विवादों का राफेल / फ्रांस छह देशों को बेच चुका यह लड़ाकू विमान, भारत को 25% छूट का दावा     |       राहुल गांधी पर वसुंधरा का पलटवार, कहा- ना अच्छा आचार ना विचार     |       जेट एयरवेज की फ्लाइट में कान-नाक से बहा था खून, अब यात्री ने 30 लाख रुपये का मुआवजा मांगा     |       NewsWrap: मायावती ने अजीत जोगी के साथ किया गठबंधन, पढ़ें बड़ी खबरें     |       शहादत / शहीद नरेंद्र सिंह को दी गई अंतिम विदाई, पत्नी बोली-बेटे को लेफ्टिनेंट बनाऊंगी, बदला जो लेना है     |       शिवसेना लोगों को पेट्रोल और डीजल के लिए लोन देकर करेगी विरोध प्रदर्शन     |       आवाज़ अड्डा: बाहरी दुनिया से संघ का संवाद, मुसलमानों को संदेश     |       इमरान की चिट्ठी पर भारत का जवाब- मुलाकात को तैयार, पर ये बातचीत की शुरुआत नहीं     |       रेप पर दिया विवादित बयान तो स्वाति मालीवाल ने अपने पति को ही घेरा, कहा- बोलते वक्त सावधानी बरतें     |       हेमराज की पत्नी बोलीं- पाकिस्तान के दस सैनिकों का सिर काटकर लाओ     |       ट्रेन में मोदी / वर्ल्ड क्लास कन्वेंशन सेंटर का शिलान्यास करने मेट्रो से गए, मेट्रो से ही लौटे     |       रक्षक बना भक्षक / दिल्ली पुलिस की सिक्योरिटी यूनिट में तैनात एसीपी पर दुष्कर्म का केस     |       प्रेस रिव्यू: यूनिवर्सिटियां 29 सितंबर को 'सर्जिकल डे' मनाएंगी     |       कैबिनेट का फैसला / तीन तलाक देने पर 3 साल जेल, मोदी सरकार के अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी     |       दैनिक राशिफल 21 सितंबर 2018 : मेष राशि वाले... जिंदगी का कोई बड़ा फैसला आज न लें     |       छोटे समय की बचत योजनाओं की ब्‍याज दरें बढ़ीं, जानिए आपको होगा कितना फायदा     |       भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में SC में हुई तीखी बहस !     |       भारत की अर्थव्यवस्था 2022 तक 5000 अरब डॉलर की होगी : PM मोदी     |       सीएम योगी की सुरक्षा में बड़ी चूक, ड्राइवर के सूझबूझ से टला हादसा     |       बरेली में बोले प्रवीण तोगड़िया- राम को धोखा देकर भाजपाई मुस्लिम बीवियों के वकील बन गए     |      

गपशप


योगी का मीडिया योग

योगी को तब आश्चर्य हुआ जब उन्होंने देखा कि कई पत्रकारों के तो संभ्रांत कॉलोनियों में आलीशान कोठियां हैं, जिन्हें उन्होंने मोटे किराए पर चढ़ा रखा है।


up-cm-yogi-adityanath-government-house-media-lucknow

यूपी में अखिलेश और मायावती राज में पत्रकारों की पौ-बारह थी। पर मौजूदा योगी सरकार में पत्रकारों की हालत खस्ता हो गई है। योगी ने न सिर्फ महज सरकारी विज्ञापनों के लिए कुकरमुत्तों की तरह राज्य में उग आए गिनती के छपने वाले पत्र-पत्रिकाओं को अपनी सरकार के विज्ञापन देने बंद कर दिए हैं। इसके अलावा योगी ने राज्य के वैसे पत्रकारों की पूरी लिस्ट निकाल ली है जिनका लखनऊ में अपना घर है, बावजूद वे वर्षों से सरकारी कोटे के घरों में कुंडली मारे बैठे हैं। योगी को तब आश्चर्य हुआ जब उन्होंने देखा कि कई पत्रकारों के तो संभ्रांत कॉलोनियों में आलीशान कोठियां हैं, जिन्हें उन्होंने मोटे किराए पर चढ़ा रखा है। एक पत्रकार ने तो अपना घर एक बैंक को लीज कर रखा है जहां से उन्हें महीने के साढ़े तीन लाख रुपए मिल रहे हैं, तो कईओं ने अपने घर स्पॉ और रेस्टोरेंट चलाने के लिए किराए पर दे रखे हैं। ऐसे पत्रकारों से सरकारी घर खाली कराए जा रहे हैं, अधाए-खाए-बुढ़ाए कई वरिष्ठ पत्रकार राज्य की योगी सरकार से बेतरह नाराज़ हैं, उनकी कलम आग उगल रही है, और वे पानी-पानी हैं।

advertisement

  • संबंधित खबरें