मायावती का कांग्रेस को बड़ा झटका: MP में 22 उम्मीदवार घोषित, छग में अजीत जोगी से किया गठबंधन     |       इमरान की चिट्ठी पर भारत का जवाब- मुलाकात को तैयार, पर ये बातचीत की शुरुआत नहीं     |       मेट्रो में PM को देख मची सेल्फी की होड़, IICC सेंटर का शिलान्यास करने जा रहे थे     |       राजस्थान से राहुल गांधी का वादा, छोटे और मझोले उद्योगों के लिए खुलेंगे बैंकों के दरवाजे, देंगे जीएसटी से राहत     |       जेट एयरवेज फ्लाइट की इमरजेंसी लैडिंग, यात्रियों के नाक-मुंह से निकला खून     |       राफेल पर रक्षा मंत्री ने देश को गुमराह करने की कोशिश की, इस्तीफा दें : कांग्रेस     |       सरकार ने पीपीएफ और अन्य बचत योजनाओं पर बढ़ाई ब्याज दरें     |       पाक BAT एक्शन का भारत लेगा बदला! राजनाथ ने BSF डीजी को दिए निर्देश     |       मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में एक बड़े अधिकारी से पूछताछ, ब्रजेश के 20 बैंक खाते सील     |       भागवत बोले, हिंदू राष्ट्र का यह अर्थ नहीं कि मुस्लिमों के लिए जगह नहीं, जानें संघ-बीजेपी में अंतर     |       5वीं की छात्रा से 9 महीने तक रेप करते रहे प्रिंसिपल और क्लर्क, गर्भवती होने पर हुआ खुलासा     |       उत्तर प्रदेशः पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराए 25 हजार के दो ईनामी गैंगस्टर, पत्रकारों ने कैमरे में कैद की मुठभेड़     |       मध्य प्रदेश: सरकारी घरों से हटाई जाएं पीएम मोदी, सीएम शिवराज की तस्‍वीरें, हाईकोर्ट का आदेश     |       कैबिनेट का फैसला / तीन तलाक देने पर 3 साल जेल, मोदी सरकार के अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी     |       पिल्‍लों पर हमला किया तो कोबरा से भिड़ गया कुत्‍ता, देखें वीडियो     |       IMD Alert: ओडिशा-आंध्र में साइक्लोन की चेतावनी, 6 शहरों में भारी बारिश की आशंका     |       बड़ा कदम: बेटियों के गुनाहगारों की अब खैर नहीं, यौन अपराधियों की कुंडली तैयार     |       पेट्रोल-डीजल पर क्यों बेबस है केंद्र सरकार, पर समझिए आखिर कैसे कम हो सकती हैं कीमतें     |       बिहार : आरा में भाजपा नेता के महिंद्रा ट्रैक्टर शोरूम पर दिनदहाड़े फायरिंग, एक की मौत     |       कश्मीर में मारे आतंकियों पर पाकिस्तान ने जारी किए डाक टिकट, बताया आजादी का सिपाही     |      

राज्य


एनटीपीसी हादसाः बॉयलर फटने से 22 लोगों की मौत, 100 घायल 

वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऊंचाहार दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए प्रमुख सचिव (गृह) को बचाव और राहत कार्य के लिए हर संभव मदद के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही जिलाधिकारी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को घायलों के समुचित इलाज के निर्देश भी दिए गए हैं।


several-die-in-ntpc-plant-accident-raebareli-uttar-pradesh

रायबरेली: उत्तर प्रदेश में रायबरेली के ऊंचाहार स्थित नेशनल थर्मल पॉवर कॉरपोरेशन (एनटीपीसी) के संयंत्र में बॉयलर फटने से अबतक 22 लोगों की मौत हो गई है। इस हादसे में अबतक 100 लोग झुलस गए हैं, जिन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि जिस वक्त यह हादसा हुआ, उस वक्त संयंत्र में लगभग 150 मजदूर काम कर रहे थे। जहां यह हादसा हुआ, वहां 500 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऊंचाहार दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए प्रमुख सचिव (गृह) को बचाव और राहत कार्य के लिए हर संभव मदद के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही जिलाधिकारी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को घायलों के समुचित इलाज के निर्देश भी दिए गए हैं।

