इस बार ऐसे होगी EVM और VVPAT से वोटों की काउंटिंग - Lok Sabha Election 2019 - आज तक     |       lok sabha election counting 2019 live update: 2019 चुनाव के नतीजे का काउंटडाउन शुरू, 8 बजे से आएगा पहला रुझान - Hindustan     |       LIVE Lok Sabha Election Result 2019: फिर से मोदी सरकार या कांग्रेस पर बरसा वोटर्स का प्यार, नतीजे आज - News18 हिंदी     |       फ्रांस में राफेल विमान का काम देख रहे भारतीय वायुसेना के दफ्तर में 'घुसपैठ की कोशिश' - NDTV India     |       उर्मिला से लेकर जया प्रदा तक, क्या हार जाएंगे ये 13 मशहूर चेहरे? - Lok Sabha Election 2019 - आज तक     |       लोकसभा चुनाव/ गृह मंत्रालय का राज्यों को अलर्ट, सुरक्षा पुख्ता रखें; वोटों की गिनती के दौरान हिंसा की आशंका - Dainik Bhaskar     |       काउंटिंग के आधे घंटे में मिलेगा पहला ट्रेंड, 12 बजे साफ होने लगेगी नई सरकार की तस्वीर - Navbharat Times     |       कर्नाटक में गरमाई सियासत: केंद्रीय मंत्री ने कहा- 24 मई तक ही सीएम रहेंगे कुमारस्वामी - दैनिक जागरण     |       RBSE Class 12 Result 2019: 12वीं आर्ट्स रिजल्ट जारी, यहां करें चेक, 88 फीसदी हुए पास - NDTV India     |       Loksabha Election 2019: यूपी के उपमुख्यमंत्री बोले- 23 मई को बीजेपी विरोधी दलों का हो जाएगा ‘राजनीतिक अंतिम संस्कार’ - Jansatta     |       टॉपलेस कुंवारी लड़कियों की परेड, राजा किसी को भी बना लेता है पत्नी - आज तक     |       SCO बैठक में एक दूसरे के अगल-बगल बैठे सुषमा स्वराज और कुरैशी, पुलवामा हमले के बाद बढ़ा था भारत-पाक में तनाव - Hindustan     |       अमेरिका/ नाबालिग से संबंध बनाने के लिए विमान ऑटो मोड पर छोड़ा, 5 साल की जेल हो सकती है - Dainik Bhaskar     |       ब्रिटेन : हाउस ऑफ कॉमन्स की नेता एंड्रिया लेडसम का इस्तीफ़ा - BBC हिंदी     |       Hyundai Creta vs Hyundai Venue Comparison - Prices, Specs, Features - CarDekho     |       क्या चुनावी नतीजों के रॉकेट पर सवार होकर 40 हजार पहुंचेगा सेंसेक्‍स? - आज तक     |       ह्यूंदै वेन्यू: जानें, SUV का कौन सा वेरियंट आपके लिए बेस्ट - नवभारत टाइम्स     |       अब इन 4 बड़े सरकारी बैंकों का होगा विलय, नई सरकार लगाएगी मुहर? - Business - आज तक     |       विवेक ओबेरॉय के ट्वीट पर अमिताभ बच्चन ने दिया रिएक्शन- 'सोच समझकर...' - प्रभात खबर     |       सलमान खान ने प्रियंका चोपड़ा पर किया कमेंट, बोले- पति के लिए छोड़ा 'भारत' को - NDTV India     |       कान्स 2019/ रेड कार्पेट पर सोनम व्हाइट टक्सीडो सूट में आईं नजर, बहन रिया ने फाइनल किया लुक - Dainik Bhaskar     |       अर्जुन कपूर की 'इंडियाज मोस्ट वांटेड' में शाहरुख खान भी हुए शामिल, जानें कैसे - नवभारत टाइम्स     |       मिताली राज के मुताबिक ये हैं वो कारण जो टीम इंडिया को बनाएंगे विश्व चैंपियन - Times Now Hindi     |       वर्ल्ड कप 2019: इंग्लैंड जाने से पहले कोहली ने देश के सामने रखा 'विराट' विजन Kohli considers World Cup 2019 as the most challenging one - Sports - आज तक     |       CWC 2019: प्रैक्टिस मैच में स्मिथ और गेंदबाजों के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने विंडीज को दी मात - Hindustan     |       World Cup 2019: वहाब रियाज बोले- वर्ल्ड कप में पाकिस्तानी कोच को गलत साबित करूंगा - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |      

