देश के सबसे भारी रॉकेट 'बाहुबली' से जीसैट-29 लॉन्‍च, कश्मीर और नॉर्थ ईस्ट में जीवन करेगा आसान     |       राफेल सौदे पर सभी पक्षों की दलीलें सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित     |       Birthday Special: चीन से हार के बाद जवाहरलाल नेहरू ने क्या कहा था?     |       राजस्‍थान चुनाव: बीजेपी की दूसरी लिस्‍ट में 14 विधायकों, तीन मंत्रियों के टिकट कटे     |       राहुल की हरी झंडी, राजस्थान में गहलोत और सचिन पायलट दोनों लड़ेंगे चुनाव     |       बयान से पलटे शाहिद आफरीदी, कहा- कश्मीर में भारत कर रहा जुल्म     |       टूट गया चौटाला परिवार, जिस इनेलो को खड़ा किया उसी से निकाले गए अजय चौटाला     |       संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसबंर से, क्या राम मंदिर पर कानून लाएगी मोदी सरकार?     |       सिंगापुर / मोदी ने 23 देशों के दो अरब लोगों को जोड़ने वाला बैंकिंग सॉल्यूशन लॉन्च किया     |       1992 जैसी भीड़ उमडऩे की आशंका से इकबाल ने दी अयोध्या से पलायन की चेतावनी     |       शराब नहीं मिली तो विदेशी महिला ने फ्लाइट में किया हंगामा, देखें वीडियो     |       हमलावर: एनडीए में अलग-थलग पड़े उपेन्द्र को सांसद अरुण का साथ     |       अयोध्या-रामेश्वरम की तीर्थयात्रा के लिए रामायण एक्सप्रेस रवाना     |       कमलनाथ ने मुसलमानों से कहा, 'चुनावों तक RSS से सतर्क रहें, बाद में हम देख लेंगे'     |       'पहाड़ों की साफ हवा' की होने लगी होम डिलीवरी, जानिए क्या है रेट     |       डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मनाई दिवाली, ट्वीट में हिंदुओं को ही बधाई देना भूले     |       तृप्ति देसाई का एलान, बोलीं- 17 नवंबर को सबरीमाला मंदिर में करूंगी प्रवेश, सीएम से मांगी सुरक्षा     |       पत्नी से परेशान होकर पति ने किया सुसाइड, लिखा- तू समझ नहीं पाई मेरा प्यार     |       उदीयमान सूर्य को अ‌र्घ्य देकर मांगी अपनों के लिए सुख व समृद्धि     |       देश की पहली इंजनलेस ट्रेन T-18 बनकर तैयार, ट्रायल के बाद इसी वित्तीय वर्ष में दौड़ेगी पटरियों पर     |      

राजनीति


रिजवी ने कहा- यूपी के मंत्री रजा का बयान राम मंदिर निर्माण में बाधा

रिजवी ने कहा कि शिया वक्फ बोर्ड द्वारा अयोध्या स्थित राम मंदिर को लेकर उच्च न्यायालय में मंदिर के पक्ष में जो हलफनामा दाखिल किया गया है, उससे कुछ कट्टरपंथी मुस्लिम संस्थाएं व धर्मगुरु घबराए हुए हैं।


wasim-rizvi-bjp-minister-raza-statement-against-ram-temple

लखनऊः शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने उत्तर प्रदेश के वक्फ राज्यमंत्री मोहसिन रजा पर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में बाधा पहुंचाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि राज्यमंत्री का कहना है कि वर्तमान में शिया वक्फ कुल वक्फों की संख्या से 15 प्रतिशत कम है, इसलिए शिया व सुन्नी दोनों बोर्डो को एक कर दिया जाएगा, जानकारी के अभाव में दिया गया बयान है।

रिजवी ने कहा कि शिया वक्फ बोर्ड द्वारा अयोध्या स्थित राम मंदिर को लेकर उच्च न्यायालय में मंदिर के पक्ष में जो हलफनामा दाखिल किया गया है, उससे कुछ कट्टरपंथी मुस्लिम संस्थाएं व धर्मगुरु घबराए हुए हैं। ये सभी बाबरी मस्जिद के पैरोकार हैं। इसी तरह के कुछ धर्मगुरुओं के संपर्क में वक्फ राज्यमंत्री हैं। उन्होंने कहा कि राज्यमंत्री का ऐसा आपत्तिजनक बयान राम मंदिर के निर्माण में बाधा उत्पन्न करने की साजिश लगती है। राज्यमंत्री रजा पहले भी कम मालूमात होने के कारण अवैधानिक कार्यवाही करके सरकार की किरकिरी करा चुके हैं।

रिजवी ने बताया कि वर्ष 1941 में शिया और सुन्नी वक्फ बोर्ड का अलग-अलग गठन हुआ था। जिस वक्त दोनों बोर्ड बनाए गए थे, उस वक्त शिया वक्फ बोर्ड में पंजीकृत वक्फ प्रदेश के कुल वक्फों से 15 प्रतिशत अधिक थे, जिस कारण प्रदेश में शिया वक्फ बोर्ड का अलग गठन हुआ था और आज तक शिया वक्फ बोर्ड और सुन्नी वक्फ बोर्ड अलग-अलग हैं। रिजवी ने कहा कि वास्तव में वक्फ अधिनियम के अनुसार सिर्फ वक्फ की संख्या को नहीं, बल्कि वक्फों की कुल आय को भी आधार बनाया गया है। प्रदेश के समस्त मुस्लिम वक्फों की कुल आय में शिया वक्फों की 15 प्रतिशत से अधिक आय है, जिस कारण प्रदेश में शिया व सुन्नी वक्फ बोर्ड एक नहीं किए जा सकते। 

उन्होंने बताया कि मौजूदा वक्फ बोर्डो का गठन वर्ष 2015 में पांच वर्ष की कार्य अवधि के लिए किया जा चुका है, जिसका कार्यकाल वर्ष 2020 तक है। वक्फ अधिनियम के अनुसार वक्फ बोर्डो को भंग करने का कोई प्राविधान नहीं है। 

advertisement

  • संबंधित खबरें