इसरो / जीसैट-29 का सफल प्रक्षेपण, 2020 तक गगनयान के तहत पहला मानव रहित मिशन शुरू होगा     |       बयान से पलटे शाहिद आफरीदी, कहा- कश्मीर में भारत कर रहा जुल्म     |       राजस्‍थान चुनाव: बीजेपी की दूसरी लिस्‍ट में 14 विधायकों, तीन मंत्रियों के टिकट कटे     |       राफेल की कीमत, ऑफसेट पार्टनर सब जानकारी SC के पास, डील पर फैसला सुरक्षित     |       राफेल में सीबीआई जांच हुई तो सामने आएगा पीएम मोदी, अनिल अंबानी का नाम: राहुल गांधी     |       पीएम मोदी बोले, 'विश्वभर में हुए आतंकवादी हमले एक ही देश की ओर करते हैं इशारा'     |       टूट गया चौटाला परिवार, जिस इनेलो को खड़ा किया उसी से निकाले गए अजय चौटाला     |       बिहार में सियासी उलटफेर: कुशवाहा के साथी MP अरुण कुमार, नीतीश को बताया अहंकारी     |       बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने अयोध्या से पलायन करने की दी चेतावनी     |       शराब नहीं मिली तो विदेशी महिला ने फ्लाइट में किया हंगामा, देखें वीडियो     |       कमलनाथ ने मुसलमानों से कहा, 'चुनावों तक RSS से सतर्क रहें, बाद में हम देख लेंगे'     |       संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसबंर से, क्या राम मंदिर पर कानून लाएगी मोदी सरकार?     |       IRCTC आपसे वसूल रहा ज्यादा किराया? आयोग ने दिए जांच के आदेश, 60 दिन में देनी होगी रिपोर्ट     |       तृप्ति देसाई का एलान, बोलीं- 17 नवंबर को सबरीमाला मंदिर में करूंगी प्रवेश, सीएम से मांगी सुरक्षा     |       खुदकुशी / 17 पेज का सुसाइड नोट, 13 मिनट की वीडियो रिकाॅर्डिंग के बाद दी जान     |       दिल्ली पहुंची भारत की सबसे आधुनिक ट्रेन-18, जानें क्‍या है खासि‍यत     |       डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मनाई दिवाली, ट्वीट में हिंदुओं को ही बधाई देना भूले     |       करवा चौथ के द‍िन दी पत्नी को मौत, 6 महीने की प्रेग्नेंट थी प्रेम‍िका     |       उदीयमान सूर्य को अ‌र्घ्य देकर मांगी अपनों के लिए सुख व समृद्धि     |       जम्मू-कश्मीर के चर्चित IPS बसंत रथ का हुआ ट्रांसफर, सोशल मीडिया पर नेता से हुई थी भिड़ंत     |      

राष्ट्रीय


सुप्रीम कोर्ट ने पटाखों पर लगे प्रतिबंध को बदलने से किया इनकार

पटाखों पर लगे प्रतिबंध पर समीक्षा करने से इंकार करते हुए न्यायमूर्ति सीकरी और न्यायमूर्ति अशोक भूषण ने कहा कि हम किसी बहस में नहीं पड़ने वाले हैं और किसी भी प्रकार की धार्मिक विवेचना से हमारा प्रतिबंध आदेश प्रभावित नहीं होगा।


supreme-court-refuses-modify-order-crackers-sales-delhi-ncr

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली और इससे लगे क्षेत्र में पटाखों की बिक्री पर रोक लगाने संबंधी नौ अक्टूबर के अपने फैसले को बदलने से इनकार कर दिया  है। इसके साथी ही कोर्ट ने इस आदेश को सांप्रदायिक रंग दिए जाने पर नाखुशी जाहिर की है। न्यायमूर्ति ए.के. सीकरी ने कहा कि हम यह सुनकर बेहद दुखी हैं कि कुछ लोग हमारे आदेश को सांप्रदायिक रंग दे रहे हैं। कोई भी जो मुझे जानता है उसे पता है कि इन मामलों में मैं बहुत धार्मिक व्यक्ति हूं।

पटाखों पर लगे प्रतिबंध पर समीक्षा करने से इंकार करते हुए न्यायमूर्ति सीकरी और न्यायमूर्ति अशोक भूषण ने कहा कि हम किसी बहस में नहीं पड़ने वाले हैं और किसी भी प्रकार की धार्मिक विवेचना से हमारा प्रतिबंध आदेश प्रभावित नहीं होगा। उन्होंने कहा कि अदालत किसी को दिवाली उत्सव मनाने से नहीं रोक रहा है।

अदालत ने एक याचिकाकर्ता का हवाला देते हुए कहा कि दिवाली न सिर्फ हिंदू, बल्कि जैन व सिख भी मनाते हैं। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने प्रदूषण रोकने के प्रयास के तहत दिवाली के दौरान दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर अस्थायी प्रतिबंध लगाने का सोमवार को आदेश दिया था।

advertisement

  • संबंधित खबरें