; विवाद बढ़ा तो माफी मांगी - Dainik Bhaskar     |       बिखर चुका है बसपा का कास्ट फॉर्मूला, कैसे उबार पाएंगे आनंद-आकाश? - आज तक     |       दिमागी बुखार: सीजेएम ने केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और मंगल पांडे के खिलाफ दिए जांच के आदेश - अमर उजाला     |       आचार संहिता उल्लंघन का मामला: आयुक्त के असहमति नोट को सार्वजनिक करने से EC का इनकार - Navbharat Times     |       जानें क्‍या जेल से बाहर आएगा गुरमीत राम रहीम, हरियाणा के जेल मंत्री ने कही बड़ी बात - दैनिक जागरण     |       Bangladesh vs Afghanistan Live: 21वें ओवर में बांग्लादेश की टीम 100 के पार पहुंची - आज तक     |       वर्ल्ड कप 2019: सेमीफाइनल के लिए भारत को जीतने हैं 2 मैच, जानें और टीमों का गणित - Navbharat Times     |       CWC 2019: ऑस्ट्रेलियाई कोच का दावा- दुनिया को मिल गया है नया धोनी, जानिए कौन है वो - आज तक     |       एक बार फिर India Vs Pakistan! ICC World Cup 2019 के सेमीफाइनल में भिड़ सकती हैं दोनों टीमें - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       जम्मू-कश्मीर आरक्षण पर आज अपना पहला बिल संसद में पेश करेंगे अमित शाह - Hindustan     |       राजस्थान पंडाल हादसा: कथावाचक ने लोगों से की अपील- पंडाल उड़ रहा है, खाली करिए, देखें विडियो - Navbharat Times     |       NIA को और मजबूत बनाने की तैयारी आतंकी घोषित करने का होगा अधिकार - Zee News Hindi     |       न्यायालय के एक फैसले के बाद देश में लग गई थी इमरजेंसी, जानिए क्या था मामला - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       सऊदी में शादी के लिए पुरुषों से ये शर्तें मनवा रही हैं महिलाएं - आज तक     |       ईरान के साथ बातचीत के लिए कोई पूर्व शर्त नहीं: डॉनल्ड ट्रम्प - Navbharat Times     |       अकेली छूटी महिला, आधी रात को फ्लाइट में नींद खुली तो उड़े होश - आज तक     |       अर्दोआन के लिए इस्तांबुल की हार इसलिए है बड़ा झटका - BBC हिंदी     |       Bill Gates ने बताई अपनी अब तक की सबसे बड़ी गलती - आज तक     |       एक पिता ने बेटी की शादी में गाया गाना, वीडियो देख अमिताभ बच्चन की आंखों में आ गए आंसू - अमर उजाला     |       जियो धमाका : 200 रुपए से कम के इस प्लान में मिलेगा महीने भर सबकुछ फ्री, जानें - Himachal Abhi Abhi     |       Gold Rate Today: बाजार में आज गिर गए सोने के भाव वहीं चांदी में आया उछाल - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       पाकिस्तानी कप्तान Sarfraz Ahmed को फैंस से पड़ी गालियां...तो सपोर्ट में उतर आए बॉलीवुड स्टार्स - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       वन डे/ फिल्म निर्माताओं को नहीं मिली दिल्ली की अदालत में सीन फिल्माने की इजाजत - Dainik Bhaskar     |       Kabir Singh box office collection Day 3: शाहिद कपूर की फिल्म का फर्स्ट वीकेंड शानदार - नवभारत टाइम्स     |       Shahrukh Khan ने खुद खोला राज़, Zero फ्लॉप होने के बाद क्यों साइन नहीं की कोई फिल्म - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       वर्ल्ड कप/ भारत की फील्डिंग सबसे चुस्त, पाकिस्तान ने छोड़े सबसे ज्यादा 14 कैच - Dainik Bhaskar     |       शमी ने बताया हैटट्रिक से पहले धौनी ने उनसे क्या कहा, बुमराह ने लिया मैदान पर इंटरव्यू - प्रभात खबर     |       पैसों के लिए आईपीएल खेला, वर्ल्ड कप में कर दिया टीम का बेड़ा गर्क - आज तक     |       टीम इंडिया को प्रैक्टिस कराने के लिए इंग्लैंड पहुंचा ये गेंदबाज, भुवनेश्वर की ले सकता है जगह - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |      

