LIVE: अविश्वास प्रस्ताव पर अग्निपरीक्षा से पहले PM मोदी ने बुलाई कोर ग्रुप की बैठक     |       डॉलर की तुलना में रुपये ने छुआ 69.12 का ऐतिहासिक निचला स्तर     |       यात्री और माल वाहनों के पहिये जाम, लोगों की फजीहत     |       पीएम मोदी के पिछले 4 साल के विदेश दौरे में खर्च हुए 1484 करोड़ रुपये     |       अगस्त से पटनावासियों के हाथ में होगा बैंगनी रंग का नया सौ रुपये का नोट     |       ये है BJP सांसद की DSP बेटी, जो 'कैश फॉर जॉब' घोटाले में हुई अरेस्ट     |       AAP नेता संजय सिंह का मुख्य सचिव पर गंभीर आरोप, कहा- वे भ्रष्टाचारियों से मिले हुए हैं     |       चीफ जस्टिस पर SC कॉलेजियम के सुझाव को सरकार ने अस्वीकार किया     |       गोपाल दास नीरज के निधन से एक युग का अंत, आम जन से लेकर राष्ट्रपति तक ने कहा- 'नमन'     |       Exclusive: अगस्ता के बिचौलिये की वकील का दावा- सोनिया के खिलाफ गवाही देने का दबाव     |       सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण 27 जुलाई को, जानें जरूरी और काम की बातें     |       मेरठ में पूर्व सांसद के भाई की मीट फैक्ट्री में गैस से तीन की मौत     |       भारत और अमेरिका की नई दिल्ली में 6 सितंबर को होगी 2+2 वार्ता     |       शिखर वार्ता के बाद व्लादीमिर पुतिन के प्रस्ताव को डोनल्ड ट्रंप ने किया ख़ारिज     |       14 मिनट में बैंक के अंदर से 20 लाख पार     |       Dhadak Movie Review: फिर से पहले प्यार की मासूमियत को करना चाहते हैं महसूस, तो देखें जाह्नवी और ईशान की धड़क     |       ट्रेन का जनरल टिकट अब घर में बैठें अपने स्मार्टफोन से करें बुक, लॉन्च हुआ नया एप     |       जन्म के समय था वजन मात्र 375 ग्राम, डॉक्टरों के प्रयास से जीवित बच गई बच्ची     |       Jio का मानसून हंगामा ऑफर आज से, जानें कैसे 500 रुपए में मिलेगा नया जियो फोन     |       चमोली के मलारी में बादल फटा, भूस्खलन से डेरों में पांच मजदूर दबे     |      

विदेश


पनामा केसः नवाज शरीफ की बेटी मरियम और दामाद सफदर को मिली जमानत

अदालत में पेश होने के बाद मरियम ने कहा कि पहले से ही नवाज शरीफ को इस सजा के अयोग्य ठहराए जाने के बावजूद उनके परिवार पर मामला चलाया जा रहा है।


nawaz-sharif-daughter-maryam-bail-granted-in-panama-case

इस्लामाबादः प्रधानमंत्री पद से हाल ही में हटाए गए नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज और उनके पति मुहम्मद सफदर को राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) द्वारा जमानत दे दी गई। बता दें कि नवाज और उनके परिवार पर परिवार के स्वामित्व वाली संपत्तियों से संबंधित मामले एनएबी में दर्ज किए गए थे। इसके साथ ही सोमवार सुबह इस्लामाबाद पहुंचे सफदर को एनएबी की टीम द्वारा हिरासत में लिए गया था।

अदालत में पेश होने के बाद मरियम ने कहा कि पहले से ही नवाज शरीफ को इस सजा के अयोग्य ठहराए जाने के बावजूद उनके परिवार पर मामला चलाया जा रहा है। ये जांच फैसले के दिन तक चलेंगे, जब तक कि कुछ उभरकर सामने नहीं आ जाता। इसके साथ ही मरियम ने कहा कि संयुक्त जांच टीम द्वारा उनके पारिवारिक व्यवसाय के संबंध में पूछे गए सवाल हमेशा सवाल ही बने रहेंगे क्योंकि ये झूठे आरोप हैं, जिनका कोई जवाब नहीं है।

वहीं मरियम से यह पूछे जाने पर कि उनके भाई हसन और हुसैन नवाज अदालत में कब पेश होंगे तो उन्होंने कहा कि वे अपना फैसला खुद लेंगे। वह लोग विदेश में रहते हैं, इसलिए पाकिस्तान का कानून उन पर लागू नहीं होता।इसके साथ ही अदालत में नवाज शरीफ द्वारा दायर एक आवेदन पर भी सुनवाई की गई, जिसमें अदालत में उपस्थित होने से स्थायी छूट की मांग की गई थी क्योंकि वह अपनी बीमार पत्नी कुलसूम नवाज की देखरेख के लिए लंदन रवाना हो चुके हैं।

हालांकि जवाबदेही अदालत के न्यायाधीश मोहम्मद बशीर ने पूर्व प्रधानमंत्री के आवेदन पर अपने निर्णय को फिलहाल सुरक्षित रखा है। बता दें कि सर्वोच्च अदालत की पांच सदस्यीय पीठ ने 28 जुलाई को नवाज शरीफ और उनके बच्चों के खिलाफ एनएबी को 6 सप्ताह के भीतर जवाबदेही अदालत में मामला दाखिल करने का आदेश दिया था। इतना ही नहीं अदालत ने ट्रायल कोर्ट को मामले पर 6 महीने के भीतर फैसला लेने का निर्देश भी दिया था। 

जवाबदेही अदालत ने पिछली सुनवाईयों में मौजूद नहीं होने पर दो अक्टूबर को शरीफ के बेटों और कैप्टन सफदर को गैर-जमानती वारंट जारी किए थे। 

advertisement