राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति का बड़ा खुलासा, भारत सरकार ने ही दिया था रिलायंस का नाम, 10 बातें     |       कश्मीर में आतंकियों ने तीन पुलिसकर्मियों को अगवा कर की हत्या     |       पीएम नरेंद्र मोदी आज ओडिशा और छत्तीसगढ़ में कई परियोजनाएं शुरू करेंगे     |       Asia Cup: दुबई में चमके रोहित-जडेजा, भारत ने बांग्लादेश को 7 विकेट से हराया     |       कांग्रेस ने अलीगढ़ में पुलिस मुठभेड़ पर उठाये सवाल, कहा- सबकुछ स्क्रिप्टेड था     |       न्यूयॉर्क में मिलेंगे भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्री     |       SC-ST एक्ट के खिलाफ पटना में सड़कों पर उतरे सवर्ण, पुलिस ने भांजी लाठियां, कई घायल     |       'नन' के साथ रेप करने के आरोपी 'बिशप' को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |       बिहार कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बने तो छलका कादरी का दर्द, बोले- झाड़ू भी लगा लूंगा     |       इटली / ईशा अंबानी-आनंद पीरामल की सगाई पार्टी, 23 सितंबर तक चलेंगे कार्यक्रम     |       सर्जिकल स्ट्राइक दिवस पर बोली कांग्रेस सांसद- 'कृपया ऐसा मजाक न करें'     |       मक्का मस्जिद विस्फोट के जज BJP में शामिल होने के इच्छुक, बताया- एकमात्र देशभक्त पार्टी     |       कांग्रेस का बड़ा आरोप, अस्पताल से धमका रहे CM मनोहर पर्रिकर     |       रूस से रक्षा सौदा / अमेरिका ने चीन पर प्रतिबंध लगाया, कहा- मिसाइल सौदा हुआ तो भारत पर भी कार्रवाई संभव     |       बिहार : ताजिया जुलूस की तैयारी के बीच दो युवकों की हत्या, वैशाली में तनाव     |       राजपाट: अबूझ पहेली     |       राजस्थान : जसवंत सिंह के बेटे की रैली शनिवार को, बगावती तेवर से बीजेपी में बेचैनी     |       वारदात / बदमाशों ने बैंक के 2 गार्डों की सरिया और रॉड से पीट-पीटकर की हत्या, नहीं कर पाए लूट     |       'हम नरभक्षी' नहीं, राज्यों को हमसे डरने की जरूरत नहीं- सुप्रीम कोर्ट     |       चक्रवाती तूफान DAYE ने पार किया ओडिशा का तट, कई इलाकों में भारी बारिश     |      

राजनीति


शरद पवार ने कहा - मोदी सरकार के खिलाफ है जनभावना , देश में बढ़ी बेरोजगारी

पवार ने कहा कि कपड़ा बनाने वाली 67 कंपनियां बंद हो गई हैं, जिसकी वजह से 17,600 लोग बेरोजगार हो गए। लारसन एंड टर्बो, इन्फोसिस और सुजलोन जैसी कंपनियों ने 17,000 कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया है।


sharad-pawar-said-public-sentiment-against-modi-government

मुंबईः राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि बढ़ती बेरोजगारी, महंगाई  के कारण देश की जनभावना मोदी सरकार के खिलाफ हो गई है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद से कई कंपनियों में ताले लग गए, जिससे बीजेपी सरकार की हर मोर्चे पर विफलता नजर आने लगी है। उन्होंने कहा कि पूरे देश में बेरोजगारी बढ़ रही है, कृषि क्षेत्र संकट में है, किसान आत्महत्या कर रहे हैं, महंगाई चरम पर है , वित्तीय क्षेत्र असफल हो रहा है और गरीब तबके के लोग बहुत परेशान है। लोग अब सरकार के खिलाफ हो गए है। ऐसे में हमें अगले चुनाव के लिए तैयार रहना चाहिए।

पवार ने कहा कि कपड़ा बनाने वाली 67 कंपनियां बंद हो गई हैं, जिसकी वजह से 17,600 लोग बेरोजगार हो गए। लारसन एंड टर्बो, इन्फोसिस और सुजलोन जैसी कंपनियों ने 17,000 कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया है। आने वाले दिन देश के लिए बेहद मुश्किलों से भरे होंगे। उन्होंने कहा कि आज आलम यह है कि लोग सोशल मीडिया पर अपनी खींझ प्रकट कर रहे हैं और जवाब में सरकार उन्हें पुलिस नोटिस भेज रही है।

शरद पवार ने कहा कि लोकतंत्र में हर नागरिक को अपनी बात प्रकट करने का अधिकार है। सरकार को उन्हें नोटिस भेजकर धमकाना नहीं चाहिए और उनकी निजी स्वतंत्रता छीनने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। वहीं पवार ने 5 नवंबर को औरंगावाद में किसान संगठनों के सम्मेलन की घोषणा की।

advertisement