झारखंड : पीट-पीटकर युवक की हत्‍या मामले में 5 लोग गिरफ्तार - NDTV Khabar     |       PM मोदी पर टिप्पणी के बाद कांग्रेस सांसद ने मांगी माफी, बोले- मेरी हिंदी अच्छी नहीं - आज तक     |       मायावती के आरोपों का सपा ने दिया जवाब, कहा-अखिलेश का चरित्र किसी को धोखा देने वाला नहीं - Hindustan     |       आचार संहिता उल्लंघन का मामला: आयुक्त के असहमति नोट को सार्वजनिक करने से EC का इनकार - Navbharat Times     |       दिमागी बुखार: सीजेएम ने केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और मंगल पांडे के खिलाफ दिए जांच के आदेश - अमर उजाला     |       जानें क्‍या जेल से बाहर आएगा गुरमीत राम रहीम, हरियाणा के जेल मंत्री ने कही बड़ी बात - दैनिक जागरण     |       ऑस्ट्रेलियाई कोच का दावा- दुनिया को मिल गया है नया धोनी, जानिए कौन है वो - आज तक     |       एक बार फिर India Vs Pakistan! ICC World Cup 2019 के सेमीफाइनल में भिड़ सकती हैं दोनों टीमें - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       बयान/ बुमराह के कौशल से भारत जीत सकता है वर्ल्ड कप, ऑस्ट्रेलिया को वॉर्नर दिला सकते हैं ट्रॉफी: क्लार्क - Dainik Bhaskar     |       World Cup 2019: सेमीफाइनल्स की रेस से बाहर हुईं ये 2 टीम, अब 8 टीमों के बीच है जंग - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       जम्मू-कश्मीर आरक्षण पर आज अपना पहला बिल संसद में पेश करेंगे अमित शाह - Hindustan     |       राजस्थान पंडाल हादसा: कथावाचक ने लोगों से की अपील- पंडाल उड़ रहा है, खाली करिए, देखें विडियो - Navbharat Times     |       न्यायालय के एक फैसले के बाद देश में लग गई थी इमरजेंसी, जानिए क्या था मामला - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       कांग्रेस ने राज्यसभा में उठाया बढ़ती आबादी का मुद्दा, कहा- नियंत्रण नहीं हुआ तो विकास बेमानी - Hindustan     |       सऊदी में शादी के लिए पुरुषों से ये शर्तें मनवा रही हैं महिलाएं - आज तक     |       ईरान बोला, अमेरिका ने खूब कोशिश की, नहीं कर पाया कोई साइबर अटैक - Navbharat Times     |       अकेली छूटी महिला, आधी रात को फ्लाइट में नींद खुली तो उड़े होश - आज तक     |       अर्दोआन के लिए इस्तांबुल की हार इसलिए है बड़ा झटका - BBC हिंदी     |       टेक/ बिल गेट्स ने कहा- गूगल को एंड्रॉयड लॉन्च करने का मौका देना सबसे बड़ी गलती थी - Dainik Bhaskar     |       एक पिता ने बेटी की शादी में गाया गाना, वीडियो देख अमिताभ बच्चन की आंखों में आ गए आंसू - अमर उजाला     |       जियो धमाका : 200 रुपए से कम के इस प्लान में मिलेगा महीने भर सबकुछ फ्री, जानें - Himachal Abhi Abhi     |       डील/ बिन्नी बंसल ने फ्लिपकार्ट के 5.4 लाख शेयर 531 करोड़ रु. में वॉलमार्ट को बेचे - Dainik Bhaskar     |       वन डे/ फिल्म निर्माताओं को नहीं मिली दिल्ली की अदालत में सीन फिल्माने की इजाजत - Dainik Bhaskar     |       Kabir Singh box office collection Day 3: शाहिद कपूर की फिल्म का फर्स्ट वीकेंड शानदार - नवभारत टाइम्स     |       Priyanka Chopra के जेठ बनने वाले हैं दूल्हा, ऐसे उमड़ रहा देवरानी-जेठानी का प्यार - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       Shahrukh Khan ने खुद खोला राज़, Zero फ्लॉप होने के बाद क्यों साइन नहीं की कोई फिल्म - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       ICC World Cup 2019 AFG vs BAN: शाकिब अल हसन नंबर वन बल्‍लेबाज बने, बना दिए कई रिकॉर्ड - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       World Cup 2019, IND vs AFG: इसलिए सचिन तेंदुलकर ने धोनी-जाधव की बल्लेबाजी पर उठाया सवाल - NDTV India     |       वर्ल्ड कप/ भारत की फील्डिंग सबसे चुस्त, पाकिस्तान ने छोड़े सबसे ज्यादा 14 कैच - Dainik Bhaskar     |       शमी ने बताया हैटट्रिक से पहले धौनी ने उनसे क्या कहा, बुमराह ने लिया मैदान पर इंटरव्यू - प्रभात खबर     |      