गपशप


कांग्रेस के नए रणनीतिकारों में शुमार हुए प्रणब दा

राजनैतिक पर्यवेक्षक तो इस कड़ी में नेहरू, इंदिरा, संजय, राजीव और नरसिंहा राव को भी जोड़ने से नहीं चूकते। जब से कांग्रेस की बागडोर सोनिया गांधी के हाथों में आई उनकी सलाहकार मंडली में ईसाई और मुस्लिम नेताओं की तूती बोलती रही।


pranab-da-among-new-congress-strategists

कांग्रेस की गिरती साख को परवान चढ़ाने के लिए पार्टी को प्रणब मुखर्जी के तौर पर एक नया रणनीतिकार मिल गया है। वैसे यह बात अब किसी से छुपी नहीं रह गई है कि प्रणब दा की राहुल के मुकाबले प्रियंका से कहीं गहरी छनती है। प्रणब दा की हालिया रिलीज पुस्तक में भी इस बात का कहीं शिद्दत से जिक्र है कि कैसे जब यूपीए सरकार ने शंकराचार्य जयेंद्र सरस्वती को गिरफ्तार किया था तो प्रणब दा इस बात को लेकर अपसेट हो गए थे। प्रणब दा इसी थ्योरी को लेकर फिर से सामने आए हैं कि कांग्रेस के अभ्युदय से लेकर यूपीए सरकार बनने तक कांग्रेस नेतृत्व का एक वर्ग ’सॉफ्ट हिंदुत्व’ को पोषित करता रहा है और ऐसे में हिंदुवादी नेताओं की कांग्रेस में एक पुरानी परंपरा रही है जो मदन मोहन मालवीय, कमलापति त्रिपाठी से लेकर नरसिंहा राव तक में देखी जा सकती है।

राजनैतिक पर्यवेक्षक तो इस कड़ी में नेहरू, इंदिरा, संजय, राजीव और नरसिंहा राव को भी जोड़ने से नहीं चूकते। जब से कांग्रेस की बागडोर सोनिया गांधी के हाथों में आई उनकी सलाहकार मंडली में ईसाई और मुस्लिम नेताओं की तूती बोलती रही। यह सोनिया इफेक्ट ही माना जा सकता है जब उनके वफादार मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री रहते एक अजीबोगरीब बयान दे दिया कि प्राकृतिक संसाधनों पर देश के मुसलमानों का पहला हक है। कांग्रेस की लोकसभा में हुई करारी हार को पारिभाषित करते एंटोनी कमेटी ने भी कमोबेश यही बात कही है कि कांग्रेस की छवि एक हिंदू विरोधी पार्टी की बन गई है।

सो, भले ही कांग्रेस के मौजूदा तारणहार राहुल गांधी प्रणब दा के सीधे संपर्क में ना हों पर उनके कुछ नजदीकी सांसदों का नियमित तौर पर प्रणब दा से मिलना-जुलना हो रहा है, जो दादा का संवाद राहुल तक पहुंचा रहे हैं। शायद यह उस्ताद प्रणब की नसीहतों की परिणति थी कि राहुल गांधी अब मंदिरों में शीश नवाने पहुंच रहे हैं, अकेले गुजरात में राहुल दर्जन भर मंदिरों में जा चुके हैं। यानी कांग्रेस ने सॉफ्ट हिंदुत्व के जिस स्लॉट को पिछले 12-13 सालों में अनदेखा कर दिया था, अब उसकी भरपाई संभव है।

advertisement