पेट्रोल 17 और डीजल 10 पैसे महंगा हुआ, दिल्ली में डीजल 74 रुपये के करीब     |       झारखंड से दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना का शुभारंभ करेंगे PM मोदी     |       फ्रांस्वा ओलांद अपने बयान पर कायम, कहा- मोदी सरकार में नए फॉर्मूले के तहत रिलायंस का नाम तय हुआ     |       बौखलाहट में गीदड़भभकी पर उतरी पाक सेना, कहा- हम परमाणु ताकत, बाहरी हस्तक्षेप से निपटने को तैयार     |       फिर बदला मौसम का मिजाज़, राजधानी में पारा लुढ़का     |       भाजपा नेता जसवंत सिंह के विधायक पुत्र मानवेंद्र ने पार्टी छोड़ी, बोले- कमल का फूल, हमारी भूल     |       एशिया कप / भारत-पाक वनडे आज, फाइनल में जगह बनाने पर टीम इंडिया की नजर     |       अकेले दम 30000 मील की समुद्री परिक्रमा पर निकला था पहला भारतीय कमांडर, 14 मी ऊंची लहरों के बीच फंसा     |       कांग्रेस नेता कमलनाथ ने शिवराज सिंह पर साधा निशाना, कही यह बात...     |       राहुल गांधी ने सहयोगियों को दिखाए तेवर, कहा- 'हम ज्यादा नहीं झुकेंगे'     |       Ganesh Visarjan 2018: गणपति विसर्जन आज, क्लिक कर जानें विजर्सन का महत्व और समय     |       BJP सांसद ने काटा संसद की आकृति वाला केक, मचा बवाल     |       डॉ. कफील खान अब बहराइच से गिरफ्तार, जिला अस्‍पताल में हंगामा करने का आरोप     |       बिहार में राजग में सीट बंटवारे पर भ्रम के लिए रालोसपा ने जदयू को जिम्मेदार ठहराया     |       तालचर उर्वरक संयंत्र की आधारशिला के साथ ही मिशन पुनरुद्धार का पहला पड़ाव पार     |       खंडवा में बारह घंटे तेरह इंच से ज्यादा बारिश, नदी-नाले उफ़ान पर     |       ब्राजील चुनाव : 'डोनल्ड ट्रंप' बनाम 'इमरान ख़ान'     |       SPO की हत्या के लिए ISI ने भेजे निर्देश, सबूत मिलने के बाद भारत ने कैंसिल की मीटिंग     |       3 दिन तक होगा ईशा अंबानी-आनंद पीरामल की सगाई का जश्न, इस शहर में होगी प्री-वेडिंग पार्टी     |       मालदीव में राष्ट्रपति चुनाव के लिये मतदान शुरू : अधिकारी     |      

विदेश


ब्रिटेन के रक्षा मंत्री ने दिया इस्तीफा, गलत आचरण के लगे आरोप

थेरेसा ने फैलन के रक्षा मंत्री के रूप में उनके साढ़े तीन वर्षो के दौरान देश की सेनाओं के शानदार नेतृत्व के लिए प्रशंसा की। इसके साथ ही आतंकवाद की चुनौतियों के बीच संकट के समय में रक्षा मंत्री के रूप में उनके कर्तव्यों के सही निर्वहन के लिए भी सराहना की।


uk-defense-minister-michael-fallon-resigns

लंदन: ब्रिटेन के रक्षा मंत्री माइकल फैलन ने गलत आचरण के आरोप के बाद बुधवार रात को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। फैलन ने पीएम थेरेसा मे को पत्र लिखकर बताया कि वह अपने पद से इस्तीफा दे रहे हैं। वहीं डाउनिंग स्ट्रीट ने फैलन के इस्तीफे की पुष्टि करते हुए कहा कि थेरेसा ने उनका इस्तीफा स्वीकारते हुए फैलन को पत्र लिखा है। मे ने फैलन को लिखा है कि मैं आपके इस गंभीर रुख की सराहना करती हूं, जिसके जरिए आपने अपने पद की गरिमा का ध्यान रखा और विशेष रूप से जवानों, महिलाओं एवं अन्य के समक्ष एक उदाहरण रखा।

थेरेसा ने फैलन के रक्षा मंत्री के रूप में उनके साढ़े तीन वर्षो के दौरान देश की सेनाओं के शानदार नेतृत्व के लिए प्रशंसा की। इसके साथ ही आतंकवाद की चुनौतियों के बीच संकट के समय में रक्षा मंत्री के रूप में उनके कर्तव्यों के सही निर्वहन के लिए भी सराहना की। राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि अपने सर्वाधिक सहयोगी और भरोसेमंद मंत्रियों में से एक, फैलन का इस्तीफा थेरेसा के लिए झटके की तरह होगा। फैलन के इस्तीफे से कुछ घंटे पहले ही थेरेसा मे ने हाउस ऑफ कॉमंस को बताया था कि उन्होंने अगले सप्ताह पार्टी के मुख्य नेताओं की एक बैठक बुलाई है, जिसमें वेस्टमिंस्टर में नेताओं द्वारा किए जाने वाले यौन उत्पीड़न की शिकायतों से निपटने पर चर्चा की जाएगी।

इस सप्ताह की शुरुआत में फैलन ने स्वीकार किया था कि उन्होंने 15 साल पहले कंजरवेटिव पार्टी के सम्मेलन में एक रेडियो प्रस्तोता के घुटने पर अपना हाथ रखा था। फैलन ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा कि हाल के दिनों में सांसदों के खिलाफ कई आरोप लगाए गए हैं। इसमें कुछ मेरे पिछले व्यवहार के बारे में भी हैं। उन्होंने लिखा कि इसमें से कई झूठे हैं, लेकिन मैं स्वीकार करता हूं कि पूर्व में मैं उन उच्च मानकों से नीचे गिर गया था, जो सशस्त्रबलों के लिए जरूरी हैं और जिसका प्रतिनिधित्व करने का सम्मान मुझे हासिल है। इसलिए मैं अपने पद से इस्तीफा देता हूं।

उन्होंने एक बयान में कहा कि पिछले साढ़े तीन साल से रक्षा मंत्री के पद पर रहना मेरे लिए सम्मान की बात थी। मेरे पास कुछ नहीं है बल्कि उन पु और महिलाओं के पेशे, बहादुरी और सेवा की सराहना करता हूं जो हमें सुरक्षित रखते हैं।"

advertisement