BJP विधायक के बिगड़े बोल, सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा- इन्हें आगरा में भर्ती कराओ– News18 हिंदी - News18 इंडिया     |       total lunar eclipse: 67 मिनट लंबा होगा यह ग्रहण, जानें पूर्ण ग्रहण का टाइम - Hindustan     |       UK को पछाड़ देगा भारत, चुनाव से पहले मोदी सरकार की बल्ले-बल्ले! - Business AajTak - आज तक     |       नहीं रहा दुनिया का सबसे वृद्ध शख्स, जानिये कितनी थी उम्र... - NDTV India     |       लोकसभा चुनाव से पहले रेलवे में लगेगी हरी झंडी, शिलान्यास और उद्घाटनों की झड़ी - दैनिक जागरण (Dainik Jagran)     |       कर्नाटक: कांग्रेसी विधायकों में रिजॉर्ट में 'मारपीट', एक अस्‍पताल में भर्ती, पार्टी बोली- छाती में दर्द था - News18 Hindi     |       शत्रुघ्न सिन्हा पर BJP ले सकती है बड़ा फैसला, इस दिग्गज नेता ने दिया संकेत - NDTV India     |       पौष पूर्णिमा 2019: जानें कब है पूर्णिमा, पूजा विधि और दान-दक्षिणा का समय - Hindustan     |       गए थे तेल चोरी करने, पाइपलाइन में हुआ विस्फोट, लगी आग, 73 लोगों की गई जान, देखें दर्दनाक वीडियो - Times Now Hindi     |       Mauritian Prime Minister Pravind Jugnauth to arrive in India on 8-day visit - Times Now     |       नशे में महिला सैनिक ने पुरुष साथी का किया यौन शोषण, नहीं मिली सजा - trending clicks - आज तक     |       Two Russian fighter jets collide over Sea of Japan - Times Now     |       पेट्रोल-डीजल के दाम में रविवार को हुई भारी बढ़ोतरी, फटाफट जानें नए रेट्स - News18 Hindi     |       अनिल अंबानी के बेटे अंशुल बने कंपनी में ट्रेनी, न्यूयॉर्क से की पढ़ाई - आज तक     |       ऐमजॉन, फ्लिपकार्ट की सेल, जानें क्या है खास - नवभारत टाइम्स     |       मिनी अर्टिगा जैसी दिखती है न्‍यू WagonR, आएगी अलॉय व्‍हील के साथ - Zee Business हिंदी     |       ड‍िप्रेशन का श‍िकार रह चुकी हैं युवराज स‍िंह की वाइफ हेजल, शेयर की पोस्ट - आज तक     |       सारा अली खान की वजह से परेशान हुए बोनी कपूर, हो रही है बेटी जाह्नवी की चिंता - Hindustan     |       विवादित प्रॉपर्टी को लेकर बेटी सारा के साथ थाने पहुंचीं अमृता सिंह - नवभारत टाइम्स     |       'भाबीजी घर पर हैं' कि अनीता भाभी ने शेयर की बेटे की First Photo, 3 दिन पहले हुआ था जन्म - Times Now Hindi     |       क्रिकेट/ अमला ने तोड़ा कोहली का रिकॉर्ड, सबसे कम पारियों में लगाए 27 शतक - Dainik Bhaskar     |       ऑस्ट्रेलियन ओपन/ फेडरर उलटफेर का शिकार, 15वीं रैंकिंग वाले सितसिपास से हारे; नडाल की जीत - Dainik Bhaskar     |       AUS ओपन का लुफ्त उठा रहे हैं विरुष्का, इस दिग्गज के साथ दिखे - Sports AajTak - आज तक     |       फेडरर के साथ फोटो पर बुरी फंसीं अनुष्का, इस वजह से हो गईं ट्रोल - Sports - आज तक     |      

राज्य


मुंबई के एलफिंस्टन स्टेशन पर मची भगदड़ में 22 की मौत , सरकार ने की 5 लाख के मुआवजे की घोषणा

बता दें कि इस स्टेशन के ब्रिज से लोग हमेशा अपने ऑफिस के लिए जाते रहते हैं। भाऱी बारिश की वजह से लोग स्टेशन  की तरफ बढ़ने लगे, जिससे वहां भगदड़ मच गई।


several-injured-stampede-at-mumbai-elphinstone-station

मुंबईः  मुंबई के एलफिंस्टन स्टेशन पर भगदड़ मच गई, जिसमें कई लोग घायल हो गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि बारिश होने की वजह से लोग स्टेशन पर रुके थे। इस दौरान वहां भीड़ इतनी बढ़ गई की भगदड़ मच गई, जिससे वहां कई लोग घायल हो गए। वहीं सूत्रों के मुताबिक 22 लोगों की मौत हो गई है।  बता दें कि यह हादसा शुक्रवार सुबह 10.30 बजे  फुटओवर ब्रिज पर हुआ। 

इस स्टेशन के ब्रिज से लोग हमेशा अपने ऑफिस के लिए जाते रहते हैं। भारी बारिश की वजह से लोग स्टेशन  की तरफ बढ़ने लगे, जिससे वहां भगदड़ मच गई। वहीं स्टेशन के पीआरो ने कहा कि यह ब्रिज हमेशा लोगो से भरा रहता है, भारी बारिश की वजह से घटना हुई है। घटना स्थल पर राहत कार्य के लिए टीमें भेज दी गई हैं। वहीं बीएमसी की आपदा राहत यूनिट ने कहा कि अन्य एजेंसियां मदद के लिए पहुंच चुकी हैं। महाराष्ट्र सरकार ने मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये मुआवजा और घायलों को मुफ्त इलाज देने की घोषणा की है। 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को मुंबई भगदड़ की घटना पर शोक जताया। राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा कि मुंबई में भगदड़ की वजह से हुई मौतों को लेकर दुखी हूं। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं व घायलों के लिए प्रार्थना करता हूं।

बता दें कि घटना के कारणों का पता नहीं चल पाया है। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि इलेक्ट्रिक शॉर्ट सर्किट की अफवाह के बाद यह भगदड़ हुई, जबकि अधिकारियों ने अचानक बारिश होने से पुल पर भारी संख्या में लोगों की भीड़ को जिम्मेदार ठहराया है।  बारिश से बचने के लिए अधिक संख्या में लोग पुल पर इकट्ठा हो गए थे। घटना के बाद बचाव दल के मौके पर पहुंचने से पहले स्थानीय कैब चालकों और दुकानदारों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की।

 

advertisement

  • संबंधित खबरें