राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति का बड़ा खुलासा, भारत सरकार ने ही दिया था रिलायंस का नाम, 10 बातें     |       कश्मीर में आतंकियों ने तीन पुलिसकर्मियों को अगवा कर की हत्या     |       पीएम नरेंद्र मोदी आज ओडिशा और छत्तीसगढ़ में कई परियोजनाएं शुरू करेंगे     |       Asia Cup: दुबई में चमके रोहित-जडेजा, भारत ने बांग्लादेश को 7 विकेट से हराया     |       कांग्रेस ने अलीगढ़ में पुलिस मुठभेड़ पर उठाये सवाल, कहा- सबकुछ स्क्रिप्टेड था     |       कांग्रेस का बड़ा आरोप, अस्पताल से धमका रहे CM मनोहर पर्रिकर     |       SC-ST एक्ट के खिलाफ पटना में सड़कों पर उतरे सवर्ण, पुलिस ने भांजी लाठियां, कई घायल     |       'नन' के साथ रेप करने के आरोपी 'बिशप' को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |       बिहार कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बने तो छलका कादरी का दर्द, बोले- झाड़ू भी लगा लूंगा     |       इटली / ईशा अंबानी-आनंद पीरामल की सगाई पार्टी, 23 सितंबर तक चलेंगे कार्यक्रम     |       सर्जिकल स्ट्राइक दिवस पर बोली कांग्रेस सांसद- 'कृपया ऐसा मजाक न करें'     |       मक्का मस्जिद विस्फोट के जज BJP में शामिल होने के इच्छुक, बताया- एकमात्र देशभक्त पार्टी     |       रूस से रक्षा सौदा / अमेरिका ने चीन पर प्रतिबंध लगाया, कहा- मिसाइल सौदा हुआ तो भारत पर भी कार्रवाई संभव     |       बिहार : ताजिया जुलूस की तैयारी के बीच दो युवकों की हत्या, वैशाली में तनाव     |       राजपाट: अबूझ पहेली     |       राजस्थान : जसवंत सिंह के बेटे की रैली शनिवार को, बगावती तेवर से बीजेपी में बेचैनी     |       गोरखपुर में मोहर्रम जुलूस के दौरान विवाद, भीड़ ने फूंकी पुलिस जीप, दरोगा का सिर फटा     |       वारदात / बदमाशों ने बैंक के 2 गार्डों की सरिया और रॉड से पीट-पीटकर की हत्या, नहीं कर पाए लूट     |       'हम नरभक्षी' नहीं, राज्यों को हमसे डरने की जरूरत नहीं- सुप्रीम कोर्ट     |       चक्रवाती तूफान DAYE ने पार किया ओडिशा का तट, कई इलाकों में भारी बारिश     |      

विदेश


अमेरिकी रक्षा मंत्री ने कहा- ईरान परमाणु समझौता राष्ट्रीय हित में

मैटिस ने मंगलवार को सीनेट में कहा कि  यदि हम यह पुष्टि कर सकते हैं कि ईरान समझौते पर अमल कर रहा है और इसके साथ ही  हम यह निर्धारित कर सकते हैं कि इसमें हमारा सर्वोत्तम हित है तो स्पष्ट रूप से हमें इस समझौते के साथ रहना चाहिए। 


us-defence-secretary-breaks-trump-iran-nuclear-deal

वाशिंगटनः अमेरिका का ईरान और छह विश्व शक्तियों के बीच हुए परमाणु समझौते में बने रहना उसके राष्ट्रीय हित में है। यह बातें अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने कही हैं। हालांकि मैटिस की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ओबामा प्रशासन के दौरान हुए इस समझौते से अलग होने या न होने की उधेड़बुन में लगे हुए हैं। 

मैटिस ने मंगलवार को सीनेट में कहा कि  यदि हम यह पुष्टि कर सकते हैं कि ईरान समझौते पर अमल कर रहा है और इसके साथ ही  हम यह निर्धारित कर सकते हैं कि इसमें हमारा सर्वोत्तम हित है तो स्पष्ट रूप से हमें इस समझौते के साथ रहना चाहिए।  मैटिस का कहना है कि राष्ट्रपति को इस समझौते के साथ बने रहने पर विचार करना चाहिए।

बता दें कि एक दशक तक लंबी वार्ता के बाद ईरान और छह विश्व शक्तियों- अमेरिका, ब्रिटेन, चीन, फ्रांस, जर्मनी और रूस के बीच जुलाई 2015 में यह समझौता हुआ था।  इस समझौते में बने रहना क्या अमेरिका के राष्ट्रीय हित में है, इस बारे में पूछे जाने पर मैटिस ने 'हां' में जवाब दिया। 

मैटिस की यह टिप्पणी संयुक्त राष्ट्र महासभा में पिछले महीने ट्रंप के भाषण से बिलकुल विपरीत प्रतीत हो रही है। ट्रंप ने अपने भाषण में समझौते को उलझन भरा कहा था और इससे अलग होने के संकेत भी दिए थे।  वहीं ईरानी नेताओं ने ट्रंप की टिप्पणी पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था कि ईरान ऐसे शत्रुतापूर्ण शब्दों से नहीं डरने वाला है। 

advertisement