पेट्रोल-डीजल के दाम नई ऊंचाई पर पहुंचे, जानिए दिल्ली-मुंबई में क्या है कीमत     |       28000 अरब रुपये के कर्ज में डूबा है पाकिस्‍तान और सेना बोली, 'हम भारत से युद्ध को तैयार'     |       50 करोड़ गरीबों को पीएम मोदी का तोहफा, एेसे उठाएं योजना का लाभ     |       फ्रांस्वा ओलांद अपने बयान पर कायम, कहा- मोदी सरकार में नए फॉर्मूले के तहत रिलायंस का नाम तय हुआ     |       फिर बदला मौसम का मिजाज़, राजधानी में पारा लुढ़का     |       भाजपा नेता जसवंत सिंह के विधायक पुत्र मानवेंद्र ने पार्टी छोड़ी, बोले- कमल का फूल, हमारी भूल     |       अकेले दम 30000 मील की समुद्री परिक्रमा पर निकला था पहला भारतीय कमांडर, 14 मी ऊंची लहरों के बीच फंसा     |       एशिया कप / भारत-पाक वनडे आज, फाइनल में जगह बनाने पर टीम इंडिया की नजर     |       बलिया कलेक्ट्रेट में DIOS के तीखे तेवर, गुस्साए MLA सुरेंद्र सिंह ने जड़े थप्पड़     |       कांग्रेस नेता कमलनाथ ने शिवराज सिंह पर साधा निशाना, कही यह बात...     |       राहुल गांधी ने सहयोगियों को दिखाए तेवर, कहा- 'हम ज्यादा नहीं झुकेंगे'     |       2019 चुनाव : बिहार में सीट बंटवारे को लेकर NDA के दो सहयोगी आमने-सामने, कुशवाहा की पार्टी ने दिया ये बयान     |       Ganesh Visarjan 2018: बप्पा को विदा करते समय यह चीजें भी रखें साथ     |       खंडवा में बारह घंटे तेरह इंच से ज्यादा बारिश, नदी-नाले उफ़ान पर     |       ब्राजील चुनाव : 'डोनल्ड ट्रंप' बनाम 'इमरान ख़ान'     |       BJP सांसद ने काटा संसद की आकृति वाला केक, मचा बवाल     |       जम्मू-कश्मीर: SPO की हत्या के लिए ISI ने भेजे निर्देश, सबूत मिलने के बाद भारत ने कैंसिल की मीटिंग     |       ब्लाक समितियों पर भी कांग्रेस का कब्जा     |       3 दिन तक होगा ईशा अंबानी-आनंद पीरामल की सगाई का जश्न, इस शहर में होगी प्री-वेडिंग पार्टी     |       डॉ. कफील खान अब बहराइच से गिरफ्तार, जिला अस्‍पताल में हंगामा करने का आरोप     |      

राज्य


राष्ट्रपति ने कहा- सरकार 2022 तक 90 फीसदी घरों में जल आपूर्ति के लिए प्रतिबध्द

विज्ञान भवन में मंगलवार को आयोजित इंडिया वॉटर वीक में उन्होंने कहा कि यह एक पावन प्रतिबद्धता है। सरकार ने 2022 तक सभी ग्रामीण क्षेत्रों में पीने योग्य पानी उपलब्ध कराने के लिए रणनीतिक योजना बनाई है।


president-ram-nath-kovind-addressed-india-water-week-2017

नई दिल्लीः सरकार 2022 तक 90 फीसदी भारतीय ग्रामीण घरों में पाइपलाइन से पानी की आपूर्ति करने के लिए प्रतिबद्ध है। पानी की उपलब्धता मानवा गरिमा का पर्याय है और 600,000 गांवों और शहरी इलाकों में रह रहे लोगों को साफ पानी उपलब्ध कराना सरकार के लिए सिर्फ एक परियोजना नहीं है। यह बातें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इंडिया वॉटर वीक 2017 के उद्घाटन समारोह में कहीं।

विज्ञान भवन में मंगलवार को आयोजित इंडिया वॉटर वीक में उन्होंने कहा कि यह एक पावन प्रतिबद्धता है। सरकार ने 2022 तक सभी ग्रामीण क्षेत्रों में पीने योग्य पानी उपलब्ध कराने के लिए रणनीतिक योजना बनाई है। 2022 तक 90 फीसदी ग्रामीण आवासों में पाइप से पानी की आपूर्ति उपलब्ध कराने की भी योजना है। राष्ट्रपति ने कहा कि पानी अर्थव्यवस्था, पारिस्थितिकी और मानव जीवन के लिए जरूरी है। पानी की कमी का मुद्दा जलवायु परिवर्तन और पर्यावरणीय चिंताओं की वजह से अधिक जटिल हो गया है।

राष्ट्रपति कोंविंद ने कहा कि पानी का अधिक बेहतर और उचित इस्तेमाल भारतीय कृषि और उद्योग दोनों के लिए चुनौती है। इसके लिए हमारे गांवों और शहरों में नए मानदंडों के निर्माण की जरूरत है। मौजूदा समय में भारत में 80 फीसदी पानी का इस्तेमाल कृषि में और सिर्फ 15 फीसदी का उद्योगों द्वारा होता है। हर साल शहरी भारत से 40 अरब लीटर अपशिष्ट जल उत्पन्न होता है। इसलिए इस अपशिष्ट जल में मौजूद विषाक्त तत्वों को घटाने के लिए प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करने और फिर इस पानी का इस्तेमाल सिंचाई उद्देश्यों के लिए करने की जरूरत है।

advertisement

  • संबंधित खबरें