GST काउंसिल बैठक : टैक्‍स फ्री हुआ सैनेटरी नैपकिन, फ्रिज-टीवी समेत इन पर राहत     |       JK: कॉन्स्टेबल की अगवा कर आतंकियों ने की हत्या, 2 माह में तीसरा मामला     |       TMC की रैली पर BJP का पलटवार, ममता को पीएम बनने का सपना देखना बंद कर देना चाहिए     |       बाबा अमरपुरी के कुकर्मों की शिकार महिला आई सामने, सुनाई आपबीती     |       केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल बोले- PM मोदी की लोकप्रियता के साथ बढ़ रही है मॉब लिंचिंग     |       'दल दल' अधिक हो गया है, अब तो अधिक कमल खिलेगा : नरेंद्र मोदी     |       मोरनी महादरिंदगी मामला: गेस्ट हाउस परिसर में मिला आपत्तिजनक सामान, फोरेंसिक टीम कर रही जांच     |       1968 के विमान हादसे में मृत सैनिक का शव हिमाचल में मिला, 50 साल से ढूंढे जा रहे 102 शव; अब तक 6 मिले     |       हैदराबाद में जन्मी दक्षिण पूर्व एशिया की सबसे छोटी बच्ची     |       फतवा जारी करने वालों से मुझे जान का खतरा, पीएम मोदी से मांगूंगी मदद : निदा खान     |       अमित शाह की नेताओं की नसीहत, अहंकार छोड़ो और कार्यकर्ताओं की सुध लो     |       सावधान! सरकारी बैंकों का ATM यूज करते हैं तो यह खबर जरूर पढ़ लें     |       राजस्थानः 7 माह की बच्ची से दुष्कर्म के दोषी को फांसी की सजा     |       उत्तराखंड में भारी बारिश की चेतावनी, अलर्ट     |       सहायक लोको पायलट एप्लीकेशन स्टेटस आज रात तक देख सकेंगे अभ्यर्थी, परीक्षा अगस्त या सितंबर में     |       एटीएम में 100 रुपये के नए नोट डालने पर आएगा 100 करोड़ का खर्चा     |       SBI Clerk Result 2018: sbi.co.in पर 22 जुलाई को जारी हो सकता है र‍िजल्‍ट, Update के लि‍ए यहां बनाए रखें नजर     |       रवांडा के राष्‍ट्रपति को 200 गाय तोहफे में देंगे पीएम मोदी, 23 को जाएंगे दौरे पर     |       कपिल सिब्बल ने राहुल गांधी की 'झप्पी' पर कविता के रूप में रखी 'मन की बात'     |       सावन में भगवान शिव को अर्पित करें ये 8 फूल होंगे कई लाभ     |      

राज्य


ऑनलाइन जानकारी न देने वाले मदरसों की मान्यता रद्द करेगी यूपी सरकार

गौरतलब  है कि शिक्षा परिषद ने मदरसों में फर्जीवाड़े पर लगाम लगाने के लिए वेब पोर्टल की शुरुआत की थी। इस वेबसाइट पर सभी 19143 मदरसों को अपना विवरण अपलोड करना था।


up-government-cancel-madrasas-recognition-who-not-provide-information-online

लखनऊः यूपी में मदरसा बोर्ड से जुड़े 2682 मदरसों की मान्यता रद्द करने की योजना सरकार ने बनाई है। हालांकि सरकार ने मदरसों को अपनी जानकारी ऑनलाइन करने के निर्देश दिए थे, जिसे मदरसों ने तय समय सीमा के भीतर पूरा नहीं किया। इसलिए सरकार ने 2682 मदरसों की मान्यता रद्द करने का फैसला लिया है। वहीं एक अधिकारी ने बताया कि मदरसों को ऑनलाइन विवरण अपलोड करने की अंतिम तारीख रविवार थी।उन्होंने कहा कि वेब पोर्टल पर विवरण अपलोड करने वाले 16461 मदरसों की मान्यता बरकरार रहेगी और उन्हें अनुदान का हक होगा, लेकिन जिन्होंने अपनी जानकारी पोर्टल पर नहीं दी है उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब  है कि शिक्षा परिषद ने मदरसों में फर्जीवाड़े पर लगाम लगाने के लिए वेब पोर्टल की शुरुआत की थी। इस वेबसाइट पर सभी 19143 मदरसों को अपना विवरण अपलोड करना था। इसमें शिक्षक, अन्य स्टाफ, छात्रों के विवरण के अलावा भवन की फोटो, कक्षा का माप और दूसरी जानकारियां भी शामिल थीं। हालांकि मदरसा बोर्ड ने विवरण अपलोड करने की तिथि को दो बार बढ़ाया। पहले इसकी अंतिम तिथि 15 सितंबर थी, जिसे बढ़ाकर 30 सितंबर किया गया और फिर 15 अक्टूबर। इसके बावजूद 16, 461 मदरसों ने ही अपना विवरण साइट पर अपलोड किया है।

मदरसा बोर्ड के रजिस्ट्रार राहुल गुप्ता ने बताया कि जिन मदरसों ने पोर्टल पर अपना विवरण अपलोड कर दिया है, उनकी मान्यता बरकरार रहेगी। बाकी बचे मदरसों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अंतिम तिथि तक कुल 32,483 शिक्षकों का डाटा आधार लिंक के साथ अपलोड हो चुका है।

advertisement