विदेश


पाकिस्तान का भारत पर बड़ा आरोप

पाकिस्तान का कहना है कि इस्लामाबाद का सुझाव है कि पाकिस्तान में रह रहे अफगान शरणार्थियों को वापस घर भेजे जाने की जरूरत है। लेकिन अमेरिकी अधिकारियों ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि इस वक्त काबुल बहुत अस्थिर है।


pakistan-says-india behind-afghanistan-instability

पाकिस्तान ने एक बार फिर से भारत पर बड़ा आरोप लगाया है। उसका कहना है कि भारत के बढ़ते प्रभाव की वजह से अफगानिस्तान में अराजकता बढ़ी है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने भारत पर आरोप लगाते हुए कहा है कि अफगानिस्तान में भारत के प्रभाव के कारण संकटग्रस्त देश में अराजकता का माहौल बना हुआ है।

जियो न्यूज के मुताबिक, इस्लामाबाद में पाकिस्तान और अमेरिका के ट्रेक-2 राजनयिक वार्ता के चौथे दौर के बाद आसिफ ने मीडिया को बताया, "पाकिस्तान अफगानिस्तान में भारत के बढ़ते हस्तक्षेप के खिलाफ है।" मंत्री ने अफगानिस्तान में आतंकियों के सुरक्षित ठिकानों को तुरंत नष्ट करने की आवश्यकता पर जोर दिया और कहा कि अमेरिकी अफगानिस्तान नीति देश में सामंजस्य प्रक्रिया को नुकसान पहुंचा रही है।

आसिफ ने कहा कि सालों से युद्ध के कारण अफगानिस्तान की अर्थव्यवस्था और उसका बुनियादी ढांचा बाधित और क्षतिग्रस्त हो गया है। उन्होंने कहा कि वहां पर कई सूमह ऐसे हैं, जो देश में युद्ध जारी रखने के लिए दबाव बनाए हुए हैं। 

उन्होंने कहा कि इस्लामाबाद का सुझाव है कि पाकिस्तान में रह रहे अफगान शरणार्थियों को वापस घर भेजे जाने की जरूरत है। लेकिन अमेरिकी अधिकारियों ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि इस वक्त काबुल बहुत अस्थिर है। 

शरणार्थियों का हवाला देते हुए आसिफ ने कहा, "यह हमारी समस्या नहीं है। अमेरिका को इन शरणार्थियों को उन्हें उनके देश वापस भेजने के लिए कुछ कदम उठाने चाहिए।" उन्होंने कहा कि अमेरिका और पाकिस्तान को संबंधों पर काम करने की जरूरत है। साथ ही दोनों देशों को एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने के खेल को समाप्त करने की आवश्यकता है, ताकि दोनों देश आपसी समझ पर काम कर सकें।

इससे पहले अमेरिकी राजदूत डेविड हेल ने कहा था कि अफगानिस्तान में भारत की भूमिका केवल आर्थिक सहायता तक ही सीमित है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और भारत को संबंध सुधारने पर काम करने की जरूरत है। हेल ने दोनों देशों से क्षेत्र में शांति स्थापित करने के लिए प्रयास करने का आग्रह किया।

हेल ने कहा कि अमेरिका ने पाकिस्तानी अधिकारियों को अपनी जमीन पर सक्रिय आतंकवादियों के खिलाफ निर्णायक कदम उठाने को कहा है। 

उन्होंने कहा, "अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने पाकिस्तान में राजनीतिक और सैन्य नेतृत्व से कहा है कि पाकिस्तान-अमेरिकी संबंध महत्वपूर्ण दौर में हैं और अगर वे सहयोग नहीं करते हैं, तो हम अपनी नीति के मुताबिक कार्य करेंगे।"

इस्लामाबाद में हुई इस बैठक में विदेश सचिव तहमीना जांजुआ, हेल और विल्सन मध्य एशिया कार्यक्रम के उपनिदेशक माइकल कुगलमैन के साथ दूसरे अधिकारियों ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

advertisement