total lunar eclipse: 67 मिनट ढक जाएगा पूरा चांद, जानें ग्रहण का टाइम - Hindustan     |       मायावती पर विवादित बयान, बीजेपी विधायक साधना सिंह ने जताया खेद - Navbharat Times     |       ब्रिटेन को पछाड़कर 2019 में दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है भारत: पीडब्ल्यूसी - Dainik Bhaskar     |       ओडिशा कांग्रेस में संग्राम जारी, पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीकांत जेना को पार्टी ने बाहर निकाला- Amarujala - अमर उजाला     |       कुल्हड़ वाली चाय पी लो... 15 साल बाद फिर रेलवे स्टेशनों में गूंजेगी ये आवाज - आज तक     |       कर्नाटक: कांग्रेसी विधायकों में रिजॉर्ट में 'मारपीट', एक अस्‍पताल में भर्ती, पार्टी बोली- छाती में दर्द था - News18 Hindi     |       विपक्ष की महारैली में उमड़ा जनसैलाब, नेताओं ने भरी मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने की हुंकार- Amarujala - अमर उजाला     |       पौष पूर्णिमा 2019: जानिए पूजा विधि, शुभ मुहूर्त और स्‍नान व दान का महत्‍व - NDTV India     |       मेक्सिको: तेल पाइपलाइन में हुए धमाके से अब तक 73 लोगों की मौत, 74 घायल - आज तक     |       Mauritian Prime Minister Pravind Jugnauth to arrive in India on 8-day visit - Times Now     |       नशे में महिला सैनिक ने पुरुष साथी का किया यौन शोषण, नहीं मिली सजा - trending clicks - आज तक     |       Two Russian fighter jets collide over Sea of Japan - Times Now     |       पेट्रोल-डीजल के दाम में रविवार को हुई भारी बढ़ोतरी, फटाफट जानें नए रेट्स - News18 Hindi     |       अनिल अंबानी के बेटे अंशुल बने कंपनी में ट्रेनी, न्यूयॉर्क से की पढ़ाई - आज तक     |       फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन की सेल, इन आइटमों पर मिल रहा है भारी छूट - Jansatta     |       Amazon Great Indian Sale: अमेज़न प्राइम मेंबर्स के लिए शुरू हुई सेल, मिल रही हैं ये शानदार डील्स - NDTV India     |       व्हाय चीट इंडिया का बॉक्स ऑफिस पर पहला दिन, इमरान हाशमी को झटका - Webdunia Hindi     |       युवराज सिंह की पत्नी एक्ट्रेस हेजल कीच ने सोशल मीडिया पर सुनाई अपनी दुखभरी कहानी - Hindustan     |       विवादित प्रॉपर्टी को लेकर बेटी सारा के साथ थाने पहुंचीं अमृता सिंह - नवभारत टाइम्स     |       जाह्नवी कपूर अपनी बहन खुशी संग कुछ यूं दिए पोज, Video में दिखा फैशनेबल अंदाज- देखें - NDTV India     |       क्रिकेट/ अमला ने तोड़ा कोहली का रिकॉर्ड, सबसे कम पारियों में लगाए 27 शतक - Dainik Bhaskar     |       ऑस्ट्रेलियन ओपन/ फेडरर उलटफेर का शिकार, 15वीं रैंकिंग वाले सितसिपास से हारे; नडाल की जीत - Dainik Bhaskar     |       ऑस्ट्रेलिया से वनडे सीरीज़ जीतने के बाद, ये मैच देखने पहुंचे विराट कोहली, फोटो हुई वायरल - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       फेडरर के साथ फोटो पर बुरी फंसीं अनुष्का, इस वजह से हो गईं ट्रोल - Sports - आज तक     |      

राजनीति


पीएम मोदी ने कहा- अर्थव्यवस्था के बारे में नकारात्मकता न फैलाएं आलोचक

पीएम मोदी ने कहा कि हमने देशहित में कई सारे कदम उठाए हैं। वित्तीय स्थिरता को बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है और हम इसके लिए प्रयास कर रहे हैं।  हम निवेश और आर्थिक विकास को बढ़ाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे।


pm-modi-says-critics-not-spread-negativity-about-economy

नई दिल्लीः पीएम मोदी ने पहली बार अर्थव्यवस्था में सुस्ती की बात को स्वीकार किया, लेकिन इसके साथ ही उन्होंने आलोचकों से कहा कि वे नकारात्मकता न फैलाएं। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था जल्द ही  वापस पटरी पर आ जाएगी। वहीं पीएम मोदी ने कहा कि पिछले तीन सालों में 7.5 प्रतिशत विकास दर के बाद गिरावट आई है। मैं अर्थव्यवस्था में आई गिरावट से इंकार नहीं कर रहा हूं। हमारी सरकार अर्थव्यवस्था की समस्या से निपटने के लिए पूरी तरह वचनबद्ध है। हम कठिन से कठिन निर्णय लेने के लिए तैयार हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि हमने देशहित में कई सारे कदम उठाए हैं। वित्तीय स्थिरता को बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है और हम इसके लिए प्रयास कर रहे हैं।  हम निवेश और आर्थिक विकास को बढ़ाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे। बता दें कि पीएम मोदी इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेकेट्ररीज के स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित कर रहे थे।

पीएम मोदी ने यह बात ऐसे समय में कही है, जब भाजपा नेता यशवंत सिन्हा और विपक्षी दलों ने आर्थिक सुस्ती और बेरोजगारी को लेकर तीखा हमला बोला है। इसके बाद से ही अर्थव्यवस्था की सेहत को लेकर बहस शुरू हो गई है। पीएम ने कहा कि नीतियों में किए गए सभी बदलाव का उद्देश्य गरीबों, निम्न-मध्य वर्ग, और मध्य वर्ग के जीवन स्तर को सुधारना है। उन्होंने आलोचकों की तुलना महाभारत के शल्य से की, जो कर्ण का सारथी था। वह हमेशा राजा को हतोत्साहित करता रहता था। मोदी ने कहा कि ऐसे लोगों को पहचानने की जरूरत है।

पीएम मोदी ने कहा कि उनकी "सरकार संवेदनशील है और कड़ी आलोचना का भी स्वागत करती है और हम उन सभी को विनम्रता और गंभीरता से लेते हैं। मैं सभी को, अपने आलोचकों को भी, आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम ऐसा नहीं मानते कि सबकुछ गलत है, लेकिन नकारात्मकता फैलाने से हम सभी को बचना चाहिए।

advertisement

  • संबंधित खबरें