विवादों का राफेल / फ्रांस छह देशों को बेच चुका यह लड़ाकू विमान, भारत को 25% छूट का दावा     |       राहुल गांधी पर वसुंधरा का पलटवार, कहा- ना अच्छा आचार ना विचार     |       जेट एयरवेज की फ्लाइट में कान-नाक से बहा था खून, अब यात्री ने 30 लाख रुपये का मुआवजा मांगा     |       NewsWrap: मायावती ने अजीत जोगी के साथ किया गठबंधन, पढ़ें बड़ी खबरें     |       शहादत / शहीद नरेंद्र सिंह को दी गई अंतिम विदाई, पत्नी बोली-बेटे को लेफ्टिनेंट बनाऊंगी, बदला जो लेना है     |       शिवसेना लोगों को पेट्रोल और डीजल के लिए लोन देकर करेगी विरोध प्रदर्शन     |       आवाज़ अड्डा: बाहरी दुनिया से संघ का संवाद, मुसलमानों को संदेश     |       रेप पर दिया विवादित बयान तो स्वाति मालीवाल ने अपने पति को ही घेरा, कहा- बोलते वक्त सावधानी बरतें     |       इमरान के खत पर भारत का जवाब, यूएन बैठक के दौरान सुषमा स्वराज पाक विदेश मंत्री से मिलेंगी     |       BBC EXCLUSIVE: बांग्लादेश के पहले हिंदू चीफ़ जस्टिस का 'देश निकाला और ब्लैकमेल'     |       हेमराज की पत्नी बोलीं- पाकिस्तान के दस सैनिकों का सिर काटकर लाओ     |       ट्रेन में मोदी / वर्ल्ड क्लास कन्वेंशन सेंटर का शिलान्यास करने मेट्रो से गए, मेट्रो से ही लौटे     |       प्रेस रिव्यू: यूनिवर्सिटियां 29 सितंबर को 'सर्जिकल डे' मनाएंगी     |       रक्षक बना भक्षक / दिल्ली पुलिस की सिक्योरिटी यूनिट में तैनात एसीपी पर दुष्कर्म का केस     |       कैबिनेट का फैसला / तीन तलाक देने पर 3 साल जेल, मोदी सरकार के अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी     |       दैनिक राशिफल 21 सितंबर 2018 : मेष राशि वाले... जिंदगी का कोई बड़ा फैसला आज न लें     |       छोटे समय की बचत योजनाओं की ब्‍याज दरें बढ़ीं, जानिए आपको होगा कितना फायदा     |       भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में SC में हुई तीखी बहस !     |       भारत की अर्थव्यवस्था 2022 तक 5000 अरब डॉलर की होगी : PM मोदी     |       सीएम योगी की सुरक्षा में बड़ी चूक, ड्राइवर के सूझबूझ से टला हादसा     |      

राजनीति


राहुल ने कहा- निगरानी के लिए सरकार कर रही आधार का प्रयोग

राहुल ने आधार को बैंक खातों से जोड़ने के सवाल पर कहा कि इसे कांग्रेस सरकार ने शुरू किया था, लेकिन मौजूदा सरकार ने इसे निगरानी तंत्र में बदल दिया है। जो लोग आज सत्ता में हैं,


rahul-gandhi-says-government-using-aadhaar-for-monitoring

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। इस बार राहुल ने सरकार पर आधार को 'निगरानी प्रणाली' के तौर पर इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है और कहा कि यह भी वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) की तरह 'अव्यवस्था' में बदल जाएगी। पीएचडी चैंबस ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के 122वें सालाना सत्र में गांधी ने कहा कि जीएसटी में 'सुधार' की अभी भी जरूरत है।

राहुल ने आधार को बैंक खातों से जोड़ने के सवाल पर कहा कि इसे कांग्रेस सरकार ने शुरू किया था, लेकिन मौजूदा सरकार ने इसे निगरानी तंत्र में बदल दिया है। जो लोग आज सत्ता में हैं, इसे निगरानी तंत्र बना रहे हैं। आधार इसलिए नहीं लाया गया था और मैं आपसे सहमत हूं कि इसके गंभीर दुष्परिणाम होंगे। उन्होंने कहा कि जिस तरह से जीएसटी को लेकर अव्यवस्था फैली है, वैसा ही आधार के साथ भी होगा।

हालांकि जीएसटी पर राहुल ने कहा कि यह गलत तरीके से लागू किया गया है और सरकार लोगों की सुन नहीं रही है। हमने जीएसटी लागू करने के लिए बहुत साहसिक लड़ाई लड़ी। इसके मूल में न्यूनतम स्लैब, कर तथा सरलता थी। हम इसके लिए जो कर सकते थे वह किया । उन्होंने कहा कि पार्टी के नेता पी. चिदंबरम इस संबंध में वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिलने गए थे और उन्हें कहा था कि सरकार 'गलती' कर रही है।

पहले इसे पॉयलट परियोजना के तौर पर लागू करना चाहिए, लेकिन हमारी पार्टी की चिंताओं पर ध्यान नहीं दिया गया और उन्हें 'अपने काम से मतलब रखने' को कहा गया। राहुल ने कहा कि उनकी पार्टी ने जीएसटी को लेकर अपनी चिंता जाहिर की थी, लेकिन व्यापक फलक पर हमें लगा कि देश जीएसटी चाहता है। उन्होंने कहा कि जीएसटी की अधिकतम दर 18 फीसदी होनी चाहिए।

advertisement