इस घटना से आहत होकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार सुबह ऊंचाहार पहुंचे। उन्होंने रायबरेली जिला अस्पताल में इलाज करा रहे मरीजों से भी मुलाकात की। राहुल ने कहा कि कांग्रेस और रायबरेली की सांसद सोनिया गांधी ने एनटीपीसी में हुए हादसे पर गहरा दुख जताया है। वह पीड़ित परिवारों के दुख में उनके साथ हैं और उनके हर दुख में मदद के लिए तत्पर हैं। 

सरकार ने की मुआवजे की घोषणा 
इसके साथ ही मृतकों के परिजनों को पीएम मोदी ने सरकारी कंपनी एनटीपीसी के संयंत्र में बुधवार को हुए विस्फोट में मारे गए लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपए और घायलों को 50,000 रुपए की राशि देना का ऐलान किया। पीएम कार्यालय ने ट्विटर कर इसकी जानकारी दी तो वहीं राज्य सरकार की तरफ से भी दो लाख रुपए, गम्भीर रूप से घायलों को 50 हजार रुपए और मामूली रूप से घायलों को 25 हजार रुपए का मुआवजा देने का एलान किया है। राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक आनंद कुमार ने कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कई घायलों की हालत नाजुक है। वहीं प्रधान सचिव गृह अरविंद कुमार ने कहा कि एनडीआरएफ की एक टीम लखनऊ से ऊंचाहार भेजी गई है। रायबरेली के सीएमओ के.के. सिंह ने बताया कि अबतक जिला हॉस्पिटल में आठ शव पहुंचे हैं।

क्या कहते हैं एनटीपीसी के अधिकारी?
एनटीपीसी प्रबंधन ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। इसमें घटना के कारणों का पता लगाया जाएगा। यह जानकारी एनटीपीसी के अतिरिक्त महाप्रबंधक (मीडिया एंड कम्युनिकेशन) राजेश मल्होत्रा ने दी। इस बीच दुर्घटना के बाद एनटीपीसी की तरफ से आधिकारिक बयान में कहा गया है कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। 500 मेगावाट की अंडर ट्रायल यूनिट में ये हादसा हुआ है। जिला प्रशासन के साथ मिलकर रेस्क्यू अपरेशन जारी है। झुलसे लोगों में 22 की हालत नाजुक है। इनमें से 15 रायबरेली के अस्पताल में हैं। कुछ को इलाहाबाद व लखनऊ भेजा गया है। इधर एनटीपीसी हादसा के बाद केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने यूपी के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने पूरे मामले से जानकारी ली है। दुर्घटना को लेकर उन्होंने ट्वीट किया है कि एनटीपीसी हादसा दुखद है। मामले में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव लगातार उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य अधिकारियों से संपर्क में हैं।

सीएम योगी ने लिया घटना का संज्ञान
मारीशस दौरे पर गए सीएम आदित्यनाथ योगी ने घटना का संज्ञान लेते हुए प्रमुख सचिव (गृह) को बचाव एवं राहत कार्य हेतु हरसंभव मदद उपलब्ध के निर्देश दिए हैं। रायबरेली के डीएम समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को घायलों के समुचित इलाज के निर्देश दिए गए हैं। घायलों का इलाज प्राथमिकता के आधार पर एसजीपीजीआई में कराने का निर्देश दिया है। साथ ही कहा है कि घायलों के इलाज का खर्च उत्तर प्रदेश सरकार वहन करेगी। उधर डीएम समेत तमाम आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। कमिश्नर लखनऊ और आईजी घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं। 

advertisement

  • संबंधित खबरें