सीएम ममता बनर्जी का निशाना: कहा- बीजेपी हिस्ट्री चेंजर है और देश डेंजर में है     |       रिश्वतखोरी / सीवीसी ने सीबीआई चीफ के खिलाफ कुछ आरोपों पर प्रतिकूल रिपोर्ट सौंपी: सुप्रीम कोर्ट     |       छत्तीसगढ़ / मोदी ने कहा- कांग्रेस सोचती है कि उनकी राजगद्दी एक चायवाला कैसे चुरा ले गया?     |       चक्रवात 'गाजा' की दस्तक से तमिलनाडु में भारी तबाही, अब तक 23 लोगों की मौत     |       चुनावी मैदान में उतरे राजस्थान कांग्रेस के दिग्गज     |       पंजाब में घुसे जैश के सात अातंकी, पुलिस ने जारी किए फोटो, दिल्ली में भी घुसने की फिराक में     |       बिहार: छठ पर सपना चौधरी के शो में हुड़दंग, 1 की मौत, 12 लोग जख्मी     |       राजा भैया बनाएंगे अपनी पार्टी, आज कर सकते हैं बड़ा ऐलान     |       Sabarimala Temple Live Updates: एयरपोर्ट से बाहर नहीं निकल पाई तृप्ति देसाई     |       अभूतपूर्वः नायडू की आंध्र सरकार ने CBI को जांच से रोका, केंद्र से बढ़ सकती है और तल्खी     |       शाह से मिलने को बेताब उपेंद्र कुशवाहा एनडीए से होंगे बाहर, जेडीयू ने दिए संकेत     |       कॉपीराइट / शादी के वीडियो में अपने गानों के इस्तेमाल पर टी-सीरीज को आपत्ति, 100 फोटोग्राफर्स पर केस     |       दिल्ली सरकार ने टीएम कृष्णा को कार्यक्रम के लिए किया आमंत्रित, एएआई ने किया था रद्द     |       MP से राहुल का PM पर सीधा वार- अब भ्रष्टाचार पर बोलते नहीं मोदी     |       लोक सेवा आयोग के पूर्व चेयरमैन ने खुद को मारी गोली, घर में मिला शव     |       नोटबंदी नहीं की गई होती, तो भारत की अर्थव्यवस्था ढह जाती : RBI निदेशक एस गुरुमूर्ति     |       वैश्विक रुख से चांदी वायदा भाव में तेजी     |       12वीं में पढ़ने वाली होमगार्ड की लड़की बन गई 1.5 करोड़ की मालकिन, देखिए एेसे खुली किस्मत     |       Indian Railways: साल भर में 14 करोड़ रुपये के कंबल-तौलिए-चादर चुरा ले गए रेल यात्री!     |       RPF Constable/SI पद के रोल नंबर जारी, यहां करें डाउनलोड     |      

खेल


प्रो-कबड्डी लीग : खिताबी भिड़ंत के लिए पटना-गुजरात तैयार

हालांकि दोनों ही टीमें दमदार हैं। पटना और गुजरात, दोनों के पास बेहतरीन रेडर हैं। गुजरात हालांकि लीग में एक मजबूत टीम के रूप में उभरकर आई। उसकी रेडिंग कप्तान सुकेश हेगड़े, महेंद्र राजपूत और सचिन तंवर जैसे खिलाड़ियों के दम पर शानदार रही है


pro-kabaddi-league-patna-gujarat-ready-for-title-battle

चेन्नई: प्रो-कबड्डी लीग के पांचवे सीजन में शामिल हुई चार नई टीमों में से एक गुजरात फार्च्यूनजाएंट्स ने अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर फाइनल में पहुंच गया है। अब वह शनिवार को दो बार की खिताबी विजेता पटना पाइरेट्स के खिलाफ अंतिम भिड़ंत के लिए तैयार है। पटना ने सीजन-3 और सीजन-4 में लगातार दो बार लीग का खिताब अपने नाम किया है। वह तीसरी बार लीग के फाइनल में पहुंचा है। वहीं स्टार रेडर प्रदीप नरवाल की टीम ने क्वालीफायर-2 में गुरुवार को खेले गए मैच में बंगाल वॉरियर्स को मात देकर खिताबी मुकाबले में कदम रखा तो वहीं गुजरात ने क्वालीफायर-1 में बंगाल को ही हराकर फाइनल में प्रवेश किया।

