LIVE: अविश्वास प्रस्ताव पर अग्निपरीक्षा से पहले PM मोदी ने बुलाई कोर ग्रुप की बैठक     |       पीएम मोदी के पिछले 4 साल के विदेश दौरे में खर्च हुए 1484 करोड़ रुपये     |       डॉलर की तुलना में रुपये ने छुआ 69.12 का ऐतिहासिक निचला स्तर     |       अगस्त से पटनावासियों के हाथ में होगा बैंगनी रंग का नया सौ रुपये का नोट     |       NEWS FLASH: अमेरिकी डॉलर की तुलना में सात पैसे गिरकर रुपया 69.12 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर     |       ट्रांसपोर्टर हड़ताल: महंगे हो सकते हैं फल-सब्जी और किराना सामान     |       ये है BJP सांसद की DSP बेटी, जो 'कैश फॉर जॉब' घोटाले में हुई अरेस्ट     |       गोपाल दास नीरज के निधन से एक युग का अंत, आम जन से लेकर राष्ट्रपति तक ने कहा- 'नमन'     |       AAP नेता संजय सिंह का मुख्य सचिव पर गंभीर आरोप, कहा- वे भ्रष्टाचारियों से मिले हुए हैं     |       Exclusive: अगस्ता के बिचौलिये की वकील का दावा- सोनिया के खिलाफ गवाही देने का दबाव     |       सपा सरकार की बेरोजगारी भत्ता योजना बंद, शासनादेश जारी     |       सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण 27 जुलाई को, जानें जरूरी और काम की बातें     |       जियो का मानसून हंगामा कल से, 49 रुपये में 1 महीने तक सब कुछ फ्री     |       चेकिंग के लिए पुलिस ने लगाए 57 नाके, 399 वाहनों के किए चालान     |       मेरठ में पूर्व सांसद के भाई की मीट फैक्ट्री में गैस से तीन की मौत     |       मेरठ में फर्जी मार्कशीट बनाने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़, पांच गिरफ्तार     |       14 मिनट में बैंक के अंदर से 20 लाख पार     |       शिखर वार्ता के बाद व्लादीमिर पुतिन के प्रस्ताव को डोनल्ड ट्रंप ने किया ख़ारिज     |       भारत और अमेरिका की नई दिल्ली में 6 सितंबर को होगी 2+2 वार्ता     |       चमोली के मलारी में बादल फटा, भूस्खलन से डेरों में पांच मजदूर दबे     |      

राजनीति


राहुल ने कहा- निगरानी के लिए सरकार कर रही आधार का प्रयोग

राहुल ने आधार को बैंक खातों से जोड़ने के सवाल पर कहा कि इसे कांग्रेस सरकार ने शुरू किया था, लेकिन मौजूदा सरकार ने इसे निगरानी तंत्र में बदल दिया है। जो लोग आज सत्ता में हैं,


rahul-gandhi-says-government-using-aadhaar-for-monitoring

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। इस बार राहुल ने सरकार पर आधार को 'निगरानी प्रणाली' के तौर पर इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है और कहा कि यह भी वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) की तरह 'अव्यवस्था' में बदल जाएगी। पीएचडी चैंबस ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के 122वें सालाना सत्र में गांधी ने कहा कि जीएसटी में 'सुधार' की अभी भी जरूरत है।

राहुल ने आधार को बैंक खातों से जोड़ने के सवाल पर कहा कि इसे कांग्रेस सरकार ने शुरू किया था, लेकिन मौजूदा सरकार ने इसे निगरानी तंत्र में बदल दिया है। जो लोग आज सत्ता में हैं, इसे निगरानी तंत्र बना रहे हैं। आधार इसलिए नहीं लाया गया था और मैं आपसे सहमत हूं कि इसके गंभीर दुष्परिणाम होंगे। उन्होंने कहा कि जिस तरह से जीएसटी को लेकर अव्यवस्था फैली है, वैसा ही आधार के साथ भी होगा।

हालांकि जीएसटी पर राहुल ने कहा कि यह गलत तरीके से लागू किया गया है और सरकार लोगों की सुन नहीं रही है। हमने जीएसटी लागू करने के लिए बहुत साहसिक लड़ाई लड़ी। इसके मूल में न्यूनतम स्लैब, कर तथा सरलता थी। हम इसके लिए जो कर सकते थे वह किया । उन्होंने कहा कि पार्टी के नेता पी. चिदंबरम इस संबंध में वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिलने गए थे और उन्हें कहा था कि सरकार 'गलती' कर रही है।

पहले इसे पॉयलट परियोजना के तौर पर लागू करना चाहिए, लेकिन हमारी पार्टी की चिंताओं पर ध्यान नहीं दिया गया और उन्हें 'अपने काम से मतलब रखने' को कहा गया। राहुल ने कहा कि उनकी पार्टी ने जीएसटी को लेकर अपनी चिंता जाहिर की थी, लेकिन व्यापक फलक पर हमें लगा कि देश जीएसटी चाहता है। उन्होंने कहा कि जीएसटी की अधिकतम दर 18 फीसदी होनी चाहिए।

advertisement