पाकिस्तान का नया कप्तान : पूर्व क्रिकेटर और PTI प्रमुख इमरान खान ने ली प्रधानमंत्री पद की शपथ     |       LIVE: बाढ़ प्रभावित केरल में PM का हवाई दौरा, केंद्र करेगा 500 करोड़ की मदद     |       UP में अब चलेगी 'अटल भावनाओं' की लहर, अस्थि विसर्जन का रोडमैप तैयार     |       बिहार में असिस्टेंट प्रोफेसर की मॉब लिंचिंग की कोशिश     |       सबसे ज्यादा GDP मनमोहन सिंह के PM रहते वक्त हुआ, 10.08 प्रतिशत रहा     |       केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए अब विदेश से भी मदद, UAE के शेख खलीफा ने दिए निर्देश     |       UP: सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डाली तो खैर नहीं, रासुक में होगी गिरफ्तारी     |       Supreme Court : धर्म बदल कर की शादी, अब पत्नी के साथ रहने की सुप्रीम कोर्ट में लगाई गुहार     |       VIDEO : प्राकृतिक आपदा से जूझता केरल, आसमान से दिखा बाढ़ का भयावह नजारा     |       नाले की गैस को भारतीय ने कराया पेटेंट, पीएम मोदी ने भी की थी तारीफ     |       आधा दर्जन लड़कियों से कर चुका है शादी, बहन ढूंढती थी भाई के लिए दुल्हन     |       चंबा के सुल्तानपुर में देह व्यापार का भंडाफोड़     |       मुजफ्फरपुर कांड: अय्याशी का अड्डा था पटना में ब्रजेश के अखबार का दफ्तर     |       जम्मू एवं कश्मीर : नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता के आवास पर आतंकी हमला     |       यूएस-चीन ट्रेड वॉर से भारत को होगा फायदा, मिलेगा सस्ता तेल     |       अमेरिका: भारतीय ने फ्लाइट में सो रही महिला के साथ की छेड़छाड़, मिल सकता है आजीवन कारावास     |       सीमा विवाद सुलझाने के लिए वाजपेयी ने तैयार की थी प्रणाली: चीन     |       उमर खालिद पर हमले का मामलाः 9 घंटे लुधियाना में आरोपियों का इंतजार करती रही पुलिस, नहीं किया सरेंडर     |       एयर इंडिया के पायटलों की धमकी, बकाया भत्ता न मिलने पर ठप किया जा सकता है परिचालन     |       आज सगाई करने जा रहे हैं प्रियंका चोपड़ा और निक जोनास! घर पर हो रही हैं तैयारियां.. देखें Pics     |      

राजनीति


अब मणिपुर में हंगामा | कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा

कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम पर बोलने से इंकार करते हुए मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बिरेन सिंह ने कहा, "यह एक संवैधानिक मामला है और मैं इसपर टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं"


now-fervor-in-manipur-congress-meet-governors-seek-invite-to-prove-majority

कर्नाटक में चल रहे राजनीतिक नाटक के बीच मणिपुर में भी राजनीतिक हंगामा शुरू हो सकता है। मणिपुर में विपक्षी पार्टी के नेताओं ने शुक्रवार को राज्यपाल जगदीश मुखी से मुलाकात कर राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश किया। मणिपुर की राज्यपाल नजमा हेपतुल्ला छुट्टी पर हैं, और इनदिनों यहां का कार्यभार असम के राज्यपाल मुखी संभाल रहे हैं।

राजभवन से बाहर आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता ओकराम इबोबी सिंह ने कहा, "हम मणिपुर में भाजपानीत गठबंधन को तत्काल हटाने की मांग करते हैं, क्योंकि मार्च 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में सबसे ज्यादा सीटें प्राप्त करने वाली कांग्रेस ने यहां 28 सीटों पर जीत दर्ज की थी और यहां सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद कांग्रेस को सरकार बनाने का मौका नहीं दिया गया था।"

उन्होंने कहा, "अगर हमें सरकार बनाने का मौका दिया गया, तो हम चंद दिनों में ही आसानी से बहुमत साबित कर देंगे।" मुखी ने हालांकि कहा कि वह कांग्रेस द्वारा सौंपे गए ज्ञापन पर विचार करेंगे।

कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम पर बोलने से इंकार करते हुए मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बिरेन सिंह ने कहा, "यह एक संवैधानिक मामला है और मैं इसपर टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं।"

इबोबी ने कहा कि उनकी पार्टी शनिवार को चार बजे तक इंतजार करेगी और उसके बाद अगला कदम उठाएगी।

advertisement

  • संबंधित खबरें