हालांकि दोनों ही टीमें दमदार हैं। पटना और गुजरात, दोनों के पास बेहतरीन रेडर हैं। गुजरात हालांकि लीग में एक मजबूत टीम के रूप में उभरकर आई। उसकी रेडिंग कप्तान सुकेश हेगड़े, महेंद्र राजपूत और सचिन तंवर जैसे खिलाड़ियों के दम पर शानदार रही है, लेकिन अबोजार, फाजेल अत्राचेली और परवेश बैंसवाल के कारण उसके मजबूत डिफेंस को तोड़ पाना अन्य 11 टीमों के लिए इस सीजन में असंभव रहा है। इन तीनों ने गुजरात के डिफेंस को इस सीजन का मजबूत डिफेंस साबित किया है। लीग में गुजरात और पटना की भिड़ंत दो बार हुई है। दोनों ही बार सुकेश की टीम ने पटना को मात दी है।

इंटरजोनल वीक चैलेंज में 29 सितंबर को गुजरात ने पटना को 30-29 से हराया था। वहीं आठ अक्टूबर को इंटरजोनल वाइल्ड कार्ड वीक में सुकेश की टीम ने 33-29 से प्रदीप की टीम पर जीत हासिल की थी। गुजरात के कोच मनप्रीत सिंह भी फाइनल मुकाबले के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने एक बार कहा था कि वह लीग में पटना के खिलाफ किसी भी मैच में प्रदीप को सुपर-10 नहीं मारने देंगे और ऐसे हुआ भी। पटना की बात की जाए, तो उसके पास 'डुबकी किंग' प्रदीप और मोनू गोयट के रूप में दो बेहतरीन रेडर हैं, लेकिन उसका डिफेंस कमजोर है, जिसका फायदा गुजरात को मिल सकता है।

वहीं कप्तान प्रदीप ने खुद भी टीम के कमजोर डिफेंस की बात को स्वीकारा है। उन्होंने कहा, 'मेरी टीम में रेडिंग की जिम्मेदारी मैं और मोनू गोयट मुख्य रूप से संभालेंगे, लेकिन हमें अपने कमजोर डिफेंस को बेहतर करना होगा। प्रदीप ने कहा कि मैं जानता हूं कि गुजरात की रेडिंग और डिफेंस दोनों ही शानदार हैं। ऐसे में फाइनल का मैच हम दोनों टीमों के बीच रोमांचक होगा। फाइनल के मैच में हम 'या तो कटेंगे या जीतेंगे' के इरादे से उतरेंगे, तभी जीत संभव होगी। नहीं, तो नई टीम खिताब ले जाएगी और हम हैट्रिक नहीं मार पाएंगे।

मनप्रीत के बयान पर प्रदीप ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि हमारी टीम अगर फाइनल में पहुंचती है, तो मैं निश्चित तौर पर सुपर-10 मारकर मनप्रीत के इस कथन को गलत साबित करने की पूरी कोशिश करूंगा। पटना ने सीजन-3 और सीजन-4 में कबड्डी लीग का खिताब अपने नाम किया था और इसके तहत अगर वह इस बार फाइनल में जीत हासिल करती है, तो वह जीत की हैट्रिक बनाएगी। इस सीजन में प्रदीप 300 रेड अंक पूरे करने वाले पहले खिलाड़ी हैं।

advertisement

  • संबंधित खबरें