राजनीति


मीडिया की भी उतनी जवाबदेही जितनी हमारी: मोदी

पीएम के अनुसार आज सभी नागरिक विभिन्न श्रोतों से मिली खबरों का विश्लेषण और पुष्टि करने की कोशिश करते हैं। इसलिए, मीडिया को अवश्य ही अपनी विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए अतिरिक्त प्रयास करने चाहिए।


modi-says-media-should-maintain-credibility

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत के लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ मीडिया के ऊपर भी सरकार और न्यायपालिका जितनी जिम्मेदारी और जवाबदेही है। मीडिया अपनी ताक़त का गलत इस्तेमाल न करे। मोदी तमिल दैनिक अखबार 'दिना थांती' के 75 वर्ष पूरे होने के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

मोदी ने कहा, "संपादकीय स्वतंत्रता का उपयोग सार्वजनिक हित के लिए करना चाहिए और लिखने की स्वतंत्रता का मतलब 'तथ्यात्मक रूप से गलत लिखने की स्वतंत्रता' नहीं है।" उन्होंने आगे कहा कि मीडिया के पास समाज को बदलने की ताकत है और साथ ही मीडिया के ऊपर, निर्वाचित सरकार या न्यायपालिका जितनी समाजिक जवाबदेही भी है।

महात्मा गांधी को उद्धरित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रेस 'वास्तव में एक ताकत है, लेकिन इसका दुरुपयोग करना अपराध है।' मोदी ने कहा, "आज, अखबार केवल समाचार नहीं देते हैं। वे हमारी सोच को आकार दे सकते हैं और विश्व के लिए खिड़की खोल सकते हैं। व्यापक संदर्भ में अगर कहें तो मीडिया समाज को बदलने का एक साधन है। इसलिए मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहा जाता है।"

उन्होंने कहा, "भले ही मीडिया प्रतिष्ठान निजी लोगों के स्वामित्व वाले हो सकते हैं, लेकिन वे जनहित के लिए काम कर रहे हैं। जैसा कि विद्वानों ने कहा है, यह(मीडिया) ताकत के बदले शांति से बदलाव स्थापित करने का एक जरिया है। इसी कारण इसपर चुनी हुई सरकार और न्यायपालिका जितनी जवाबदेही है।"

मोदी ने याद दिलाया कि किस तरह राजा राममोहन राय के 'संवाद कौमुदी', बाल गंगाधर तिलक के 'केसरी' और महात्मा गांधी के 'नवजीवन' ने औपनिवेशिक काल में जनमत खड़ा करने और स्वतंत्रता संघर्ष के लिए प्रोत्साहित करने का काम किया था।

प्रधानमंत्री ने कहा, "आज, सभी नागरिक विभिन्न श्रोतों से मिली खबरों का विश्लेषण और पुष्टि करने की कोशिश करते हैं। इसलिए, मीडिया को अवश्य ही अपनी विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए अतिरिक्त प्रयास करने चाहिए। विश्ववसनीय मीडिया संस्थानों में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा हमारे स्वस्थ लोकतंत्र के लिए भी अच्छा है।"

उन्होंने कहा कि इन दिनों अधिकतर मीडिया संवाद राजनीति के आस-पास घूमता नजर आता है, लेकिन भारत सिर्फ राजनीतिज्ञों से नहीं बना है। मोदी ने कहा, "यह 125 करोड़ भारतीयों का भारत देश है। मुझे यह देखकर काफी खुशी होगी अगर मीडिया उनपर और उनकी उपलब्धियों पर अधिक रपटें प्रकाशित करे।"

advertisement