केंद्र ने अदालत से कहा- कारगिल के समय राफेल होता तो शहीदों की संख्या कम होती     |       कांग्रेस में टिकट पर चल रहे घमासान के बीच भाजपा ने फिर बाजी मारी     |       डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- मैं प्रधानमंत्री मोदी का बहुत सम्मान करता हूं     |       वैश्विक नेताओं से मिले PM मोदी, US उपराष्ट्रपति को दिया भारत आने का न्योता     |       बयान से पलटे शाहिद आफरीदी, कहा- कश्मीर में भारत कर रहा जुल्म     |       इसरो / जीसैट-29 का सफल प्रक्षेपण, 2020 तक गगनयान के तहत पहला मानव रहित मिशन शुरू होगा     |       चौटाला परिवार का कलह गहराया, भाई ने भाई पर किया प्रहार     |       पश्चिम बंगाल का नाम बदलने के प्रस्ताव को केंद्र ने किया खारिज, 'बांग्ला' नाम पर राजनीति न करे केंद्र सरकार : ममता     |       पूर्व प्रधानमंत्री पंडित नेहरू को याद कर मनाया बाल दिवस विद्यालयों में हुई प्रतियोगिताएं, विजेताओं को किया सम्मानित     |       सूर्य अर्घ्य के साथ महापर्व छठ का हुआ समापन     |       संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसबंर से, क्या राम मंदिर पर कानून लाएगी मोदी सरकार?     |       श्रीलंकाः राष्ट्रपति को एक और झटका, संसद में राजपक्षे के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पास     |       अयोध्या में RSS की रैली, इकबाल अंसारी बोले- छोड़ देंगे अयोध्या     |       हवा की गुणवत्ता कुछ बेहतर, पराली जलाने की घटना हुई कम     |       आज बिहार आयेंगे राष्ट्रपति, पूसा कृषि विवि व एनआईटी के दीक्षांत समारोह में लेंगे भाग     |       डीआरआई और सेना ने पाक सीमा से सटे इलाके में बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किए     |       सबरीमाला: कोर्ट 22 जनवरी को पुनर्विचार याचिकाओं पर करेगा सुनवाई, अपने फैसले पर रोक से इनकार     |       पटनाः थानाध्यक्ष के सामने रालोसपा नेता की गोली मारकर हत्या     |       बारूदी सुरंग में विस्फोट कर नक्सलियों ने उड़ाया ट्रक, पांच घायल     |       किसान व कर्मियों ने किया शुगर मिल प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन     |      

राजनीति


पीएम मोदी ने कहा- अर्थव्यवस्था के बारे में नकारात्मकता न फैलाएं आलोचक

पीएम मोदी ने कहा कि हमने देशहित में कई सारे कदम उठाए हैं। वित्तीय स्थिरता को बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है और हम इसके लिए प्रयास कर रहे हैं।  हम निवेश और आर्थिक विकास को बढ़ाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे।


pm-modi-says-critics-not-spread-negativity-about-economy

नई दिल्लीः पीएम मोदी ने पहली बार अर्थव्यवस्था में सुस्ती की बात को स्वीकार किया, लेकिन इसके साथ ही उन्होंने आलोचकों से कहा कि वे नकारात्मकता न फैलाएं। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था जल्द ही  वापस पटरी पर आ जाएगी। वहीं पीएम मोदी ने कहा कि पिछले तीन सालों में 7.5 प्रतिशत विकास दर के बाद गिरावट आई है। मैं अर्थव्यवस्था में आई गिरावट से इंकार नहीं कर रहा हूं। हमारी सरकार अर्थव्यवस्था की समस्या से निपटने के लिए पूरी तरह वचनबद्ध है। हम कठिन से कठिन निर्णय लेने के लिए तैयार हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि हमने देशहित में कई सारे कदम उठाए हैं। वित्तीय स्थिरता को बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है और हम इसके लिए प्रयास कर रहे हैं।  हम निवेश और आर्थिक विकास को बढ़ाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे। बता दें कि पीएम मोदी इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेकेट्ररीज के स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित कर रहे थे।

पीएम मोदी ने यह बात ऐसे समय में कही है, जब भाजपा नेता यशवंत सिन्हा और विपक्षी दलों ने आर्थिक सुस्ती और बेरोजगारी को लेकर तीखा हमला बोला है। इसके बाद से ही अर्थव्यवस्था की सेहत को लेकर बहस शुरू हो गई है। पीएम ने कहा कि नीतियों में किए गए सभी बदलाव का उद्देश्य गरीबों, निम्न-मध्य वर्ग, और मध्य वर्ग के जीवन स्तर को सुधारना है। उन्होंने आलोचकों की तुलना महाभारत के शल्य से की, जो कर्ण का सारथी था। वह हमेशा राजा को हतोत्साहित करता रहता था। मोदी ने कहा कि ऐसे लोगों को पहचानने की जरूरत है।

पीएम मोदी ने कहा कि उनकी "सरकार संवेदनशील है और कड़ी आलोचना का भी स्वागत करती है और हम उन सभी को विनम्रता और गंभीरता से लेते हैं। मैं सभी को, अपने आलोचकों को भी, आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम ऐसा नहीं मानते कि सबकुछ गलत है, लेकिन नकारात्मकता फैलाने से हम सभी को बचना चाहिए।

advertisement

  • संबंधित खबरें