नंबर गेम में कमजोर विपक्ष शब्दों के तीर से करेगा सरकार को 'घायल'     |       100 रुपये के नए नोट का क्या है गुजरात कनेक्शन?     |       गोपाल दास नीरज : कारवां गुजर गया..     |       इस ट्रेन में मिलेगा हवाई जहाज जैसा आनंद, बटन दबाने पर खुल जाएंगी खिड़कियां     |       32 किलोमीटर पैदल चलकर पहले दिन ऑफिस समय पर पहुंचा युवक, बॉस ने दिया ये ईनाम (VIDEO)     |       उलमा कौन होते निदा का हुक्का-पानी बंद करने वालेः तनवीर हैदर उसमानी     |       एयरसेल-मैक्सिस मामलाः CBI ने पी चिदंबरम, उनके बेटे के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की     |       ग्रेटर नोएडा हादसा : नौ शव बरामद, पुलिस ने किया पांच लोगों को गिरफ्तार, कई लोग अब भी फंसे     |       बड़ी ख़बर: अब यात्री मोबाइल फोन से खरीद सकते हैं जनरल टिकट     |       लखनऊ में सूदखोर कारोबारी से मिला 100 किलो सोना व नकद 9.21 करोड़ रुपये     |       Exclusive: अगस्ता के बिचौलिये की वकील का दावा- सोनिया के खिलाफ गवाही देने का दबाव     |       राज ठाकरे का BJP पर हमला, इस वजह से भाजपा को चुनावों में मिली जीत, दोबारा सत्ता में नहीं होगी वापसी     |       साउथ दिल्ली के करीब 16000 पेड़ो के कटने पर लगे स्टे को NGT ने 27 जुलाई तक बढ़ाया     |       टिहरी में बस के खाई में गिरने से 14 की मौत, 17 लोग घायल     |       रायबरेली में भाजपा मंडल उपाध्यक्ष की हत्या, दारोगा व सिपाही लाइन हाजिर     |       सुरक्षा बल के जवान ने प्राइवेट पार्ट पर करंट लगाकर पत्नी को मार डाला     |       अमेरिकी अधिकारी आसमान में विमानों की टक्कर के कारणों की जांच में जुटे     |       देवरिया जेल में छापा, बाहुबली अतीक अहमद की बैरक से मिले सिम-पैन ड्राइव     |       पटना पहुंचते ही विरोधियों पर जमकर बरसे तेजस्वी     |       गुजरात : MBBS में गोल्ड मेडल जीतने वाली डॉक्टर बनी साध्वी, अरबों की संपत्ति ठुकराई     |      

राज्य


एनटीपीसी हादसाः बॉयलर फटने से 22 लोगों की मौत, 100 घायल 

वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऊंचाहार दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए प्रमुख सचिव (गृह) को बचाव और राहत कार्य के लिए हर संभव मदद के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही जिलाधिकारी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को घायलों के समुचित इलाज के निर्देश भी दिए गए हैं।


several-die-in-ntpc-plant-accident-raebareli-uttar-pradesh

रायबरेली: उत्तर प्रदेश में रायबरेली के ऊंचाहार स्थित नेशनल थर्मल पॉवर कॉरपोरेशन (एनटीपीसी) के संयंत्र में बॉयलर फटने से अबतक 22 लोगों की मौत हो गई है। इस हादसे में अबतक 100 लोग झुलस गए हैं, जिन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि जिस वक्त यह हादसा हुआ, उस वक्त संयंत्र में लगभग 150 मजदूर काम कर रहे थे। जहां यह हादसा हुआ, वहां 500 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऊंचाहार दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए प्रमुख सचिव (गृह) को बचाव और राहत कार्य के लिए हर संभव मदद के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही जिलाधिकारी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को घायलों के समुचित इलाज के निर्देश भी दिए गए हैं।

इस घटना से आहत होकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार सुबह ऊंचाहार पहुंचे। उन्होंने रायबरेली जिला अस्पताल में इलाज करा रहे मरीजों से भी मुलाकात की। राहुल ने कहा कि कांग्रेस और रायबरेली की सांसद सोनिया गांधी ने एनटीपीसी में हुए हादसे पर गहरा दुख जताया है। वह पीड़ित परिवारों के दुख में उनके साथ हैं और उनके हर दुख में मदद के लिए तत्पर हैं। 

सरकार ने की मुआवजे की घोषणा 
इसके साथ ही मृतकों के परिजनों को पीएम मोदी ने सरकारी कंपनी एनटीपीसी के संयंत्र में बुधवार को हुए विस्फोट में मारे गए लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपए और घायलों को 50,000 रुपए की राशि देना का ऐलान किया। पीएम कार्यालय ने ट्विटर कर इसकी जानकारी दी तो वहीं राज्य सरकार की तरफ से भी दो लाख रुपए, गम्भीर रूप से घायलों को 50 हजार रुपए और मामूली रूप से घायलों को 25 हजार रुपए का मुआवजा देने का एलान किया है। राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक आनंद कुमार ने कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कई घायलों की हालत नाजुक है। वहीं प्रधान सचिव गृह अरविंद कुमार ने कहा कि एनडीआरएफ की एक टीम लखनऊ से ऊंचाहार भेजी गई है। रायबरेली के सीएमओ के.के. सिंह ने बताया कि अबतक जिला हॉस्पिटल में आठ शव पहुंचे हैं।

क्या कहते हैं एनटीपीसी के अधिकारी?
एनटीपीसी प्रबंधन ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। इसमें घटना के कारणों का पता लगाया जाएगा। यह जानकारी एनटीपीसी के अतिरिक्त महाप्रबंधक (मीडिया एंड कम्युनिकेशन) राजेश मल्होत्रा ने दी। इस बीच दुर्घटना के बाद एनटीपीसी की तरफ से आधिकारिक बयान में कहा गया है कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। 500 मेगावाट की अंडर ट्रायल यूनिट में ये हादसा हुआ है। जिला प्रशासन के साथ मिलकर रेस्क्यू अपरेशन जारी है। झुलसे लोगों में 22 की हालत नाजुक है। इनमें से 15 रायबरेली के अस्पताल में हैं। कुछ को इलाहाबाद व लखनऊ भेजा गया है। इधर एनटीपीसी हादसा के बाद केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने यूपी के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने पूरे मामले से जानकारी ली है। दुर्घटना को लेकर उन्होंने ट्वीट किया है कि एनटीपीसी हादसा दुखद है। मामले में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव लगातार उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य अधिकारियों से संपर्क में हैं।

सीएम योगी ने लिया घटना का संज्ञान
मारीशस दौरे पर गए सीएम आदित्यनाथ योगी ने घटना का संज्ञान लेते हुए प्रमुख सचिव (गृह) को बचाव एवं राहत कार्य हेतु हरसंभव मदद उपलब्ध के निर्देश दिए हैं। रायबरेली के डीएम समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को घायलों के समुचित इलाज के निर्देश दिए गए हैं। घायलों का इलाज प्राथमिकता के आधार पर एसजीपीजीआई में कराने का निर्देश दिया है। साथ ही कहा है कि घायलों के इलाज का खर्च उत्तर प्रदेश सरकार वहन करेगी। उधर डीएम समेत तमाम आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। कमिश्नर लखनऊ और आईजी घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं। 

advertisement