राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति का बड़ा खुलासा, भारत सरकार ने ही दिया था रिलायंस का नाम, 10 बातें     |       आतंकी धमकी से बेखौफ हैं घाटी के युवा, दस हजार ने दिया पुलिस में भर्ती के लिए आवेदन     |       पीएम नरेंद्र मोदी आज ओडिशा और छत्तीसगढ़ में कई परियोजनाएं शुरू करेंगे     |       Asia Cup: दुबई में चमके रोहित-जडेजा, भारत ने बांग्लादेश को 7 विकेट से हराया     |       अलीगढ़ का एनकाउंटर पूर्व नियोजित राजनीतिक कार्यक्रम : कांग्रेस     |       न्यूयॉर्क में मिलेंगे भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्री     |       SC-ST एक्ट के खिलाफ पटना में सड़कों पर उतरे सवर्ण, पुलिस ने भांजी लाठियां, कई घायल     |       'नन' के साथ रेप करने के आरोपी 'बिशप' को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |       इटली / ईशा अंबानी-आनंद पीरामल की सगाई पार्टी, 23 सितंबर तक चलेंगे कार्यक्रम     |       बिहार कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बने तो छलका कादरी का दर्द, बोले- झाड़ू भी लगा लूंगा     |       मनोहर पर्रिकर गोवा के मुख्यमंत्री बने रहेंगे     |       UGC का फरमान, 29 सितंबर को सभी यूनिवर्सिटी मनाएं 'सर्जिकल स्ट्राइक दिवस'     |       मक्का मस्जिद विस्फोट के जज BJP में शामिल होने के इच्छुक, बताया- एकमात्र देशभक्त पार्टी     |       रूस से रक्षा सौदा / अमेरिका ने चीन पर प्रतिबंध लगाया, कहा- मिसाइल सौदा हुआ तो भारत पर भी कार्रवाई संभव     |       बिहार : ताजिया जुलूस की तैयारी के बीच दो युवकों की हत्या, वैशाली में तनाव     |       राजस्थान : जसवंत सिंह के बेटे की रैली शनिवार को, बगावती तेवर से बीजेपी में बेचैनी     |       गोरखपुर में मोहर्रम जुलूस के दौरान विवाद, भीड़ ने फूंकी पुलिस जीप, दरोगा का सिर फटा     |       पढ़िए आखिर क्यों लंबित मामलों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा हम नरभक्षी टाइगर नहीं...     |       वारदात / बदमाशों ने बैंक के 2 गार्डों की सरिया और रॉड से पीट-पीटकर की हत्या, नहीं कर पाए लूट     |       चक्रवाती तूफान DAYE ने पार किया ओडिशा का तट, कई इलाकों में भारी बारिश     |      

खेल


प्रो-कबड्डी लीग : खिताबी भिड़ंत के लिए पटना-गुजरात तैयार

हालांकि दोनों ही टीमें दमदार हैं। पटना और गुजरात, दोनों के पास बेहतरीन रेडर हैं। गुजरात हालांकि लीग में एक मजबूत टीम के रूप में उभरकर आई। उसकी रेडिंग कप्तान सुकेश हेगड़े, महेंद्र राजपूत और सचिन तंवर जैसे खिलाड़ियों के दम पर शानदार रही है


pro-kabaddi-league-patna-gujarat-ready-for-title-battle

चेन्नई: प्रो-कबड्डी लीग के पांचवे सीजन में शामिल हुई चार नई टीमों में से एक गुजरात फार्च्यूनजाएंट्स ने अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर फाइनल में पहुंच गया है। अब वह शनिवार को दो बार की खिताबी विजेता पटना पाइरेट्स के खिलाफ अंतिम भिड़ंत के लिए तैयार है। पटना ने सीजन-3 और सीजन-4 में लगातार दो बार लीग का खिताब अपने नाम किया है। वह तीसरी बार लीग के फाइनल में पहुंचा है। वहीं स्टार रेडर प्रदीप नरवाल की टीम ने क्वालीफायर-2 में गुरुवार को खेले गए मैच में बंगाल वॉरियर्स को मात देकर खिताबी मुकाबले में कदम रखा तो वहीं गुजरात ने क्वालीफायर-1 में बंगाल को ही हराकर फाइनल में प्रवेश किया।

हालांकि दोनों ही टीमें दमदार हैं। पटना और गुजरात, दोनों के पास बेहतरीन रेडर हैं। गुजरात हालांकि लीग में एक मजबूत टीम के रूप में उभरकर आई। उसकी रेडिंग कप्तान सुकेश हेगड़े, महेंद्र राजपूत और सचिन तंवर जैसे खिलाड़ियों के दम पर शानदार रही है, लेकिन अबोजार, फाजेल अत्राचेली और परवेश बैंसवाल के कारण उसके मजबूत डिफेंस को तोड़ पाना अन्य 11 टीमों के लिए इस सीजन में असंभव रहा है। इन तीनों ने गुजरात के डिफेंस को इस सीजन का मजबूत डिफेंस साबित किया है। लीग में गुजरात और पटना की भिड़ंत दो बार हुई है। दोनों ही बार सुकेश की टीम ने पटना को मात दी है।

इंटरजोनल वीक चैलेंज में 29 सितंबर को गुजरात ने पटना को 30-29 से हराया था। वहीं आठ अक्टूबर को इंटरजोनल वाइल्ड कार्ड वीक में सुकेश की टीम ने 33-29 से प्रदीप की टीम पर जीत हासिल की थी। गुजरात के कोच मनप्रीत सिंह भी फाइनल मुकाबले के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने एक बार कहा था कि वह लीग में पटना के खिलाफ किसी भी मैच में प्रदीप को सुपर-10 नहीं मारने देंगे और ऐसे हुआ भी। पटना की बात की जाए, तो उसके पास 'डुबकी किंग' प्रदीप और मोनू गोयट के रूप में दो बेहतरीन रेडर हैं, लेकिन उसका डिफेंस कमजोर है, जिसका फायदा गुजरात को मिल सकता है।

वहीं कप्तान प्रदीप ने खुद भी टीम के कमजोर डिफेंस की बात को स्वीकारा है। उन्होंने कहा, 'मेरी टीम में रेडिंग की जिम्मेदारी मैं और मोनू गोयट मुख्य रूप से संभालेंगे, लेकिन हमें अपने कमजोर डिफेंस को बेहतर करना होगा। प्रदीप ने कहा कि मैं जानता हूं कि गुजरात की रेडिंग और डिफेंस दोनों ही शानदार हैं। ऐसे में फाइनल का मैच हम दोनों टीमों के बीच रोमांचक होगा। फाइनल के मैच में हम 'या तो कटेंगे या जीतेंगे' के इरादे से उतरेंगे, तभी जीत संभव होगी। नहीं, तो नई टीम खिताब ले जाएगी और हम हैट्रिक नहीं मार पाएंगे।

मनप्रीत के बयान पर प्रदीप ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि हमारी टीम अगर फाइनल में पहुंचती है, तो मैं निश्चित तौर पर सुपर-10 मारकर मनप्रीत के इस कथन को गलत साबित करने की पूरी कोशिश करूंगा। पटना ने सीजन-3 और सीजन-4 में कबड्डी लीग का खिताब अपने नाम किया था और इसके तहत अगर वह इस बार फाइनल में जीत हासिल करती है, तो वह जीत की हैट्रिक बनाएगी। इस सीजन में प्रदीप 300 रेड अंक पूरे करने वाले पहले खिलाड़ी हैं।

advertisement