कश्मीर पर शाहिद अफरीदी का यू टर्न, कहा- अपने देश के लिए हूं निष्ठावान     |       देश के सबसे भारी रॉकेट 'बाहुबली' से जीसैट-29 लॉन्‍च, कश्मीर और नॉर्थ ईस्ट में जीवन करेगा आसान     |       जानिए, राफेल डील पर अरुण शौरी, प्रशांत भूषण और अटॉर्नी जनरल ने क्या-क्या दी दलीलें     |       Birthday Special: चीन से हार के बाद जवाहरलाल नेहरू ने क्या कहा था?     |       राजस्‍थान चुनाव: बीजेपी की दूसरी लिस्‍ट में 14 विधायकों, तीन मंत्रियों के टिकट कटे     |       राहुल की हरी झंडी, राजस्थान में गहलोत और सचिन पायलट दोनों लड़ेंगे चुनाव     |       सुप्रीम कोर्ट में सरकार ने कहा- राफेल डील की समीक्षा करना कोर्ट का नहीं, विशेषज्ञों का काम     |       टूट गया चौटाला परिवार, जिस इनेलो को खड़ा किया उसी से निकाले गए अजय चौटाला     |       संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसबंर से, क्या राम मंदिर पर कानून लाएगी मोदी सरकार?     |       उपेंद्र कुशवाहा ने की शरद यादव से मुलाकात, अटकलों को मिली हवा     |       फिनटेक फेस्टिवल को संबोधित करने वाले दुनिया के पहले नेता बने पीएम मोदी, की 'एपिक्स' की शुरुआत     |       एयर इंडिया की फ्लाइट में नशे के हालत में महिला ने जमकर मचाया उत्पात, खूब दी गांलियां     |       छत्तीसगढ़ः नक्सलियों ने किया बारूदी सुरंग में विस्फोट, 4 बीएसएफ जवानों समेत 6 घायल     |       7.5 लीटर हवा खरीदिए 1499 में और दूर रहिए प्रदूषण से     |       Railway शुरू कर रहा श्री रामायण एक्सप्रेस, इन स्टेशनों से होकर गुजरेगी     |       MP Chunav 2018: आरएसएस के खिलाफ कमलनाथ का वीडियो वायरल, बोले-चुनाव बाद निपट लेंगे     |       डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मनाई दिवाली, ट्वीट में हिंदुओं को ही बधाई देना भूले     |       तृप्ति देसाई का एलान, बोलीं- 17 नवंबर को सबरीमाला मंदिर में करूंगी प्रवेश, सीएम से मांगी सुरक्षा     |       बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने अयोध्या से पलायन करने की दी चेतावनी     |       उदीयमान सूर्य को अ‌र्घ्य देकर मांगी अपनों के लिए सुख व समृद्धि     |      

राजनीति


राहुल ने कहा- निगरानी के लिए सरकार कर रही आधार का प्रयोग

राहुल ने आधार को बैंक खातों से जोड़ने के सवाल पर कहा कि इसे कांग्रेस सरकार ने शुरू किया था, लेकिन मौजूदा सरकार ने इसे निगरानी तंत्र में बदल दिया है। जो लोग आज सत्ता में हैं,


rahul-gandhi-says-government-using-aadhaar-for-monitoring

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। इस बार राहुल ने सरकार पर आधार को 'निगरानी प्रणाली' के तौर पर इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है और कहा कि यह भी वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) की तरह 'अव्यवस्था' में बदल जाएगी। पीएचडी चैंबस ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के 122वें सालाना सत्र में गांधी ने कहा कि जीएसटी में 'सुधार' की अभी भी जरूरत है।

राहुल ने आधार को बैंक खातों से जोड़ने के सवाल पर कहा कि इसे कांग्रेस सरकार ने शुरू किया था, लेकिन मौजूदा सरकार ने इसे निगरानी तंत्र में बदल दिया है। जो लोग आज सत्ता में हैं, इसे निगरानी तंत्र बना रहे हैं। आधार इसलिए नहीं लाया गया था और मैं आपसे सहमत हूं कि इसके गंभीर दुष्परिणाम होंगे। उन्होंने कहा कि जिस तरह से जीएसटी को लेकर अव्यवस्था फैली है, वैसा ही आधार के साथ भी होगा।

हालांकि जीएसटी पर राहुल ने कहा कि यह गलत तरीके से लागू किया गया है और सरकार लोगों की सुन नहीं रही है। हमने जीएसटी लागू करने के लिए बहुत साहसिक लड़ाई लड़ी। इसके मूल में न्यूनतम स्लैब, कर तथा सरलता थी। हम इसके लिए जो कर सकते थे वह किया । उन्होंने कहा कि पार्टी के नेता पी. चिदंबरम इस संबंध में वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिलने गए थे और उन्हें कहा था कि सरकार 'गलती' कर रही है।

पहले इसे पॉयलट परियोजना के तौर पर लागू करना चाहिए, लेकिन हमारी पार्टी की चिंताओं पर ध्यान नहीं दिया गया और उन्हें 'अपने काम से मतलब रखने' को कहा गया। राहुल ने कहा कि उनकी पार्टी ने जीएसटी को लेकर अपनी चिंता जाहिर की थी, लेकिन व्यापक फलक पर हमें लगा कि देश जीएसटी चाहता है। उन्होंने कहा कि जीएसटी की अधिकतम दर 18 फीसदी होनी चाहिए।

advertisement

  • संबंधित खबरें